--Advertisement--

जिस ट्रेन को पकड़ने की थी जल्दबाजी, उसी के नीचे आने से चार की कटकर मौत

सीवान स्टेशन से गुजरने वाली ट्रेन की रफ्तार 50 किलोमीटर प्रति घंटे थी। यह ट्रेन सीवान स्टेशन से ही खुलती है।

Dainik Bhaskar

Feb 03, 2018, 07:19 AM IST
हादसे में मौत के बाद रोते-बिलखते परिजन। हादसे में मौत के बाद रोते-बिलखते परिजन।

सीवान/गोपालगंज. कचहरी रेलवे स्टेशन के पास दाहा नदी पुल पर चार लोगों की पैसेंजर ट्रेन से कटकर हुई मौत पर पुलिस प्रशासन सख्त है। दाहा नदी के पुल पर यह दुर्घटना तब हुई जब सभी करबला मजार से मत्था टेकने के बाद ट्रैक के सहारे सीवान कचहरी स्टेशन लौट रहे थे। इसी बीच पीछे से अचानक सीवान-गोरखपुर पैसेंजर ट्रेन आ गई। कुहासे के चलते आगे न दिखने के कारण ट्रेन काफी नजदीक आ गई। जैसे ट्रेन पर नजर पड़ी तो पुरुष व्यक्ति अपनी जान बचाने के लिए नदी में कूद पड़े, लेकिन महिलाएं ट्रैक पर ही रह गईं। इससे तीन महिलाएं समेत चार लोगों की मौत हो गई। एक मासूम गंभीर रूप से जख्मी हो गया है, जिसे पीएमसीएच रेफर किया गया है।

सवारी गाड़ी ट्रेन के ड्राइवर व गार्ड वाराणसी तलब

सीवान कचहरी स्टेशन के पास 55075 पैसेंजर ट्रेन से गोपालगंज के चार लोगों की हुई मौत के मामले में ड्राइवर व गार्ड से पूछताछ होगी। घटना की जानकारी मिलते ही वाराणसी रेल मंडल के डीआरएम ने ड्राइवर व गार्ड को शनिवार को बुलाया है। उनके ऑफिस में दोनों से पूछताछ की जाएगी। यह जानकारी ली जाएगी कि यह हादसा किस तरह हुआ। वाराणसी रेल मंडल के पीआरओ अशोक कुमार ने बताया कि इस संदर्भ में रेल पथ इंस्पेक्टर से जानकारी ली गई है। रेल पथ इंस्पेक्टर ने बताया है कि ट्रेन के गार्ड व ड्राइवर ने इस तरह की घटना से इनकार किया है। दोनों ने बताया है कि यह घटन उनकी जानकारी में नहीं है।

मौत के बाद भी नहीं चेते लोग, चालू रहा रेलपुल से आवागमन

सुबह में हुई घटना के बाद कचहरी रेलवे स्टेशन पर अफरातफरी मची रही। प्रशासन से लेकर आम आदमी तक घटनास्थल पर उमड़ पड़ा, लेकिन कुछ ही समय बाद यह पुल एक बार फिर से लोगों की आवाजाही होने लगी। कचहरी रेलवे स्टेशन पर कुछ पल के लिए सन्नाटा जरूर रहा, लेकिन रेल पुल पर आवाजाही पहले की तरह जारी रही। घटना के कुछ समय बाद पुरुषों को कौन कहे महिलाएं भी बेधड़क होकर पुल पार कर आ-जा रही थीं।

