Hindi News »Bihar »Patna» E Pay Bills Apply

एक से दूसरे राज्य में सामान की ढुलाई के लिए ई-वे बिल, कारोबारियों ने कहा-असली परीक्षा अाज

बिहार चैंबर ऑफ कॉमर्स के अध्यक्ष पी.के. अग्रवाल बोले-इसका रीयल टेस्ट (असली परख), सोमवार को या इसके एकाध दिन बाद होगी।

Bhaskar News | Last Modified - Apr 02, 2018, 04:49 AM IST

  • एक से दूसरे राज्य में सामान की ढुलाई के लिए ई-वे बिल, कारोबारियों ने कहा-असली परीक्षा अाज

    नई दिल्ली/पटना.एक राज्य से दूसरे राज्य में सामान की ढुलाई के लिए ई-वे बिल रविवार से लागू हो गया। राज्य के भीतर यह सिर्फ कर्नाटक में लागू हुआ है। जीएसटी नेटवर्क के अधिकारियों ने बताया कि पहले दिन बिल जेनरेट करने वाले प्लेटफॉर्म पर कोई दिक्कत नहीं आई। हालांकि सूत्रों के मुताबिक दोपहर एक बजे से तीन बजे तक साइट बंद रही। बिहार चैंबर ऑफ कॉमर्स के अध्यक्ष पी.के. अग्रवाल बोले-इसका रीयल टेस्ट (असली परख), सोमवार को या इसके एकाध दिन बाद होगी। रविवार को कमोबेश सभी सीएनएफ से लेकर होलसेलर संस्थान बंद रहते हैं।


    हेल्प डेस्क :ई वे बिल से संबंधित किसी भी तरह की समस्या के समाधान के लिए 24 घंटे कंट्रोल रूप सह हेल्प डेस्क काम करेगा। वाणिज्य कर विभाग के प्रत्येक अंचल कार्यालय में हेल्पडेस्क की व्यवस्था की गई है। राज्य स्तरीय हेल्पडेस्क फोन नंबर 0612-2233512, 13,14,15,16 और- मोबाइल नंबर 9199273130, 9472457846 है। टॉल फ्री नंबर – 18003456102 है। ई मेल-vattcs.helpdesk@gmail.com पर कर सकते हैं।

    ऑल हरियाणा ट्रक ट्रांसपोर्ट एसोसिएशन के प्रेसिडेंट सुरेश शर्मा ने बताया कि रविवार को 80-90% फैक्ट्रियां बंद रहती हैं। पहले दिन ज्यादा बिल जेनरेट नहीं हुए। वित्त वर्ष के पहले हफ्ते में कारोबार धीमा ही रहता है। ई-वे बिल प्लेटफॉर्म की असली परीक्षा दूसरे हफ्ते में होगी। कहा कि सोमवार को नेटवर्क सही नहीं चला तो ई-वे बिल को टाला जा सकता है।


    बिहार :बिहार चैंबर ऑफ कॉमर्स के अध्यक्ष पीके अग्रवाल बोले-इसकी असली परख)सोमवार को या इसके एकाध दिन बाद होगी। रविवार को सभी सीएनएफ से लेकर होलसेलर संस्थान बंद रहते हैं। बिहार मोटर ट्रांसपोर्ट फेडरेशन के अध्यक्ष उदय शंकर सिंह ने ई-वे बिल के बहुत कम उपयोग की वजह, रविवार का दिन बताया।


    झारखंड :पहले दिन रांची से लगभग 300 बिल जारी हुए। प्रदेश चैंबर के परिवहन उपसमिति के चेयरमैन सुनील सिंह चौहान ने बताया कि पोर्टल की खामियां दूर हो गई हैं। वाणिज्यकर विभाग के रांची जोन के ज्वाइंट कमिश्नर ने बताया कि पोर्टल सही तरीके से काम कर रहा है।

Topics:
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Patna

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×