--Advertisement--

बिहार में शीतलहर : पटना का पारा 4.7 डिग्री पहुंचा, 10 जनवरी तक राहत नहीं

7 जनवरी से हवा का रुख पूर्वी होने की संभावना है। इस कारण बंगाल की खाड़ी से आने वाली गर्म हवाओं के कारण कोहरा घना होगा।

Danik Bhaskar | Jan 06, 2018, 04:34 AM IST
पटना, गया, फारबिसगंज, पूर्णिया, भागलपुर  में विजिबिलिटी 50 मीटर पर पहुंच जा रही है। पटना, गया, फारबिसगंज, पूर्णिया, भागलपुर में विजिबिलिटी 50 मीटर पर पहुंच जा रही है।

पटना. राजधानी समेत पूरा बिहार शीतलहर की चपेट में आ चुका है। बर्फीली हवाओं से कनकनी तीखी होती जा रही है। लोग घरों में दुबके हैं। पछुआ हवा 8 से 10 किमी प्रति घंटे पर पहुंच चुकी है। पटना समेत ज्यादातर शहरों का न्यूनतम पारा सामान्य से 3 से 7 डिग्री तक नीचे गिर गया है।


शुक्रवार को पटना का अधिकतम पारा सामान्य से 9 डिग्री नीचे 12.9 और न्यूनतम 5 डिग्री नीचे 4.7 रिकॉर्ड किया गया। 3.8 डिग्री के साथ गया सबसे ठंडा रहा। राज्य में शीतलहर के साथ कोहरे का कहर भी जारी है। विजिबिलिटी 50 मीटर तक पहुंच जा रही है। रेल व सड़क यातायात पर बुरा असर है। खराब मौसम के चलते मुख्यमंत्री की विकास समीक्षा यात्रा में शामिल होने शुक्रवार को हेलिकॉप्टर से सुपौल जा रहे मुख्य सचिव अंजनी कुमार सिंह को वापस लौटना पड़ा।

7 से बढ़ेगा कोहरा, 10 के बाद हल्की राहत

7 जनवरी से हवा का रुख पूर्वी होने की संभावना है। इस कारण बंगाल की खाड़ी से आने वाली गर्म हवाओं के कारण कोहरा घना होगा। इस कारण न्यूनतम तापमान (रात) में बढ़ोतरी होगी। तापमान के 7 से 9 डिग्री पर पहुंचने से कनकनी घटेगी। कोहरे के चलते दिन का तापमान भी 17 से 19 डिग्री पर पहुंचने की संभावना है। इसके चलते 10 जनवरी के बाद ठंड से हल्की राहत मिलने लगेगी।

क्यों हो रहा ऐसा

सुबह में चल रही उत्तरी हवा नेपाल के रास्ते बर्फीली ठंडक ला रही है। उत्तराखंड और हिमाचल में हुई जोरदार बर्फबारी का असर पूरे बिहार पर दिख रहा है। इसी तरह पश्चिमी हवा यूपी की ओर से ठंडक ला रही है। शीतलहर को लेकर मौसम विभाग पहले ही अलर्ट जारी कर चुका है।

कोहरे के चलते 11 ट्रेनें रद्द


कोहरे से शुक्रवार को दानापुर मंडल में राजधानी एक्सप्रेस, तूफान, महानंदा, जनसाधारण, पटना-कोटा, लोकमान्य तिलक, बिक्रमशिला सहित 11 ट्रेनें रद्द रहीं। विमानों के लेट होने से पटना एयरपोर्ट पर तय समय में अधिक विमानों का दबाव हो गया है। यहां 4 विमान ही पार्क हो सकते हैं। जबकि 26 का आना-जाना हो रहा है।

