--Advertisement--

अररिया लोकसभा, जहानाबाद व भभुआ विधानसभा सीट पर हुए उपचुनाव के नतीजे आज, दांव पर CM नीतीश की प्रतिष्ठा; तेजस्वी का भी टेस्ट

अररिया लोकसभा और जहानाबाद व भभुआ विधानसभा के लिए उपचुनावों का रिजल्ट आज आएगा।

Danik Bhaskar | Mar 14, 2018, 12:30 AM IST
जहानाबाद और अररिया में आरजेडी की जीत के बाद पार्टी कार्यकर्ताओं ने जश्न मनाया। जहानाबाद और अररिया में आरजेडी की जीत के बाद पार्टी कार्यकर्ताओं ने जश्न मनाया।

पटना. बिहार में एक लोकसभा और दो विधानसभा सीट के उपचुनाव के नतीजे बुधवार को आए। लालू यादव की पार्टी आरजेडी को अररिया लोकसभा और जहानाबाद विधानसभा सीट पर जीत मिली। वहीं, भभुआ विधानसभा सीट बीजेपी के खाते में गई। दोनों पार्टी तीनों सीटें अपने पास बरकरार रखने में कामयाब रहीं। इस बार एनडीए और महागठबंधन के बीच सीधा मुकाबला रहा। महागठबंधन से अलग होने वाले मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की प्रतिष्ठा दांव पर थी। 11 मार्च को हुई वोटिंग में अररिया में 61%, जहानाबाद में 57.85% और भभुआ में 59.68 % मतदान हुआ था।

किसने, किसे हराया?

1) अररिया लोकसभा:

- आरजेडी सरफराज आलम को 5,09,334 और बीजेपी के प्रदीप सिंह को 4,47, 346 वोट मिले। आलम ने 61,988 वोट से जीत दर्ज की। ये सीट आरजेडी सांसद तस्लीमुद्दीन के निधन के बाद खाली हुई थी। उन्होंने 2014 में बीजेपी के प्रदीप कुमार सिंह को हराया था।

2014 में वोट शेयर:

पार्टी उम्मीदवार वोट शेयर 2018 में उम्मीदवार
आरजेडी तस्लीमुद्दीन 41.81% सरफराज आलम
बीजेपी प्रदीप कुमार सिंह 26.80% प्रदीप कुमार सिंह
जेडीयू विजय कुमार मंडल 22.73% उम्मीदवार नहीं उतारा

2) जहानाबाद:

- आरजेडी के सुदय यादव ने जेडीयू के अभिराम शर्मा को 30 हजार से ज्यादा वोट से हराया। आरजेडी विधायक मुद्रिका सिंह यादव के निधन के बाद खाली हुई थी। उन्होंने 2015 में रालोसपा के प्रवीन कुमार को हराया था।

2015 में वोट शेयर:

पार्टी उम्मीदवार वोट शेयर 2018 में उम्मीदवार
आरजेडी मुंद्रिका सिंह यादव 52.85% कुमार कृष्ण उर्फ सुदय यादव
रालोसपा प्रवीन कुमार 31.89% उम्मीदवार नहीं उतारा
जेडीयू उम्मीदवार नहीं उतारा - अभिराम शर्मा

3) भभुआ:

- बीजेपी की रिंकी रानी पांडेय ने कांग्रेस के शंभु सिंह पटेल को करीब 14 हजार वोट से हराया। बीजेपी के विधायक आनंद भूषण पांडेय के निधन के बाद खाली हुई थी। पांडेय ने जेडीयू के डॉक्टर प्रमोद कुमार सिंह को शिकस्त दी थी।

2015 में वोट शेयर:

पार्टी उम्मीदवार वोट शेयर 2018 में उम्मीदवार
बीजेपी आनंदभूषण पांडेय 34.74 % रिंकी रानी पांडेय
जेडीयू डॉक्टर प्रमोद कुमार सिंह 29.44% उम्मीदवार नहीं उतारा

इस रिजल्ट के क्या मायने हैं?
- 2014 के लोकसभा चुनावों में नरेंद्र मोदी की अगुवाई में बीजेपी ने बिहार में 22 सीट (जेडीयू को 2 सीट मिली थीं) जीती थीं। मौजूदा वक्त में नीतीश के साथ आ जाने से माना जा रहा था कि बीजेपी और जेडीयू का गठबंधन आरजेडी पर भारी पड़ सकता है, लेकिन ऐसा नहीं हुआ। आरजेडी अपनी अररिया लोकसभा सीट बचाने में कामयाब रही है।

- यही नहीं आरजेडी ने जहानाबाद और भभुआ में भी बीजेपी-जेडीयू गठबंधन को कड़ी चुनौती दी है। बीजेपी भभुआ विधानसभा सीट बचाने में कामयाब रही है। उधर, जहानाबाद में बीजेपी-जदयू गठबंधन को करारी हार का सामना करना पड़ा है।

तेजस्वी बोले- ये लालू की जीत है

- आरजेडी नेता तेजस्वी यादव ने कहा, ''जो लोग कहते हैं कि लालू जी खत्म हो गए हैं। आज हम उनको कह सकते हैं कि लालू यादव एक विचारधारा का नाम है। बिहार की जनता और जीतन राम मांझी जी को इस जीत के लिए धन्यवाद देता हूं।''
- जीतन राम मांझी ने कहा, ''बीजेपी को अपने चेहरों की बजाय लोगों के बीच आकर काम करना चाहिए। उनके पास खुद को साबित करने का सिर्फ यही एक रास्ता है, बरना 2019 के लोकसभा चुनाव में भी यही नतीजा देखना होगा।''