चांप रेल हादसे की याद हो गई ताजा, नौ छात्रों की हुई थी मौत

सीवान कचहरी स्टेशन के पास रेलवे पुल पर 55075 पैसेंजर ट्रेन से गोपालगंज के चार लोगों की मौत के बाद चांप रेल हादसे की याद ताजा हो गई। चांप रेल हादसे में मार्बल इंजीनियरिंग कॉलेज के 9 छात्रों की मौत हो गई थी। यह हादसा 26 सितम्बर 2012 की दोपहर में हुआ था। चांप ढाला पर गेट खुला हुआ था। इसी दौरान मार्बल इंजीनियरिंग कॉलेज की बस गुजर रही है, तभी अप बाघ एक्सप्रेस आ गई। इससे ट्रेन व बस में टक्कर हो गई थी। इस दौरान छात्र नाराज हो गए थे और ट्रेन में जमकर तोड़फोड़ व लूट की गई थी। इसके साथ छात्रों ने ट्रेन में आग लगा दी थी। इससे ट्रेन की कई बोगियां जल गई थी। इस हादसे के बाद सीवान शहर में काफी उपद्रव हुआ था। शहर दो दिनों तक अशांत रहा। छात्र शहर में भी जमकर तोड़फोड़ की थी। यहां तक कि सीवान स्टेशन पर भी जाकर छात्रों ने तोड़फोड़ की थी। छात्रों की तोड़फोड़ व नाराजगी को देखते हुए तत्कालीन रेल राज्य मंत्री को घटन स्थल पर आने का कार्यक्रम स्थगित करना पड़ रहा। देर रात में जब भीड़ कम हुई थी तो वे सीवान आकर जांच करने के बाद सुबह होने से पहले ही वापस चले गए थे।

50 किलोमीटर प्रतिघंटे की थी सवारी गाड़ी की रफ्तार

सीवान स्टेशन से गुजरने वाली ट्रेन की रफ्तार 50 किलोमीटर प्रति घंटे थी। यह ट्रेन सीवान स्टेशन से ही खुलती है। इसलिए उसके परिचालन के लिए सीवान से ही कॉशन मिलता है। सीवान स्टेशन से ट्रेन के ड्राईवर को अमलोरी तक के लिए 50 किलोमीटर प्रतिघंटे के लिए कॉशन दिया गया था। हालांकि कोहरे में ट्रेन ड्राइवर को यह भी निर्देश दिया गया होता है कि वे ट्रेन का परिचालन अपने विवेक पर करेंगे।


पुल के दोनों ओर तैनात होगी पुलिस : एसपी

कचहरी स्टेशन के पास रेल पुल पर चल रहे चार लोगों की मौत के बाद एसपी नवीनचंद्र झा ने गंभीरता से लिया है। उन्होंने कहा कि पुल के दोनों तरफ पुलिस की तैनाती की जाएगी, ताकि इस पुल को कोई पार नहीं कर सके।

हादसे के 10 मिनट के बाद ही पुल पर से लोगों ने आना जाना शुरू कर दिया। हादसे के 10 मिनट के बाद ही पुल पर से लोगों ने आना जाना शुरू कर दिया।
पुलिस ने कहा है कि अब पुल के दोनों ओर पुलिस की तैनाती की जाएगी। पुलिस ने कहा है कि अब पुल के दोनों ओर पुलिस की तैनाती की जाएगी।
ट्रेन की चपेट में आने से चार लोगों की मौत के बाद मौके पर पहुंचे अधिकारी। ट्रेन की चपेट में आने से चार लोगों की मौत के बाद मौके पर पहुंचे अधिकारी।
four people killed in siwan by train due to fog
X
हादसे में मौत के बाद रोते-बिलखते परिजन।हादसे में मौत के बाद रोते-बिलखते परिजन।
हादसे के 10 मिनट के बाद ही पुल पर से लोगों ने आना जाना शुरू कर दिया।हादसे के 10 मिनट के बाद ही पुल पर से लोगों ने आना जाना शुरू कर दिया।
पुलिस ने कहा है कि अब पुल के दोनों ओर पुलिस की तैनाती की जाएगी।पुलिस ने कहा है कि अब पुल के दोनों ओर पुलिस की तैनाती की जाएगी।
ट्रेन की चपेट में आने से चार लोगों की मौत के बाद मौके पर पहुंचे अधिकारी।ट्रेन की चपेट में आने से चार लोगों की मौत के बाद मौके पर पहुंचे अधिकारी।
four people killed in siwan by train due to fog
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..