--Advertisement--

तेजी से बढ़ रहा मासूम का वजन, मां-बाप के लिए बनी परेशानी तो छोड़ा साथ

बच्ची को कोई गंभीर बीमारी है जिसका इलाज कराना उसके मां-बाप के लिए आसान नहीं है।

Dainik Bhaskar

Dec 09, 2017, 03:38 AM IST
आठ साल की मासूम बच्ची का वजन तेजी से बढ़ रहा है। आठ साल की मासूम बच्ची का वजन तेजी से बढ़ रहा है।

मधेपुरा (बिहार). यहां की रहने वाली एक आठ साल की मासूम बच्ची का वजन तेजी से बढ़ रहा है। आठ की उम्र में ही उसका वजन 85 किलोग्राम से ज्यादा हो गया है। बच्ची को कोई गंभीर बीमारी है जिसका इलाज कराना उसके मां-बाप के लिए आसान नहीं है। हालात ये हो गए कि उसके माता-पिता ने भी उसका साथ छोड़ दिया और उसे उसके नाना-नानी के घर छोड़ गए।

पिता हैं मजदूर

मधेपुरा के एक गांव की रहनी वाली इस बच्ची का नाम अंजली है। उसके पिता साधारण फैमिली से आते हैं और मजदूरी कर अपना घर चलाते हैं। तेजी से बढ़ते वजन और शरीर के चलते कई परेशानियां उनसे सामने एक साथ आ गई है। बच्ची की डाइट भी इनमें से एक है। उनका कहना है कि परेशानियां कई हैं लेकिन उनके पास इतने पैसे नहीं हैं कि इन परेशानियों को दूर किया जा सके।

मां-बाप ने छोड़ा साथ

परेशानियों से जूझने के बाद बच्ची के माता-पिता ने फिलहाल उसका साथ छोड़ दिया है। बच्ची को उन्होंने उसके नाना के घर पहुंचा दिया है। अंजली के नाना-नानी ने बताया कि उसे खाने-पीने, उठने-बैठने और चलने में काफी दिक्कतें होती है। मां-बाप के छोड़ने के बाद अंजली की नानी और मामा मजदूरी कर किसी तरह उसे अपने पास रखे हुए हैं।

मुंह से आवाज निकलना भी हो रहा कम

बताया जा रहा है कि अंजली पहले स्कूल भी जाती थी लेकिन बच्चों के द्वारा मजाक उड़ाने पर अंजली ने स्कूल जाना भी छोड़ दिया है। अब तो अंजली के मुंह से आवाज निकलना भी धीरे-धीरे कम होने लगा है। स्थानीय पंचायत समिति सदस्य ने कहा कि आगामी पंचायत समिति की बैठक में प्रस्ताव लेकर सरकार और जिला प्रशासन से अंजली के इलाज के लिए मदद मांगी जाएगी। इधर, मधेपुरा के चाइल्ड स्पेशलिस्ट डॉक्टर अरूण कुमार मंडल ने कहा कि इसका एक मात्र इलाज सर्जरी है जो काफी खर्चीला होगा।

आगे की स्लाइड्स में देखें रिलेटेड फोटोज...

वजन 85 किलोग्राम से ज्यादा हो गया है। वजन 85 किलोग्राम से ज्यादा हो गया है।
बच्ची का नाम अंजली है। बच्ची का नाम अंजली है।
पिता मजदूरी कर अपना घर चलाते हैं। पिता मजदूरी कर अपना घर चलाते हैं।
माता पिता से अलग रहती है लड़की। माता पिता से अलग रहती है लड़की।
खाने-पीने, उठने-बैठने और चलने में काफी दिक्कतें होती हैं। खाने-पीने, उठने-बैठने और चलने में काफी दिक्कतें होती हैं।
अंजली ने स्कूल भी जाना भी छोड़ दिया है। अंजली ने स्कूल भी जाना भी छोड़ दिया है।
अंजली। अंजली।
अंजली। अंजली।
X
आठ साल की मासूम बच्ची का वजन तेजी से बढ़ रहा है।आठ साल की मासूम बच्ची का वजन तेजी से बढ़ रहा है।
वजन 85 किलोग्राम से ज्यादा हो गया है।वजन 85 किलोग्राम से ज्यादा हो गया है।
बच्ची का नाम अंजली है।बच्ची का नाम अंजली है।
पिता मजदूरी कर अपना घर चलाते हैं।पिता मजदूरी कर अपना घर चलाते हैं।
माता पिता से अलग रहती है लड़की।माता पिता से अलग रहती है लड़की।
खाने-पीने, उठने-बैठने और चलने में काफी दिक्कतें होती हैं।खाने-पीने, उठने-बैठने और चलने में काफी दिक्कतें होती हैं।
अंजली ने स्कूल भी जाना भी छोड़ दिया है।अंजली ने स्कूल भी जाना भी छोड़ दिया है।
अंजली।अंजली।
अंजली।अंजली।
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..