--Advertisement--

यहां पैसेंजर्स से भरे ऑटो और ट्रक में हुई भयानक टक्कर, ऐसे फंसी रही डेडबॉडी

टक्कर इतनी जोरदार थी कि टेम्पो किसी डिब्बे की तरह जम्प करने के बाद उल्टी दिशा की ओर घुम गई।

Danik Bhaskar | Feb 03, 2018, 08:14 AM IST

बेगूसराय. यहां के थाना एरिया में शुक्रवार की सुबह भाग्य नारायण कन्या कॉलेज बरौनी के समीप यात्रियों से भरी टेम्पो को ट्रक ने सीधी टक्कर मार दी। जिससे टेम्पो पर सवार दो यात्रियों की मौत घटना स्थल पर ही हो गई। वहीं सात यात्री गंभीर रूप से घायल हो गए। घायलों में एक की मौत इलाज के दौरान हो गई। इधर घटना के बाद ट्रक ड्राइवर ट्रक छोडकर फरार हो गया। घटना को देखकर स्थानीय लोगों ने घायलों और मृत यात्रियों को तेघड़ा पीएचसी भेज दिया।

मिली जानकारी के मुताबिक टेम्पो यात्रियों को लेकर तेघड़ा से बरौनी स्टेशन जा रही थी। इसी दौरान तेघड़ा-बरौनी पथ पर भाग्य नारायण कन्या महाविद्यालय बरौनी के समीप विपरीत दिशा बरौनी की ओर से आ रहे ट्रक ने यात्रियों से भरी टेम्पो को जोरदार टक्कर मार दी। टेम्पो किसी डिब्बे की तरह जम्प करने के बाद उल्टी दिशा की ओर घुम गई। यात्री इधर-उधर बिखर गए। यात्रियों की चीख-पुकार शुरू हो गई।

ये हैं मृतक व घायल


मृतकों में वीरपुर थाना क्षेत्र के जगदर निवासी रामप्रताप साह का 35 वर्षीय पुत्र सुरेश साह एवं तेघड़ा नगर पंचायत के वार्ड नंबर 13 बजलपुरा निवासी स्व गांगो भगत की पत्नी 35 वर्षीया पूनम देवी व बारो का सुजीत कुमार शामिल हैं। वहीं घायलों में तेघड़ा नगर पंचायत के वार्ड 11 निवासी 45 वर्षीय मो शोहराब और उनकी 40 वर्षीया पत्नी शहनाज खातून एवं 8 वर्षीया पुत्री तसरून खातून के अलावे टेम्पो चालक तेघड़ा निवासी 22 वर्षीय कृष्णा कुमार, रातगांव निवासी अरुण सिंह के 18 वर्षीय पुत्र राजा कुमार शामिल हैं।

घटना के एक घंटे बाद पहुंची पुलिस, जबकि थाना मात्र 500 मीटर की दूरी पर ही है


चीख-पुकार की आवाज सुनकर आसपास के स्थानीय लोग घटनास्थल पर पहुंचकर टेम्पो में फंसे यात्रियों को बाहर निकालने के प्रयास में जुट गए। जिसके बाद लोगों ने घटना की सूचना तेघड़ा थाना को दी। हालांकि तेघड़ा पुलिस घटना के करीब एक घंटे के बाद घटना स्थल पर पहुंची जिससे लोगों में रोष भी देखा गया। पुलिस ने टैम्पो में फंसे एक लोगों को भी ग्रामीणों की मदद से निकाल कर तेघड़ा पीएचसी भेज दिया।

आक्रोशित लोगों ने किया तेघड़ा-बरौनी पथ जाम


ट्रक और टेम्पो की टक्कर की घटना के बाद आक्रोशित लोगों ने तेघड़ा-बरौनी पथ को जाम कर दिया और मृतकों के परिजनों को मुआवजा देने की मांग करने लगे। लोगों ने करीब एक घंटे तक सड़क को जाम रखा। लोगों ने मृतकों को मुआवजा और घायलों को 50 हजार रुपए इलाज के लिए देने की मांग पर भी अड़े। सीओ राजीव कुमार ने आपदा की राशि देने की घोषणा की। जिसके बाद लोगों ने जाम हटाया।

बहन की बेटी की शादी में जा रही थी पूनम


मृतका बजलपुरा निवासी 35 वर्षीया पूनम देवी लोगों के घर में रोज फूल पहुंचाती थी। उसी से अपना गुजारा करती थी। शुक्रवार को वह दिल्ली में रहने वाली बहन की बेटी की शादी में शामिल होने जा रही थी। वह बरौनी जंक्शन से ट्रेन पकड़कर दिल्ली जा रही थी। वहीं तेघड़ा नगर पंचायत के वार्ड 11 निवासी 45 वर्षीय मो शोहराब अपनी पत्नी शहनाज खातून एवं पुत्री तसरून खातून के साथ दिल्ली काम करने जा रहे थे।