--Advertisement--

बिहार के अपराधियों से तबाह है दिल्ली और हरियाणा पुलिस, 53 भगोड़ों की सूची भेजी

एडीजी मुख्यालय ने भागलपुर आईजी समेत भागलपुर, खगड़िया, जमुई, बेगूसराय, मुंगेर आदि जिलों के एसपी-एसएसपी को इसकी जानकारी दी

Danik Bhaskar | Jan 15, 2018, 04:58 AM IST

भागलपुर. बिहार के अपराधियों ने दिल्ली और हरियाणा पुलिस को परेशान कर रखा है। दिल्ली में भागलपुर की महिलाओं के नौकरानी गैंग का खुलासा होने के बाद वहां की पुलिस ने बिहार से जाने वाले नौकर-नौकरानियों के पुलिस वेरीफिकेशन का निर्देश जारी किया है। नवंबर में भागलपुर की सात महिलाओं को दिल्ली पुलिस ने एक करोड़ के जेवरात के साथ गिरफ्तार किया था, जो नौ घरों में चोरी कर फरार हुई थीं।


वहीं हरियाणा पुलिस ने 53 भगौड़े अपराधियों की सूची जारी की है, जो बिहार के रहने वाले हैं। इसमें पूर्व बिहार के ज्यादातर अपराधी हैं। हरियाणा के हिसार जिले में बिहारी अपराधियों ने सर्वाधिक क्राइम किया है। हरियाणा पुलिस ने बिहार के डीजीपी को पत्र लिखकर बिहारी अपराधियों की गिरफ्तारी का अनुरोध किया है। इन 53 अपराधियों में आठ भागलपुर समेत पूर्व बिहार के अलग-अलग जिलों के हैं।


एडीजी मुख्यालय ने भागलपुर आईजी समेत भागलपुर, खगड़िया, जमुई, बेगूसराय, मुंगेर आदि जिलों के एसपी-एसएसपी को इसकी जानकारी दी है। बिहार के कई अपराधी हिसार जिले में वारदात कर फरार हो चुके हैं। अधिकतर अपराधी जमानत मिलने के बाद पेशी पर नहीं आए। अदालत ने उन्हें भगौड़ा घोषित किया है। ऐसे अपराधियों की सूची तैयार कर संबंधित जिले के पुलिस अधीक्षकों को भेजी गई है। केवल भागलपुर ही नहीं, बिहार के अन्य कई दूसरे शहरों में सूची भेजी है, जिनमें अपराधियों के नाम, आवासीय पता और अपराध की जानकारी का उल्लेख है।

इसका मकसद है कि उन राज्यों की पुलिस की मदद से भगौड़े अपराधियों को पकड़ा जा सके। हिसार समेत हरियाणा के अन्य जिलों में होने वाले वारदात में बिहार की अपराधियों की संलिप्तता को देखते हुए पुलिस ने किरायेदारों के सत्यापन का काम शुरू किया है। ताकि वारदात पर अंकुश लग सके। बिहार के अपराधी ज्यादातर चोरी की वारदात में शामिल रहे हैं। बिहारी अपराधी मजदूर बन कर हरियाणा कमाने जाते हैं और वहां जाकर क्राइम करते हैं।

दिल्ली क्राइम ब्रांच की टीम भागलपुर में मार चुकी है छापा


दिल्ली से पॉश इलाके में चोरी की वारदात में भागलपुर नौकरानी गैंग का खुलासा होने के बाद दिल्ली क्राइम ब्रांच की अलग-अलग टीमें भागलपुर और कहलगांव में छापा मार चुकी है। टीम ने कहलगांव से सरगना रवि साह को भी गिरफ्तार किया है। इससे पहले दिसंबर माह में छापेमारी कर टीम ने दिल्ली से चुराए गए 375 ग्राम सोने के साथ सोनापट्टी के एक युवक अमित को गिरफ्तार किया था। अब टीम को सोनू साह की तलाश है।