--Advertisement--

चापाकल पर पानी लेने पहुंची बच्ची, जबर्दस्ती उठा स्कूल के पीछे ले गए चार बदमाश

सुबह पीड़ित लड़की के परिजनों ने एक आरोपी युवक को पकड़ लिया और उसकी जमकर पिटाई भी कर दी।

Danik Bhaskar | Feb 02, 2018, 04:34 AM IST
सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस के खिलाफ भी जमकर नारेबाजी शुरू कर दी। सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस के खिलाफ भी जमकर नारेबाजी शुरू कर दी।

जहानाबाद (बिहार). यहां के एक गांव में बुधवार की देर शाम चार बदमाशों ने एक बच्ची को गैंगरेप की नीयत से जबरन उठा लिया जब वह घर से बाहर चापाकल पर पानी लेने गई थी। बच्ची की चीख सुन कर गांव के लोगों के पहुंचने के बाद बदमाश निकल भागे। इधर, घटना से गुस्साए लोगों ने गुरुवार को जहानाबाद-अरवल एनएच 110 को जाम कर जबर्दस्त हंगामा किया।


पुलिस के खिलाफ की नारेबाजी

- आक्रोशित लोगों ने गुरुवार की सुबह सड़क पर टायर जला कर विरोध-प्रदर्शन शुरू कर दिया। सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस के खिलाफ भी जमकर नारेबाजी शुरू कर दी।

- पुलिस ने समझाने-बुझाने की कोशिश की तो एक समूह यह आरोप लगाते हुए पुलिस के खिलाफ हमलावर हो गया कि पुलिस यहां दारू कारोबार को बंद नहीं करा रही है।

- इसी की वजह से गांव की बहु बेटियों की इज्जत पर पियक्कड़ हमला बोल रहे हैं। इसके बाद उन्होंने नारेबाजी शुरू कर दी। देखते ही देखते कुछ लोगों ने पुलिस पर रोड़ेबाजी शुरू कर दी।

- बचाव में पुलिस ने भी रुख कड़ा करते हुए जमकर लाठियां भांजीं। मौके पर भगदड़ की स्थिति कायम हो गई। लगभग डेढ़ घंटे तक बीच सड़क पर तमाशा होता रहा और सुबह-सुबह माहौल एकदम गरम होता रहा। रोड़ेबाजी में कई पुलिस वालों को चोटें भी आई हैं।

चार युवकों के खिलाफ नामजद प्राथमिकी दर्ज

- इधर मौके पर पहुंचे टाउन इंस्पेक्टर एसके शाही ने बताया कि पुलिस भीड़ को शांत कराने पहुंची थी कि कुछ असामाजिक तत्वों ने पुलिस के साथ ही बदसलूकी शुरू कर दी।

- इसके बाद कुछ ने पुलिस पर पत्थर भी फेंकना शुरू कर दिया। आखिरकार पुलिस को हल्का बल प्रयोग करना पड़ा जिसके बाद स्थिति को काबू में कर लिया गया।

- बाद में एक आरोपी युवक सोनू मांझी को पकड़ कर थाने लाया गया है। बाद में पीड़ित लड़की के बयान पर यहां महिला थाने में गांव के चार युवकों सोनू, उपेंद्र, बबलू और लक्ष्मण के खिलाफ नामजद प्राथमिकी दर्ज कराई गई है। - सोनू के अलावा तीन अन्य पुलिस की पकड़ से बाहर फरार हो गए हैं। इंस्पेक्टर के अनुसार पुलिस के साथ बदसलूकी और बवाल खड़ा करने के मामले में भी प्राथमिकी दर्ज कर दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

चापाकल पर पानी लेने पहुंची थी बच्ची


- स्थानीय लोगों ने बताया कि बुधवार की देर शाम एक 12 साल की बच्ची को गांव के ही चार बदमाशों ने तब जबरन उठा लिया, जब वह चापाकल पर अकेले पानी लेने गई थी।

- उठाने के बाद लड़की को रोड के दक्षिण पास के एक स्कूल के पीछे ले जाकर गैंगरेप करने की कोशिश भी की गई लेकिन लड़की के चिल्लाने की वजह से गांव के लोग मौके पर जुट गए और चारों आरोपी वहां से फरार हो गए।

- सुबह पीड़ित लड़की के परिजनों ने एक आरोपी युवक को पकड़ लिया और उसकी जमकर पिटाई भी कर दी। आरोपियों के खिलाफ गांव में एक माहौल बन गया और आक्रोशित लोगों ने सड़क जाम कर हंगामा शुरू कर दिया।

पुलिस ने समझाने-बुझाने की कोशिश की। पुलिस ने समझाने-बुझाने की कोशिश की।
एक समूह यह आरोप लगाते हुए पुलिस के खिलाफ हमलावर हो गया कि पुलिस यहां दारू कारोबार को बंद नहीं करा रही है। एक समूह यह आरोप लगाते हुए पुलिस के खिलाफ हमलावर हो गया कि पुलिस यहां दारू कारोबार को बंद नहीं करा रही है।
मौके पर भारी पुलिस बल तैनात था। मौके पर भारी पुलिस बल तैनात था।
पुलिस हालात को देखकर सक्रिय हो गई। पुलिस हालात को देखकर सक्रिय हो गई।
लोगों ने प्रदर्शन करते हुए टायर में आग लगा दी। लोगों ने प्रदर्शन करते हुए टायर में आग लगा दी।