Hindi News »Bihar »Patna» Four Persons Of Family Dies In Road Accident At Purnia

घर पहुंची एक ही फैमिली की चार लाशें, ट्रक से एक्सीडेंट के बाद ऐसी हो गई थी कार

स्टेट हाईवे पर पूर्णिया के पास शनिवार सुबह एक अनियंत्रित ट्रक ने सामने से आ रही कार को जबरदस्त टक्कर मार दी।

Bhaskar News | Last Modified - Dec 03, 2017, 05:47 AM IST

  • घर पहुंची एक ही फैमिली की चार लाशें, ट्रक से एक्सीडेंट के बाद ऐसी हो गई थी कार
    +10और स्लाइड देखें
    एक्सीडेंट के बाद क्षतिग्रस्त कार।

    पूर्णिया/सुल्तानगंज (बिहार).स्टेट हाईवे पर पूर्णिया के पास शनिवार सुबह एक अनियंत्रित ट्रक ने सामने से आ रही कार को जबरदस्त टक्कर मार दी। टक्कर इतनी जबरदस्त थी कि ट्रक कार को 50 मीटर तक धकेलता चला गया। हादसे में सुल्तानगंज के रहने वाले डॉक्टर सुधीर रंजन मंडल, उनकी पत्नी रेखा सिन्हा, 3 साल की पोती टुकटुक और ड्राइवर अभय कुमार की मौत हो गई। डॉक्टर की बहू स्वाति कुमारी की हालत काफी गंभीर है, जिसका इलाज चल रहा है। घटना के बाद चालक ट्रक लेकर फरार हो गया।

    सुबह चार बजे घर से निकला था परिवार

    घटना सुबह 7.30 बजे की है। डॉक्टर फैमिली शनिवार की सुबह चार बजे सुल्तानगंज बाइपास स्थित अपने घर सह क्लीनिक से नेपाल के विराटनगर में रह रहे अपने डॉक्टर बेटा शुभम के पास जाने के लिए निकले थे। सुधीर का बड़ा बेटा शुभम नेपाल के विराटनगर मेडिकल कॉलेज में हैं और डॉक्टर सुधीर की बहू स्वाति अपने पति के कॉलेज से ही एमबीबीएस कर रही है। बहू अपनी बेटी के साथ कुछ दिन पहले ही सास-ससुर के पास आई थी, जिसे छोड़ने डॉक्टर सुधीर जा रहे थे। कार की अगली सीट पर डॉक्टर खुद बैठे थे जबकि पिछली सीट पर पत्नी रेखा सिन्हा और उनकी बहू और गोद में तीन साल की पोती टुकटुक बैठी थी। एक्सीडेंट के बाद गांववालों की हेल्प से सभी को कार से बाहर निकाला गया। पुलिस ने एंबुलेंस मंगवाकर शवों और घायल को पूर्णिया भेज दिया।

    एक साथ चार डेडबॉडी पहुंचने से गांव में नहीं जले चूल्हे

    हादसे में डॉक्टर फैमिली के तीन मेंबर्स की मौत के बाद उनके गांव के कई घरों में खाना नहीं बना। डॉ. सुधीर सुल्तानगंज में कम खर्च में पेशेंट्स को उचित इलाज देने के लिए जाने जाते थे। यहां के रेफरल अस्पताल में नियमित डॉक्टर के पद पर 2011 में तैनात थे। इससे पहले वो सुल्तानगंज में ही करहरिया पंचायत स्थित अतिरिक्त पीएचसी में करहरिया में लगभग 10 साल तक तैनात रहे। इसी स्वास्थ्य केंद्र में पदस्थापना के दौरान इन्होंने अपना निजी क्लीनिक शंभुगंज बांका में खोला था। नौकरी की शुरुआत नालंदा से की थी।

    किराए का मकान छोड़ तीन साल पहले बनाया था घर

    डॉ. सुधीर रंजन मंडल अपने माता-पिता के इकलौते बेटे थे। उनके दो बेटे हैं, एक विराटनगर (नेपाल) में डॉक्टर है जबकि छोटा बेटा डॉक्टर अन्नू जमशेदपुर में एमएस की पढ़ाई कर रहा है। दो बेटी डॉ. ममता और डॉक्टर श्वेता दोनों की शादी हो चुकी है। दोनों भागलपुर में पदस्थापित हैं। बड़े दामाद डॉ. विमल हंसडीहा में और डॉ. नीलेश पुणे में कार्यरत हैं। किराए के आवास को छोड़ लगभग तीन वर्ष पहले उन्होंने अपना घर बना लिया था।

    आगे की स्लाइड्स में देखें संबंधित फोटोज...

  • घर पहुंची एक ही फैमिली की चार लाशें, ट्रक से एक्सीडेंट के बाद ऐसी हो गई थी कार
    +10और स्लाइड देखें
    कार में रेखा सिन्हा की डेडबॉडी।
  • घर पहुंची एक ही फैमिली की चार लाशें, ट्रक से एक्सीडेंट के बाद ऐसी हो गई थी कार
    +10और स्लाइड देखें
    घायल स्वाति कुमारी।
  • घर पहुंची एक ही फैमिली की चार लाशें, ट्रक से एक्सीडेंट के बाद ऐसी हो गई थी कार
    +10और स्लाइड देखें
    एक्सीडेंट के बाद क्षतिग्रस्त कार।
  • घर पहुंची एक ही फैमिली की चार लाशें, ट्रक से एक्सीडेंट के बाद ऐसी हो गई थी कार
    +10और स्लाइड देखें
    कार में सुधीर रंजन और अभय कुमार की डेडबॉडी।
  • घर पहुंची एक ही फैमिली की चार लाशें, ट्रक से एक्सीडेंट के बाद ऐसी हो गई थी कार
    +10और स्लाइड देखें
    एंबुलेंस में रेखा सिन्हा और सुधीर रंजन की डेडबॉडी।
  • घर पहुंची एक ही फैमिली की चार लाशें, ट्रक से एक्सीडेंट के बाद ऐसी हो गई थी कार
    +10और स्लाइड देखें
    हॉस्पिटल में इलाज के लिए एडमिट स्वाति।
  • घर पहुंची एक ही फैमिली की चार लाशें, ट्रक से एक्सीडेंट के बाद ऐसी हो गई थी कार
    +10और स्लाइड देखें
    जानकारी देती स्वाति।
  • घर पहुंची एक ही फैमिली की चार लाशें, ट्रक से एक्सीडेंट के बाद ऐसी हो गई थी कार
    +10और स्लाइड देखें
    डॉक्टर सुधीर रंजन और उनकी पत्नी रेखा सिन्हा। (फाइल फोटो)
  • घर पहुंची एक ही फैमिली की चार लाशें, ट्रक से एक्सीडेंट के बाद ऐसी हो गई थी कार
    +10और स्लाइड देखें
    एक्सीडेंट के बाद ऐसी हो गई थी कार।
  • घर पहुंची एक ही फैमिली की चार लाशें, ट्रक से एक्सीडेंट के बाद ऐसी हो गई थी कार
    +10और स्लाइड देखें
    बेटी टुकटुक के साथ स्वाति कुमारी। (फाइल फोटो)
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Patna

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×