--Advertisement--

बंद कमरे में कर्मचारी की मौत, पुलिस ने कहा- दम घुटने से मौत, FSL टीम बोली- मुंह से झाग कैसे

हकीकत क्या है इसका खुलासा तो पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही चलेगा।

Dainik Bhaskar

Feb 02, 2018, 06:23 AM IST
अपने बेटे रोहित पंडित की लाश के पास विलाप करते पिता शंभू पंडित। अपने बेटे रोहित पंडित की लाश के पास विलाप करते पिता शंभू पंडित।

भागलपुर. रेलवे स्टेशन के सामने स्थित एमएस होटल के बंद कमरे में संदेहास्पद स्थिति में एक कर्मचारी की मौत हो गई जबकि दो बेहोश हो गए। तीनों कर्मचारी होटल का काम खत्म करने के बाद बुधवार रात 12:30 बजे सोने गए थे। ठंड के कारण उन्होंने अंगीठी जला दी थी। पुलिस का कहना है कि अंगीठी से कमरे में धुआं भर गया और दम घुटने से एक की जान चली गई, जबकि जांच के लिए पहुंची एफएसएल टीम का कहना है कि अगर जहरीली गैस से मौत हुई होती तो मृतक के मुंह से झाग निकलता, लेकिन ऐसा नहीं है।

हकीकत क्या है इसका खुलासा तो पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही चलेगा। इस घटना का पता तब चला जब गुरुवार सुबह 5 बजे होटल का गार्ड उन्हें जगाने गया। कमरे के गेट पर धक्का मारने पर अंदर की छिटकनी खुल गई। इसके बाद सभी को बाहर निकाला गया। होटल प्रबंधन ने तीनों को मेडिकल कॉलेज अस्पताल में भर्ती कराया, जहां एक को डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया। एक की हालत गंभीर है जबकि दूसरे को होश आ गया है। जिस कमरे में तीनों कर्मचारी सोए हुए थे वह छह बाई पांच का है।

आईटीआई में सेकंड ईयर में पढ़ता था स्वीपर का काम करता था

मरने वाला बिहपुर स्टेशन रोड निवासी रोहित पंडित था। वह तिलकामांझी स्थित हिताची आईटीआई का सेकंड ईयर का छात्र था और होटल में स्वीपर का काम भी करता था। दो अन्य कर्मचारियों की पहचान अलीगंज महेशपुर के रहने वाले ऋषिकांत कुमार और अमरपुर के बाजा-भरको निवासी विकास महतो के रूप में हुई है। ऋषिकांत को दोपहर में आईसीयू में भर्ती कराया गया। पुलिस ने रोहित के शव का पोस्टमार्टम कराकर परिजनों को सौंप दिया। रोहित के पिता शंभू पंडित ने होटलकर्मियों पर ही बेटे की हत्या का आरोप लगाया है। इस संबंध में उन्होंने तातारपुर थाने में आवेदन भी दिया है। उधर, अस्पताल में इलाजरत विकास महतो को दोपहर बाद होश आ गया। उसने बताया कि रात में खाना खाने के बाद रूम में हमलोग अंगीठी लेकर गए थे। उसे जलता छोड़ सो गए। इस बीच क्या हुआ कुछ याद नहीं।

कैसे हुई रोहित की मौत, पुलिस भी असमंजस में

खिरीबांध निवासी मोहम्मद सिद्दीकी के होटल में हुई घटना के बाद पुलिस जांच में जुट गई, लेकिन कोई नतीजा नहीं आ पाया। पुलिस पहले फूड प्वाइजनिंग का मामला मानकर जांच कर रही थी। फिर गला घोंटकर हत्या करने के एंगल पर जांच शुरू की अौर अंत में सीसीटीवी फुटेज खंगालने के बाद शक जता रही है कि पैक कमरे में धुआं फैलने की वजह से यह घटना हुई है। मौत के रहस्य को जानने में जुटी पुलिस की दोनों विंग आपसी सवाल-जवाब में ही एक नहीं हो पा रही है। एफएसएल टीम को असिस्टेंट डायरेक्टर अनिल कुमार व सहायक संतोष कुमार लीड कर रहे थे।

X
अपने बेटे रोहित पंडित की लाश के पास विलाप करते पिता शंभू पंडित।अपने बेटे रोहित पंडित की लाश के पास विलाप करते पिता शंभू पंडित।
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..