--Advertisement--

गला काटकर महिला की हत्या, तीन दिन से झाड़ियों में थी डेडबॉडी, बदबू से खुलासा

महिला के मांग में सिंदूर का अंश था, जिससे अंदेशा जताया जा रहा है कि वह विवाहिता है।

Danik Bhaskar | Dec 17, 2017, 06:04 AM IST

बिहारशरीफ/राजगीर. राजगीर थाना एरिया के जयप्रकाश उद्यान के समीप झाड़ी में धारदार हथियार से एक महिला की गला काटकर हत्या कर दी गई। शव से इलाके में बदबू फैल गई थी, जिसके आधार पर पुलिस ने शनिवार की सुबह अज्ञात 35 वर्षीया महिला का शव बरामद किया। पर्यटक स्थल में महिला के हत्या की खबर से इलाके में सनसनी फैल गई। दर्जनों स्थानीय लोग मौके पर जमा हो गए। महिला के मांग में सिंदूर का अंश था, जिससे अंदेशा जताया जा रहा है कि वह विवाहिता है। शव का चेहरे का हिस्सा पूरी तरह सड़ चुका था, उसमें कीड़े थे।


बदमाशों ने गर्दन काटकर महिला को मौत के घाट उतारा था। गर्दन की हडि्डयों भी कटी थी। शव सड़क मार्ग से 20 फीट अंदर जंगल के झाड़ी में था। सदर अस्‍पताल के चिकित्सकों की मानें तो तीन पूर्व महिला की हत्या की गई है। गर्दन के जख्म से कीड़े लगे, जो चेहरे के भाग पर फैल गया। बॉडी भी सड़ रही थी, जिस कारण उसमें सूजन आ गया। अज्ञात शव का पोस्टमार्टम सदर अस्पताल में कराया गया। महिला का शव मिलने के बाद इलाके में अफवाहों का बाजार भी गर्म है। घटना के संबंध में लोग अनेकों तरह का कयास लगा रहे हैं।

शव गश्ती पुलिस को भनक नहीं
शव देख सदर अस्पताल के चिकित्सक अंदेशा व्यक्त कर रहे हैं कि तीन दिन पहले हत्या की गई है। आश्चर्य तो यह है कि लगातार गश्ती का दावा करने वाली पुलिस को इसकी भनक तक नहीं लगी। शव की बदबू इलाके में फैली तो पुलिस को घटना की भनक लगी।

महिला का पहचान के लिए नहीं मिला दस्तावेज
पर्यटक स्थल में महिला की हत्या की भनक लगने के बाद पुलिस महकमें में हड़कंप मच गया। आनन-फानन में पुलिस मौके पर पहुंचकर शव को कब्जे में ली और उसे पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। मौके से किसी तरह का हथियार या पहचान से संबंधित दस्तावेज बरामद नहीं हो सका।

राजगीर में लगातार वारदात से पुलिस मुश्तैदी पर सवाल

पर्यटक सीजन की शुरूआत के साथ ही राजगीर में लगातार वारदात हो रही है। एक सप्ताह पूर्व तांगा चालकों द्वारा छत्तीसगढ़ के पर्यटकों को सड़क पर दौड़ा-दौड़ाकर पीटा गया। पिटाई के दौरान मुश्तैदी का दावा करने वाली पुलिस मौके पर नहीं पहुंच सकी। इलाके में लूट व डकैटी भी जारी है। दो दिन पूर्व पावाडीह गांव में बुजुर्ग किसान की चाकू गोदकर हत्या कर दी गई। लगातार हो रही वारदात से नगरवासी पुलिस मुश्तैदी पर सवाल उठा रहे हैं। इलाके में चोरी तो आम हो गई है। वारदात से आने वाले देसी-विदेशी पर्यटकों में भी गलत मैसेज जा रहा है। इलाके के चर्चित पर्यटक स्थलों पर भी पुलिस की तैनाती यदाकदा दिखती है। शाम ढलते ही पर्यटक स्थल वीरान हो जाता है। कई स्थल पर तो लाइटिंग की भी व्यवस्था नहीं है।

अन्यत्र हुई हत्या, जांच शुरू
थानाध्यक्ष उदय शंकर ने बताया कि पुलिस मामले की जांच में जुट गई है। महिला की अन्यत्र कहीं हत्या कर साक्ष्य छुपाने के इरादे से शव को फेंका गया है। आस-पास के झाड़ियों की तलाशी ली गई। मौके से किसी तरह का साक्ष्य नहीं मिला।

सीसीटीवी फुटेज की हो रही जांच
^राजगीर डीएसपी संजय कुमार ने बताया कि मौके पर हत्या के साक्ष्य नहीं मिले है। दूसरे स्थान से शव को लाकर फेंका गया है। पुलिस इलाके के सीसीटीवी फुटेज की जांच कर रही है। जल्द ही घटना का खुलासा कर लिया जाएगा।
संजय कुमार, राजगीर डीएसपी