Hindi News »Bihar »Patna» Firing By Bikers On Student Leader

गैंगवार के इरादे से बाइकर्स ने स्टूडेंट को मारी गोली, परेशान बहन से पुलिस ने कहा ये

सूत्रों की मानें तो घटना को माइंस गिरोह के बाइकर्स ने अंजाम दिया है। माइंस गिरोह और किंग्स ऑफ पटना में पुरानी अदावत है।

Bhaskar News | Last Modified - Jan 18, 2018, 05:44 AM IST

  • गैंगवार के इरादे से बाइकर्स ने स्टूडेंट को मारी गोली, परेशान बहन से पुलिस ने कहा ये
    +3और स्लाइड देखें

    पटना.बोरिंग रोड के सहदेव महतो मार्ग में बुधवार की शाम सात बजे बेखौफ बाइकर्स ने जदयू के छात्र समागम के नेता अंकुर शर्मा को गोली मार दी। अंकुर दोस्तों के साथ संघाई एक्सप्रेस रेस्टोरेंट के पास चाय पी रहा था। बाइकर्स हवा में फायरिंग करते हुए हड़ताली मोड़ की ओर भाग गए। अंकुर एएन कॉलेज में पीजी का छात्र है। उसे पीएमसीएच में एडमिट कराया गया है। उसकी स्थिति गंभीर बताई जा रही है।


    अपराधी किंग्स ऑफ पटना के बाइकर्स शुभंकर को गोली मारने आए थे, लेकिन गोली अंकुर को लग गई। पुलिस ने बताया कि तेज रफ्तार में दो बाइक अंकर के पास रुकी, जिसके पीछे एक स्विफ्ट कार भी थी। बाइक पर बैठे निशु खान उर्फ शानू ने शुभंकर को निशाना बनाते हुए गोली चला दी, लेकिन गोली पास खड़े अंकुर को लग गई।

    सूत्रों की मानें तो निशु खान के साथ आशीष, शिवम सहित कई और बाइकर्स उस वक्त मौजूद थे। एसके पुरी थानेदार अरविंद कुमार ने बताया कि बाइकर्स गिरोह के आपसी वर्चस्व में अंकुर को गोली मारी गई है। सूत्रों की मानें तो घटना को माइंस गिरोह के बाइकर्स ने अंजाम दिया है। माइंस गिरोह और किंग्स ऑफ पटना में पुरानी अदावत है। हाल ही में दोनों की गिरोह के कई बाइकर्स जेल से जमानत पर छूटकर बाहर आए हैं। शुभंकर किंग्स ऑफ पटना का बाइकर्स है। वहीं निशु खान माइंस गिरोह का बाइकर्स है। वैसे घटना में अंकुर की पुरानी रंजिश भी एक एंगल है।

    संवेदनहीनता; परेशान बहन अस्पताल आई तो कहा- एसएसपी को मैसेज करिए, आपके भाई को पहुंचा दिया

    घटना की जानकारी मिलते ही अंकुर के मां-पिता के साथ उसी बहन वंशिका भी पीएमसीएच पहुंच गई। वंशिका का रो-रोकर बुरा हाल था। ओटी में मौजूद लोगों से वह जानना चाह रही थी कि घटना कैसे हुई, अब उसका भाई कैसा है, खतरा टला कि नहीं? इस बीच अंकुर को ओटी से एक्सरे रूम ले जाया गया। वंशिका बाहर की रो रही थी कि डॉल्फिन मोबाइल नंबर सात के एक एएसआई ने उससे कहा कि आप एसएसपी साहब का नंबर नोट कीजिए। उन्हें मैसेज कर दीजिए कि मेरे भाई को डॉल्फिन मोबाइल नंबर सात के पुलिस वालों ने पीएमसीएच पहुंचा दिया है। वंशिका मोबाइल पर मैसेज टाइप करने लगी लेकिन उससे हो नहीं पाया। तब उससे एक जवान ने मोबाइल ले लिया और खुद ही मैसेज टाइप करने लगा। वंशिका इस बीच एक्सरे रूम से लौटी और पुलिस वालों से कहा-कोई चलकर मेरे भाई को पकड़िए, ठीक से एक्स रे नहीं हो पा रहा है।

    सीवान का है रहने वाला

    अंकुर सीवान के हरिपुर लालगढ़ का रहने वाला है। पटना में अपने परिजनों के साथ पुनाईचक में रहता है। उसके पिता प्रवीण शर्मा एक निजी विद्यालय में पढ़ाते हैं। एएन काॅलेज से पहले वह बीडी इवनिंग काॅलेज का छात्र था। अंकुर के फेसबुक प्रोफाइल की मानें तो वह छात्र समागम का प्रदेश प्रवक्ता है।

    ... रेस्टोरेंट वाले से पूछा-किसी ने गोली चलाई है क्या


    घटना के आधे घंटे तक पुलिस को इसकी जानकारी नहीं थी। पुलिस को तब पता चला जब लोगों ने अंकुर को पास के एक अस्पताल में एडमिट करा दिया। इस बीच संघाई रेस्टोरेंट के पास थाने की एक पैट्रोलिंग पार्टी पहुंची और संचालक से पूछने लगी कि यहां गोली चली है क्या?

  • गैंगवार के इरादे से बाइकर्स ने स्टूडेंट को मारी गोली, परेशान बहन से पुलिस ने कहा ये
    +3और स्लाइड देखें
  • गैंगवार के इरादे से बाइकर्स ने स्टूडेंट को मारी गोली, परेशान बहन से पुलिस ने कहा ये
    +3और स्लाइड देखें
  • गैंगवार के इरादे से बाइकर्स ने स्टूडेंट को मारी गोली, परेशान बहन से पुलिस ने कहा ये
    +3और स्लाइड देखें
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Patna

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×