लैंडिग के इंतजार में आसमान में एक साथ चक्कर लगाते रहे सात विमान


पटना एयरपोर्ट रनवे पर उतरने के इंतजार में एक साथ आसमान में सात विमान चक्कर लगाते रहा। एक तरफ एयरपोर्ट टर्मिनल बिल्डिंग के अंदर और बाहर विमान आने के इंतजार में यात्रियों का रेला रहा तो दूसरी तरफ रनवे पर उतरने के इंतजार में आसमान में विमान चक्कर पर चक्कर मारते रहा। पार्किंग खाली हुआ तो एक एक कर सभी 26 विमान पटना एयरपोर्ट पर उतरे। दरअसल कोहरे में विमानों के विलंब होने के कारण एक निश्चित समय में अधिक विमानों का दबाव पटना एयरपोर्ट पर हो गया। पटना एयरपोर्ट पर चार विमानों के लिए पार्किंग की व्यवस्था है जबकि यहां वर्तमान में 26 विमानों का आना-जाना हो रहा है। ऐसी स्थिति में विमानों के विलंब होने पर विमानों को उतरने के लिए पार्किंग खाली होने के इंतजार में आसमान में चक्कर लगाना पड़ता है। हालांकि शुक्रवार को पटना एयरपोर्ट से एक भी विमान डायवर्ट नहीं हुआ और न ही कोई विमान कैंसिल रहा।


पटना एयरपोर्ट पर पहला विमान दोपहर 1.35 बजे दिल्ली से आने वाला एयर इंडिया एआई 409 विमान उतरा। इस विमान का पटना आगमन दोपहर 12 बजे है, जबकि यह एक घंटा 35 मिनट विलंब से पटना पहुंचा। वहीं सबसे अधिक विलंब से जेट एयरवेज का दिल्ली से आने वाला विमान 9 डब्ल्यू 727 करीब चार घंटे विलंब से शाम 4.57 बजे उतरा।

राजधानी एक्सप्रेस सहित 11 ट्रेनें रद्द

पटना | कोहरे के कारण शुक्रवार को दानापुर रेल मंडल के राजधानी एक्सप्रेस, तूफान एक्सप्रेस, महानंदा एक्सप्रेस, जनसाधारण एक्सप्रेस, पटना-कोटा एक्सप्रेस, राजेन्द्र नगर लोकमान्य तिलक, बिक्रमशिला एक्सप्रेस सहित 11 ट्रेन रद्द कर दी गईं। साथ ही पटना-हटिया एक्सप्रेस, पटना-कटिहार इंटरसिटी, मगध एक्सप्रेस को रिशिड्यूल करके परिचालन किया गया। पटना से होकर चलने वाली 22 ट्रेनें 10 से 32 घंटे विलंब से चल रही हैं।

ठंड में बच्चे और बुजुर्ग बरतें सावधानी

कड़ाके के इस ठंड में बच्चों, बुजुर्ग और बाइकर्स को बचाव करना जरूरी है। नहीं तो लकवा के शिकार होने की संभावना बढ़ जाएगी। हॉर्ट, बीपी और शुगर के मरीज को इस मौसम में खास ध्यान रखना चाहिए और नियमित जांच कराते रहना चाहिए। उच्च रक्तचाप के मरीज इस मौसम में लकवा शिकार हो जाते हैं। ऐसे में उन्हें तुरंत पास के अस्पताल में जाना चाहिए। यह जानकारी साई हेल्थ केयर वेलनेस सेंटर के डॉ. राजीव कुमार सिंह ने दी। उन्होंने कहा हर वर्ग के महिला-पुरुष दर्द की शिकायत से परेशान हैं। इससे निजात दिलाने के लिए सेंटर नई व्यवस्था की गई है जो स्वास्थ्य के क्षेत्र में क्रांति है।

पटना के आसमान में चक्कर लगाते विमानों की सेटेलाइट तस्वीर। पटना के आसमान में चक्कर लगाते विमानों की सेटेलाइट तस्वीर।
एयरपोर्ट पर इंतजार करते यात्री। एयरपोर्ट पर इंतजार करते यात्री।