--Advertisement--

कारोबारी की पत्नी से लूट की कोशिश, विरोध किया तो बच्चों के सामने ही मारी गोली

बच्चे कार में शोर मचाने लगे। इसी दौरान अपराधियों ने फायरिंग कर दी। चार राउंड गोली चली।

Dainik Bhaskar

Jan 29, 2018, 08:35 AM IST
हॉस्पिटल में एडमिट कारोबारी की पत्नी का इलाज करते डॉक्टर। हॉस्पिटल में एडमिट कारोबारी की पत्नी का इलाज करते डॉक्टर।

मुजफ्फरपुर. यहां के मीनापुर में रविवार की रात बाइक सवार अपराधियों ने लूट के दौरान विरोध करने पर किराना कारोबारी सोनू चौधरी की पत्नी सुमन देवी को गोली मार दी। कार के अंदर चार बच्चों के सामने अपराधियों ने सुमन देवी को एक गोली चेहरा और दूसरी गर्दन में मारी। सभी अपराधी काला लिबास में था और चेहरा ढके हुए था। सुमन देवी को गंभीर स्थिति में प्राइवेट हॉस्पिटल में एडमिट कराया गया है। उसकी हालत चिंताजनक बनी हुई है। पत्नी की हालत देख पति सोनू चौधरी भी बेहोश होकर अस्पताल में गिर पड़े। उन्हें भी आईसीयू में भर्ती किया गया है।


बच्चे को उल्टी हुई तो रोकी थी कार

सोनू चौधरी का शहर के चंदवारा में आवास है। मीनापुर के डेरा चौक गांव में पैतृक घर है। वह शाम में गांव से शहर स्थित आवास के लिए कार से पूरे परिवार के साथ चले थे। कार चालक विजय कुमार ने बताया कि गाड़ी में सोनू चौधरी उसकी पत्नी सुमन देवी, चार बच्चे और मां थी। रास्ते में बच्चे को उल्टी हुई। तब कार को मीनापुर पेट्रोल पम्प के पास रोका गया। विजय कार पर पड़े उल्टी को धाेने के लिए पानी लाने गया और सोनू चौधरी बगल में लघुशंका करने लगे। इसी दौरान दो काला लिबास पहने बाइक से चार अपराधी मुंह पर नकाब लगाए हुए पहुंचे। सोनू को पिस्टल के बल पर कब्जे में ले लिया। दो अपराधी कार में बैठी सुमन देवी के गहने उतरवाने लगे। एक अपराधी ने चेन झपटा तो वह चेन पकड़ ली।

जख्मी सुमन के हाथ में बचा रह गया चेन का एक टुकड़ा

मीनापुर में रविवार की रात बाइक सवार अपराधियों द्वारा चेन झपटने के दौरान सुमन देवी ने जब तेजी से हाथ बढ़ाया तो चेन का टुकड़ा उनके हाथ में रह गया। जबकि, दूसरा टुकड़ा अपराधी के हाथ लग गया जिसे लेकर वे भाग निकले। सोनू चौधरी के पास का भी पैसा अपराधियों ने ले लिया। डेरा चौक से ही अपराधी पीछा करते हुए मीनापुर पेट्रोल पंप तक पहुंचे थे। मीनापुर इलाका नक्सल प्रभावित इलाका है। नक्सली अक्सर काली लिबास में भी घटना को अंजाम देते हैं। हालांकि, घटना का तरीका नक्सली वारदात जैसा नहीं है। रात में पुलिस अधिकारी घटना को लेकर कुछ भी बता पाने की स्थिति में नहीं थे। जांच के बाद पूरी बात सामने आएगी।

अस्पताल पहुंचे डीएसपी पूर्वी, कार से मिले पिस्टल के दो खोखे

बैरिया स्थित अस्पताल में सोनू चौधरी की पत्नी को भर्ती कराए जाने की सूचना पर बड़ी संख्या में नाते-रिश्तेदार व कारोबारी पहुंच गए। डीएसपी पूर्वी गौरव पांडेय भी दल-बल के साथ पहुंचे। उन्होंने कार की छानबीन की तो अंदर से पिस्टल की गोली के दो खोखे मिले। कार का पिछला शीशा गोली लगने से चकनाचूर हो गया है। कार की बॉडी में भी छेद हो चुका है। घटना को लेकर व्यवसायियों ने आक्रोश है।

बच्चों के सामने ही अपराधियों ने मारी दो गोलियां

बच्चे कार में शोर मचाने लगे। इसी दौरान अपराधियों ने फायरिंग कर दी। चार राउंड गोली चली। बच्चों के सामने ही कार में दो गोली सुमन को लगी। इसी बीच पम्प के पास तीन अन्य गाड़ी पहुंची। तब अपराधी हवाई फायरिंग करते हुए फरार हो गए। एसएसपी ने बताया कि डीएसपी पूर्वी के नेतृत्व में पुलिस टीम छानबीन में जुटी है।

महिला का इलाज करते डॉक्टर। महिला का इलाज करते डॉक्टर।
कार के अंदर गोली का खोखा। कार के अंदर गोली का खोखा।
हॉस्पिटल में एडमिट कारोबारी की पत्नी। हॉस्पिटल में एडमिट कारोबारी की पत्नी।
फायरिंग के बाद टूटा कार का शीशा। फायरिंग के बाद टूटा कार का शीशा।
X
हॉस्पिटल में एडमिट कारोबारी की पत्नी का इलाज करते डॉक्टर।हॉस्पिटल में एडमिट कारोबारी की पत्नी का इलाज करते डॉक्टर।
महिला का इलाज करते डॉक्टर।महिला का इलाज करते डॉक्टर।
कार के अंदर गोली का खोखा।कार के अंदर गोली का खोखा।
हॉस्पिटल में एडमिट कारोबारी की पत्नी।हॉस्पिटल में एडमिट कारोबारी की पत्नी।
फायरिंग के बाद टूटा कार का शीशा।फायरिंग के बाद टूटा कार का शीशा।
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..