Hindi News »Bihar »Patna» Declaration Of Conviction Second Case Of Fodder Scam

चारा घोटाला : लालू को 3 साल की सजा तो फौरन बेल, डीपी ओझा और सुखदेव नए आरोपी

3 साल की सजा पर यहीं बेल मिल सकता है। ज्यादा सजा पर हाईकोर्ट जाना पड़ेगा।

Bhaskar News | Last Modified - Jan 03, 2018, 04:08 AM IST

  • चारा घोटाला : लालू को 3 साल की सजा तो फौरन बेल, डीपी ओझा और सुखदेव नए आरोपी
    कोर्ट ने 23 दिसंबर को लालू समेत 16 को दोषी माना। 3 जनवरी को सजा की बात कही।

    रांची/पटना.सीबीआई की विशेष अदालत, चारा घोटाला के दूसरे मामले (आरसी 64 ए/96) में लालू प्रसाद व 15 अन्य आरोपियों की सजा के बिंदु पर बुधवार से सुनवाई करेगी। संभव है इसी दिन सजा हो जाए। इधर, मंगलवार को विशेष जज शिवपाल सिंह ने विजिलेंस के तत्कालीन आईजी डीपी ओझा व देवघर के तत्कालीन डीसी व झारखंड के मौजूदा अपर मुख्य सचिव (वित्त) सुखदेव सिंह को भी आरोपी बनाने का आदेश दिया।


    लालू को 3 साल की सजा मिली तो फौरन बेल

    कोर्ट ने 23 दिसंबर को लालू समेत 16 को दोषी माना। 3 जनवरी को सजा की बात कही। सबको 3 से 7 साल सजा हो सकती है। 3 साल की सजा पर यहीं बेल मिल सकता है। ज्यादा सजा पर हाईकोर्ट जाना पड़ेगा। लालू के वकील, उनकी उम्र (70 वर्ष) व बीमारी दिखा कम सजा देने को कहेंगे। दोषी हैं-जगदीश शर्मा, आरके राणा, महेश प्रसाद, फूलचंद सिंह, बेक जूलियस, डॉ. कृष्ण कु. प्रसाद, एस. भट्टाचार्य, टीएम प्रसाद, सुशील कुमार, सुशील सिन्हा, सुनील गांधी, राजाराम जोशी, गोपीनाथ दास, संजय अग्रवाल व ज्योति झा। इधर, एक मामले में पटना की सीबीआई की विशेष अदालत ने मंगलवार को लालू के खिलाफ पेशी वारंट जारी करने का आदेश दिया।

    मृत 11 आरोपियों की जब्त करें संपत्ति

    विशेष जज ने सीबीआई को आदेश दिया-इस मामले के जिन 11 आरोपियों की मृत्यु हो गई है, उनकी 1990 से अब तक की संपत्ति जब्त करें। गुजर चुके आरोपी हैं-भोलाराम तूफानी, चंद्रदेव प्रसाद वर्मा, शेषमुनि राम, श्याम बिहारी सिन्हा, डॉ. रामराज राम, बृजभूषण प्रसाद, के. अरुमुगम, डॉ. विनय कुमार, महेंद्र प्रसाद, ओम प्रकाश गुप्ता व राजू सिंह।

    डीपी ओझा और सुखदेव सिंह 23 को हाजिर हों

    कोर्ट ने डीपी ओझा व सुखदेव सिंह को समन जारी कर 23 जनवरी को हाजिर होने को कहा। कारवाई सीआरपीसी की धारा 319 के तहत हुई है। इस बीच, लालू के वकील ने घोटाले से जुड़े तीन मामलों में आवेदन देकर आरोपी लालू को न्यायिक हिरासत में लेने का आग्रह किया।

    89 लाख रु. की फर्जी निकासी का है मामला

    यह मामला, देवघर कोषागार से 1990-94 के दौरान हुई 89 लाख रुपए की फर्जी निकासी का है। इससे डॉ. जगन्नाथ मिश्र तथा 5 अन्य आरोपी बरी हो चुके हैं। कुल 34 आरोपी थे। 11 की मौत हुई। 1 एप्रूवर बना। लालू तथा अन्य को वीडियो कांफ्रेंसिंग से सजा सुनाई जा सकती है।

    3 अंक का चक्कर

    चारा घोटाला में लालू के साथ 3 (अंक) का चक्कर है। बुधवार को भी 3 तारीख है। 13 दिसंबर को ट्रायल के बाद 23 को कोर्ट ने लालू को दोषी करार दिया। पहले मामले में लालू, 30 दिसंबर 2013 को दोषी करार दिए गए। 3 अक्टूबर 2013 को 5 साल की सजा हुई।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Patna News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: Declaration Of Conviction Second Case Of Fodder Scam
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Patna

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×