--Advertisement--

बम ब्लास्ट केस का था आरोप, बदमाशों ने घेरा, फिर दिन-दहाड़े मारी गोली

डॉक्टरों ने हालत गंभीर बताकर वाराणसी रेफर कर दिया है। घटना गुरूवार को सुबह दस बजे घटी।

Danik Bhaskar | Feb 09, 2018, 04:50 AM IST

सासाराम (बिहार). सासाराम नगर थाना एरिया में बाइक सवार बदमाशों ने बम ब्लास्ट के आरोपी विजय कुमार सिंह को गोली मार दी है। घटना में घायल विजय को इलाज के लिए सदर अस्पताल सासाराम लाया गया। जहां डॉक्टरों ने हालत गंभीर बताकर वाराणसी रेफर कर दिया है। घटना गुरूवार को सुबह दस बजे घटी।

घटना के वक्त कोर्ट आ रहा था आरोपी

- बताया जा रहा है कि घटना के वक्त आरोपी सासाराम कोर्ट परिसर आ रहा था। दो गोलियां सिर और पैर में लगी है। जबकि दो उसके सिर के समीप से निकल गई।

- घटना के समय अपराधियों ने पांच राउंड फायरिंग की। गोली लगते ही सड़क पर गिरे विजय कुमार को आस-पास के लोगों ने सदर अस्पताल में एडमिट कराया।
- विजय कुमार को गोली मारने वाले दोनों अपराधियों की पहचान हो गई है। घायल विजय ने अस्पताल पहुंची पुलिस को बताया कि सतेंद्र महतो और सोनू कुमार ने गोली चलाई है।

युवक को बम से उड़ाने का विजय पर था आरोप

- बता दें कि सासाराम कोर्ट कैंपस के सामने 13 जुलाई 2016 को सचिन नाम के शख्स के बाइक के सीट में बम रखकर उसे मारने का आरोप विजय पर था।

- उक्त घटना में सचिन की बाइक बम ब्लास्ट से चिथड़े-चिथड़े उड़ गई थी। घटना में घायल सचिन भी इलाज के दौरान दम तोड़ दिया था।

- सचिन के परिजनों ने इस मामले में विजय पर साजिश करने का आरोप लगाते हुए प्राथमिकी दर्ज कराई थी।

बाइक की डिक्की में हुआ था बम विस्फोट

- 13 जुलाई 2016 की घटना से पहले विजय की बाइक की डिक्की में रखा बम 11 मार्च 2016 को ब्लास्ट कर गया था। यह घटना भी कोर्ट परिसर के सामने ही घटी थी। घटना में एक लड़की सहित विजय खुद घायल हुआ था। जबकि बाइक के चिथड़े उड़ गए थे। तब घटना की जांच कर रही पुलिस को विजय की भूमिका पर संदेह था।

जमीन खरीद फरोक्त का करता था कारोबार


विजय जमीन खरीद फरोक्त का काम करता था। इसी दौरान सचिन के परिजनों के एक प्लॉट का विजय ने सौदा कर दिया। उसके बाद से विवाद शुरू हुआ। इस विवाद में 11 मार्च 2016 से लेकर गुरूवार सुबह दस बजे तीन घटनाएं घटी। जिसमें दो बार विजय पर जानलेवा हमले हुए। एक घटना में उसके विरोधी सचिन की मौत हुई।