--Advertisement--

आजादी के 70 साल बाद आज पहली बार बिजली से जगमग होंगे बिहार के 32 गांव

नॉर्थ बिहार के 64 गांव में सोलर से बिजली पहुंचाया जा रहा है। शनिवार तक 51 गांव में बिजली पहुंचाने का काम पूरा हो गया है।

Dainik Bhaskar

Dec 23, 2017, 05:28 AM IST
सहरसा के भेलाही में बना पावर सब स्टेशन। सहरसा के भेलाही में बना पावर सब स्टेशन।

पटना. आजादी के 70 साल बाद बिहार के 32 गांव शनिवार की रात जगमग होंगे। कोई त्योहार नहीं है। लेकिन, इन गांव के लोगों के लिए दीपावली से कम नहीं होगा। आजादी के सात दशक बीत जाने के बाद पहली बार इन गांवों के लोग अपने घरों में बिजली का जलते हुए बल्ब देखेंगे।

छपरा के शीतलपुर ग्रीड से होगी बिजली सप्लाई

इन गांवों में दानापुर ब्लॉक के जाफरपुर, काफरपुर, केदलपुरा, विशनपुर, हरसामनचक, कासिमचक, पतलापुर, हेतनपुर, गंगहरा, शंकरपुर, हैबसपुर, माधोपुर, पानापुर, न्यू पानापुर, नकटा दियारा, दीघवारा ब्लॉक के अखिलपुर, बभनगमा, बाकरपुर, बतरौली, दुधिया, पकउलिया, सालहदी, रामदास चक, सोनपुर ब्लॉक के बनवारी चक, बर्रियरचक, गरीब पट्टी, मिर्जापुर, मोहम्मदपुर, रामदासपुर शामिल हैं। इन गांवों में छपरा जिला स्थित शीतलपुर ग्रिड से 33 केवी फीडर के जरिए बिजली सप्लाई होगी। इसके लिए गंगा नदी में तीन टावर का निर्माण किया गया है। इन टावर के सहारे बिजली का तार दियारा क्षेत्र में पहुंच गया है। लेकिन, अखिलपुर गांव में बन रहा पावर सब स्टेशन तैयार नहीं है। इसको चालू होने में एक से डेढ़ माह का समय और लगेगा।


सीएम नीतीश कुमार के द्वारा 27 दिसंबर तक राज्य के सभी गांवों बिजली पहुंचाने का लक्ष्य निर्धारित किए जाने के बाद साउथ बिहार और नॉर्थ बिहार पावर डिस्ट्रीब्यूशन कंपनी ने दियारा के 32 गांव में बिजली पहुंचाने के लिए नया तरीका ढूंढ निकाला। डिस्ट्रीब्यूशन कंपनी के इंजीनियरों ने 33 केवी फीडर में 11 केवी फीडर का वोल्टेज सप्लाई करने का निर्णय लिया है। यानी, जबतक दियारा के अखिलपुर गांव में बनने वाला पावर सब स्टेशन तैयार नहीं हो जाता तब तक छपरा जिला स्थित शीतलपुर पावर सब स्टेशन से दियारा के गांवों को बिजली सप्लाई की जाएगी। शनिवार को जिन गांवों में बिजली पहुंचेगी उनमें पटना जिला स्थित दानापुर ब्लॉक के 15 गांव, छपरा जिला स्थित दीघवारा ब्लॉक के 8 गांव और सोनपुर ब्लॉक के 9 गांव शामिल हैं। ये गांव गंगा और गंडक के बीच है।

सहरसा के भेलाही में बना सब स्टेशन
सहरसा के भेलाही में सतह जमीन से करीब 32 फीट उंचाई पर पावर सब स्टेशन बनाया गया है। बिजली इंजीनियरों की माने तो यह पावर सब स्टेशन बाढ़ के पानी के उच्चत्तम स्तर से 13 फीट ऊंचा है। इस पावर सब स्टेशन को चार दिन पहले चार्ज कर 17 गांवों में बिजली पहुंचाई गई है। इससे 48 गांवों को बिजली सप्लाई दी जानी है। 25 दिसंबर की रात तक सभी गांवों में बिजली सप्लाई चालू हो जाएगी।

27 दिसंबर तक राज्य के सभी गांव हो जाएंगे जगमग
मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने बिहार स्टेट पावर होल्डिंग कंपनी को 27 दिसंबर तक राज्य के सभी 38 जिलों के 39073 गांव में बिजली पहुंचाने का टारगेट दिया है। इसको हासिल करने के लिए साउथ बिहार और नॉर्थ बिहार पावर डिस्ट्रीब्यूशन कंपनी ने सभी बिजली इंजीनियरों की छुट्टी 27 दिसंबर तक रद्द कर दी है। मई 2018 तक राज्य के सभी 1 लाख 6 हजार टोला में बिजली पहुंचाने का लक्ष्य रखा गया है। इनमें 22 हजार टोला बचा है, जहां बिजली नहीं पहुंची है। वहीं, दिसंबर 2018 तक हर घर बिजली पहुंचाने का लक्ष्य रखा गया है। इन दोनों लक्ष्य को हासिल करने के लिए बिजली कंपनी मुख्यालय द्वारा साप्ताहिक समीक्षा की जा रही है। लेकिन, नए साल से प्रतिदिन समीक्षा करने का निर्णय लिया गया है।

64 गांवों में सोलर से पहुंचाई बिजली
नॉर्थ बिहार के 64 गांव में सोलर से बिजली पहुंचाया जा रहा है। शनिवार तक 51 गांव में बिजली पहुंचाने का काम पूरा हो गया है। 25 दिसंबर तक 13 गांव में बिजली पहुंचाने का लक्ष्य रखा गया है। वहीं, साउथ बिहार के 154 गांव में सोलर से बिजली पहुंचाया जा रहा है। शनिवार तक 61 गांव में बिजली पहुंचाने का काम पूरा कर लिया गया है। शेष 93 गांव में 25 दिसंबर तक बिजली पहुंचाने का लक्ष्य रखा गया है।

पश्चिम बंगाल से बिहार के दो गांव और झारखंड से बिहार के एक गांव में 25 दिसंबर को पहुंचेगी बिजली

बिहार के तीन गांव ऐसे हैं जहां राज्य के ग्रिड से बिजली देना संभव नहीं है। इनमें कटिहार जिले के अमदाबाद ब्लॉक के दिल्ली दिवानगंज, गदई महाराजपुर और प्राणपुर ब्लाॅक के खोजेहाट गांव शामिल है। 25 दिसंबर को पश्चिम बंगाल के मालदा से अमदाबाद ब्लॉक के दिल्ली दीवानगंज और प्राणपुर ब्लॉक के खोजेहाट गांव जगमग होगा। वहीं, झारखंड के साहेबगंज से अमदाबाद ब्लॉक के गदई महाराजपुर गांव जगमग होगा।

दीघवारा ब्लॉक के अखिलपुर में जलता हुआ बिजली का बल्ब। दीघवारा ब्लॉक के अखिलपुर में जलता हुआ बिजली का बल्ब।
X
सहरसा के भेलाही में बना पावर सब स्टेशन।सहरसा के भेलाही में बना पावर सब स्टेशन।
दीघवारा ब्लॉक के अखिलपुर में जलता हुआ बिजली का बल्ब।दीघवारा ब्लॉक के अखिलपुर में जलता हुआ बिजली का बल्ब।
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..