--Advertisement--

नेपाल के वीरगंज के गैस प्लांट में लगी आग, पांच की मौत, 5 की हालत गंभीर

अगलगी के दौरान गैस प्लांट में रखे गए गैस सिलेंडर बारी-बारी से विस्फोट कर उड़ रहे थे।

Danik Bhaskar | Dec 21, 2017, 07:48 AM IST
हादसे में जली हुई प्लांट की गाड़ी। हादसे में जली हुई प्लांट की गाड़ी।

रक्सौल (मोतिहारी). नेपाल के वीरगंज के वार्ड नंबर 22 स्थित पटेल नगर में संचालित सुपर गैस उद्योग नाम के प्लांट में बुधवार की सुबह आग लगने से पांच लोगों की मौत हो गई। हादसे में पांच लोग गंभीर रूप से घायल हो गए। सभी को सेना के हेलिकाप्टर से इलाज के लिए काठमांडू भेजा गया। इस घटना में दो लोग लापता हैं, जिनका अभी तक सुराग नहीं मिल पाया। आग का स्पष्ट कारण पता नहीं चल पाया है।

एक फायर ब्रिगेड की गाड़ी भी जली

पर्सा के एसपी गणेश रेग्मी ने बताया कि सुपर गैस प्लांट के टैंक में रिसाव होने के कारण आग लगी है। आग से करोड़ों रुपए के नुकसान की आशंका है। स्थिति नियंत्रित होने के बाद ही क्षति का अनुमान लगाया जा सकता है। आग पर नियंत्रण करने के दौरान वीरगंज नगरपालिका का एक फायर ब्रिगेड वाहन भी जलकर राख हो गया। फायर ब्रिगेड कर्मी अंबिका पटेल, संजीव कुमार और अरुण महतो गंभीर रूप से घायल हैं। तीनों को काठमांडू इलाज के लिए भेजा गया है। नेपाल के अग्निशामक दल व सेना के जवान जब आग पर काबू नहीं पा सके तो नेपाल प्रशासन ने रक्सौल से सहयोग मांगा।


रक्सौल इंडियन ऑयल की टीम ने पाया काबू

नेपाल प्रशासन के सहयोग मांगने पर रक्सौल स्थित इंडियन आॅयल निगम की प्राविधिक टीम ने बालू और केमिकल के साथ घटना स्थल पर पहुंच कर आग पर काबू पाया। मालूम हो कि अगलगी के दौरान गैस प्लांट में रखे गए गैस सिलेंडर बारी-बारी से विस्फोट कर उड़ रहे थे। स्थिति को भयावह होता देख नेपाल सशस्त्र सुरक्षा बल और नेपाल पुलिस ने घटना स्थल की घेराबंदी कर दी थी। नेपाल पुलिस और सशस्त्र सुरक्षा बल के डीआईजी घटना स्थल पर कैंप कर रहे हैं।

हादसे के बाद आसपास की गाड़ियों में भी आग लग गई थी। हादसे के बाद आसपास की गाड़ियों में भी आग लग गई थी।
आग लगने के बाद एक गैस लोड ट्रक में आ लग गई जिसके बाद एक-एक कर गैस सिलेंडरों में ब्लास्ट होने लगी। आग लगने के बाद एक गैस लोड ट्रक में आ लग गई जिसके बाद एक-एक कर गैस सिलेंडरों में ब्लास्ट होने लगी।
हादसे के बाद एक घायल को ले जाते स्थानीय लोग। हादसे के बाद एक घायल को ले जाते स्थानीय लोग।
हादसे के बाद एक घायल को ले जाते स्थानीय लोग। हादसे के बाद एक घायल को ले जाते स्थानीय लोग।