--Advertisement--

खुद को कुंवारा बता 3 बच्चों के पिता ने की थी शादी, शिकायत ले पुलिस के पास लड़की

उसका धर्म भी दूसरा है। इतने के बाद भी युवती ने उसे स्वीकार कर लिया और साथ रहने लगी।

Dainik Bhaskar

Mar 15, 2018, 04:10 AM IST
कानपुर से भगा कर लाई गई युवती पूजा सदर थाना में। कानपुर से भगा कर लाई गई युवती पूजा सदर थाना में।

सहरसा. उत्तर प्रदेश के कानपुर जिले के फतेहपुर थाने के बिंदकी गांव में राजमिस्त्री का काम कर रहा युवक वहां की एक युवती को शादी का झांसा देकर अपने साथ सहरसा के बनमा इटहरी थाना क्षेत्र सरबेला गांव ले आया। यहां पहुंचने पर युवती को पता चला कि उसके साथ फरेब हुआ है। वह जिसके साथ सबकुछ छोड़कर आई, वह तीन बच्चों का पिता है।

इतना ही नहीं, उसका धर्म भी दूसरा है। इतने के बाद भी युवती ने उसे स्वीकार कर लिया और साथ रहने लगी। लेकिन ससुराल में एक साल दाने-दाने को मोहताज हो जाने के बाद वह 3 मार्च को थक-हार कर बनमा इटहरी थाना पहुंची। पुलिस को उसने आवेदन देकर सारी बता बताई। लेकिन थाने में कोई सुनवाई नहीं हुई। एक हफ्ते पहले वह महिला थाना पहुंची। थाना प्रभारी को आवेदन दिया और सारी बात बताई, फिर भी कोई कार्रवाई नहीं हुई। उसे वापस कानपुर चले जाने को कहा गया। इसके बाद उसने सदर थाना पहुंच कर न्याय की गुहार लगाई।

4 अप्रैल 2017 को सहरसा आई थी पूजा, यहीं उसे फरेब का पता चला


घटना के संबंध में यूपी के कानपुर जिला अंतर्गत फतेहपुर निवासी बिंदकी गांव के श्रीराम सिंह की बेटी पूजा देवी ने बताया कि गांव में तथाकथित राहुल नाम के लड़के से उसकी आंखें चार हुईं। फिर 4 अप्रैल 2017 को राहुल उसे अपने साथ भगाकर कानपुर से सहरसा के बनमा इटहरी थाना क्षेत्र के सरबेला गांव लेकर आया। लेकिन तथाकथित राहुल का नाम राहुल नहीं, सद्दाम था। नियति को यही मंजूर था समझकर ससुराल में रहने लगी। तब उसे दूसरे झूठ का पता चला कि राहुल उर्फ सद्दाम पूर्व से शादीशुदा ही नहीं बल्कि 3 बच्चे का बाप भी है। लेकिन उसने इसे भी स्वीकार कर लिया।

कुछ दिन तक ससुराल में हुआ अच्छा बर्ताव


पूजा ने बताया कि कुछ दिन तक तो पति, सास-ससुर और सौतन ने अच्छा बर्ताव किया, लेकिन फिर उसका खाना-पीना व कपड़े भी बंद कर दिए। यहां तक कि मोबाइल भी छीन लिया। 3 मार्च को बनमा इटहरी थाना और फिर महिला थाना पहुंची। न्याय नहीं मिला तो सदर थाना पहुंच न्याय की गुहार लगाई। डीएसपी रश्मि ने पिता के आने तक स्थानीय थाने या महिला थाने या बनमा इटहरी थाना जाने की सलाह दी।

जांच करेंगे कि पीड़ित महिला थाना गई थी या नहीं

प्रभारी एसपी गणपति ठाकुर ने बताया कि मामले की जानकारी नहीं है। महिला बनमा व महिला थाना गई थी या नहीं, जांच कराएंगे। अभी महिला बोल रही है कि थाना गई थी। सच्चाई का पता कराएंगे।

X
कानपुर से भगा कर लाई गई युवती पूजा सदर थाना में।कानपुर से भगा कर लाई गई युवती पूजा सदर थाना में।
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..