--Advertisement--

दोस्त और प्रेमिका ने घर बुलाकर काट डाला, दोनों के साथ महिला का था अवैध संबंध

दोस्त और प्रेमिका ने मिलकर पहले फोन कर बुलाया और फिर बंद कमरे में कुदाल का काट कर मार डाला।

Dainik Bhaskar

Mar 09, 2018, 06:55 AM IST
हत्यारा दोस्त चंदन चौहान व उसकी प्रेमिका प्रियंका देवी मृतक को पांच मार्च को फोन कर नारायणपुर बुलायी थी। हत्यारा दोस्त चंदन चौहान व उसकी प्रेमिका प्रियंका देवी मृतक को पांच मार्च को फोन कर नारायणपुर बुलायी थी।

पुर्निया (बिहार). शराब तस्करी के धंधे में पार्टनरशिप को लेकर विवाद हुआ तो दोस्त और प्रेमिका ने मिलकर पहले फोन कर बुलाया और फिर बंद कमरे में कुदाल का काट कर मार डाला। मामला नवीनगर के नारायणपुर गांव का है। मृतक 45 साल का ओमप्रकाश कुमार रोहतास जिले के नोखा थाना क्षेत्र के लालगंज गांव का रहने वाला था। पुलिस ने उसके बॉडी को नारायणपुर के पास से बरामद किया है। बॉडी का पोस्टमार्टम कर परिवार के लोगों को सौंप दिया गया है। इस मामले में पुलिस ने आरोपी उसके दोस्त चंदन चौहान, प्रेमिका प्रियंका देवी और इसका पति धीरज चौहान को अरेस्ट कर लिया है। पूछताछ में आरोपियों ने अपने गुनाह को कबूल किया है। तीन दिन पहले फोन कर बुलायी थी प्रेमिका...

- सूत्रों की मानें तो हत्यारा दोस्त चंदन चौहान व उसकी प्रेमिका प्रियंका देवी मृतक को पांच मार्च को फोन कर नारायणपुर बुलायी थी।

- प्रियंका का मृतक ओमप्रकाश के साथ-साथ उसके दोस्त चंदन के साथ भी अवैध संबंध था।
- इसी संबंध के वजह से एक फोन कॉल पर मृतक अपने प्रेमिका से मिलने खैरा थाना के नारायणपुर गांव पहुंचा। जहां पहले उसे शराब पिलाया गया।

- फिर कुदाल से काट-काटकर उसकी निर्मम हत्या कर दी गई। हत्या में दोस्त और प्रेमिका के साथ-साथ उसका पति भी शामिल था।

करोड़पति बनने की चाह में दोनों ने शुरू किया था शराब का धंधा

- शराबबंदी के बाद आरोपी दोस्त चंदन व मृतक ओमप्रकाश रातोरात अमीर बनने की चाह में शराब तस्करी का धंधा शुरू किया था।

- दोनों झारखंड से शराब लाते और कई गुना अधिक दामों पर यहां बेच देते थे। इसी धंधे में दोनों के बीच हिस्सेदारी को लेकर विवाद हो गया।

- आेमप्रकाश के पास कुछ पैसे आरोपी का निकल रहा था। जिसे देने से वह इनकार कर रहा था।

- इसके साथ-साथ हाल के दिनों में मृतक अपने दोस्त के चुपके भी शराब के काराेबार में लगा हुआ था। यही बात आरोपी को नागवार गुजरा।

पुलिस की छानबीन में खुलता गया राज
- पांच मार्च को अचानक घर से गायब होने के बाद मृतक के भाई रामसूरत चौधरी ने रोहतास के नोखा थाना में गुमशुदगी का मामला दर्ज कराया। जिसके बाद पुलिस उसकी खोजबीन में जुट गई। जब उसके माेबाइल का कॉल डिटेल्स खंगाला गया तो सच से पर्दा उठ गया।

- उसका माेबाइल लोकेशन खैरा थाना के नारायणपुर बता रहा था। जिसके बाद नोखा थानाध्यक्ष शशिभूषण प्रसाद ने खैरा थानाध्यक्ष रंजीत कुमार से संपर्क साधा। मामले की जानकारी दी। जिसे खैरा थानाध्यक्ष ने गंभीरता से लेते हुए मामले की तहकीकात शुरू की।

- इसी बीच नारायणपुर पुल के नीचे से पुलिस को एक बोरा बरामद हुआ। जिसमें कपड़ा भरा हुआ था। तत्काल खैरा पुलिस ने नोखा पुलिस को इसकी जानकारी दी। इसके बाद मृतक के घरवालों को नारायणपुर बुलाया गया।

- जहां परिवार के लोगों ने कपड़ों को देखते ही पहचान लिया। फिर क्या था। पुलिस उसके माेबाइल पर सबसे ज्यादा बात होने वाले नंबर को खंगाला तो प्रेमिका का नाम उजागर हुआ। पुलिस तत्काल प्रेमिका के घर दबिश दी। इसके बाद सच से पर्दा उठ गया। पुलिस को हत्या से जुड़े अहम साक्ष्य हाथ लगे।

मौके पर मौजूद पुलिस। मौके पर मौजूद पुलिस।
X
हत्यारा दोस्त चंदन चौहान व उसकी प्रेमिका प्रियंका देवी मृतक को पांच मार्च को फोन कर नारायणपुर बुलायी थी।हत्यारा दोस्त चंदन चौहान व उसकी प्रेमिका प्रियंका देवी मृतक को पांच मार्च को फोन कर नारायणपुर बुलायी थी।
मौके पर मौजूद पुलिस।मौके पर मौजूद पुलिस।
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..