Hindi News »Bihar »Patna» Ias Deepak Anand Property Case

इस IAS की पौने तीन करोड़ से अधिक की संपत्ति का खुलासा, यहां किया इन्वेस्ट

सीतामढ़ी जिले के मूल निवासी दीपक की पहली पोस्टिंग बेतिया में एसडीओ के रूप में हुई थी।

bhaskar news | Last Modified - Jan 08, 2018, 05:22 AM IST

  • इस IAS की पौने तीन करोड़ से अधिक की संपत्ति का खुलासा, यहां किया इन्वेस्ट
    +5और स्लाइड देखें
    2 जनवरी को आईएएस दीपक आनंद के खिलाफ आय से अधिक संपत्ति का मामला दर्ज हुआ था।

    पटना.2007 बैच के आईएएस दीपक आनंद की संपत्ति का आंकड़ा आैर बढ़ सकता है। फिलहाल विशेष निगरानी इकाई (एसवीयू) की जांच पूरी होने में समय लगेगा। रियल एस्टेट से लेकर जेवर व अन्य वित्तीय संस्थानों तक निवेश किए गए हैं। पटना समेत कई जगहों पर अकूत संपत्ति हासिल किए जाने के सबूत मिले हैं। अबतक 5 दिनों की जांच में पौने तीन करोड़ से अधिक का संपत्ति का खुलासा हो चुका है। पिछले सप्ताह आय से अधिक संपत्ति का मामला दर्ज करने के बाद एसवीयू की टीम ने दीपक आनंद के सीतामढ़ी के कोर्ट बाजार स्थित घर व गोड्डा के महगावां स्थित ससुराल समेत चार ठिकानों पर छापेमारी की थी।

    पदस्थापन की प्रतीक्षा में हैं आईएएस दीपक आनंद


    तलाशी के दौरान राजधानी में सर्किट हाउस स्थित दीपक के आवासीय ठिकाने की तलाशी में 25 लाख रुपए के किसान विकास पत्र, 27.5 लाख रुपए के पोस्टल डिपॉजिट के पेपर व जेवरात खरीद से जुड़े 25 लाख रुपए की रसीद मिली थी। सीतामढ़ी जिले के मूल निवासी दीपक की पहली पोस्टिंग बेतिया में एसडीओ के रूप में हुई थी। इसके बाद वे समस्तीपुर के डीडीसी, बांका व छपरा जिले के डीएम के अलावा पंचायती राज के निदेशक रहे। फिलहाल उन्हें पदस्थापन की प्रतीक्षा (वेटिंग फॉर पोस्टिंग) में रखा गया है।

    पूछताछ की तैयारी में एसवीयू


    इधर जांच में लगी एसवीयू की टीम आईएएस दीपक आनंद से पूछताछ करने की भी तैयारी में है। खासकर अकूत संपत्ति को लेकर सवाल पूछे जाएंगे। इसको लेकर आने वाले दिनों में उन्हें समन भेजा जा सकता है। फिलहाल जांच टीम का फोकस आरंभिक तफ्तीश में मिले संपत्ति व अन्य पहलुओं पर है। विभिन्न ठिकानों से मिले कागजातों के आधार पर भी संपत्ति के बारे में जानकारी जुटाई जा रही है। अफसरों के सामने कई कैश ट्रांजेक्शन के पेपर की गुत्थी सुलझाना आसान नहीं होगा।

    फैमिली मेंबर्स के नाम पर भी संपत्ति


    इससे पूर्व एसवीयू ने आईएएस दीपक आनंद के खिलाफ आय से अधिक संपत्ति का मामला दर्ज किया था। एफआईआर में आय से 1.55 करोड़ अधिक संपत्ति की बात कही गई थी। हालांकि छापेमारी के दौरान पौने तीन करोड़ से अधिक की संपत्ति के सबूत मिले हैं। अहम पहलू यह भी है कि दीपक ने कई चल-अचल संपत्ति आईएएस के परिजनों के नाम पर अर्जित किए हैं।

    टाइम लाइन

    2 जनवरी (मंगलवार) - आईएएस दीपक आनंद के खिलाफ आय से अधिक संपत्ति का मामला दर्ज
    3 जनवरी (बुधवार) - पटना समेत 4 जिलों में दीपक के 4 ठिकानों पर एसवीयू की छापेमारी
    4 जनवरी (गुरुवार) - कटिहार में दीपक की पत्नी डॉ. शिखा के आवासीय ठिकाने की तलाशी
    5 जनवरी (शुक्रवार) - पटना में दीपक के बैंक का लॉकर खोला गया
    6 जनवरी (शनिवार) - डॉ. शिखा रानी का लॉकर भी खोला गया

  • इस IAS की पौने तीन करोड़ से अधिक की संपत्ति का खुलासा, यहां किया इन्वेस्ट
    +5और स्लाइड देखें
    3 जनवरी को पटना समेत 4 जिलों में दीपक के 4 ठिकानों पर एसवीयू की छापेमारी हुई थी।
  • इस IAS की पौने तीन करोड़ से अधिक की संपत्ति का खुलासा, यहां किया इन्वेस्ट
    +5और स्लाइड देखें
    4 जनवरी को कटिहार में दीपक की पत्नी डॉक्टर शिखा के आवासीय ठिकाने की तलाशी ली गई थी।
  • इस IAS की पौने तीन करोड़ से अधिक की संपत्ति का खुलासा, यहां किया इन्वेस्ट
    +5और स्लाइड देखें
    5 जनवरी को पटना में दीपक के बैंक का लॉकर खोला गया था।
  • इस IAS की पौने तीन करोड़ से अधिक की संपत्ति का खुलासा, यहां किया इन्वेस्ट
    +5और स्लाइड देखें
    6 जनवरी को डॉक्टर शिखा रानी का लॉकर भी खोला गया था।
  • इस IAS की पौने तीन करोड़ से अधिक की संपत्ति का खुलासा, यहां किया इन्वेस्ट
    +5और स्लाइड देखें
    दीपक आनंद का पुस्तैनी घर।
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Patna

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×