--Advertisement--

JDU नेता की घर में घुसकर गोलियों से भूना, 50 से अधिक राउंड चलाईं गोलियां

मृतक भी आपराधिक छवि का था। उस पर पूर्व में जिले के कई थानों में एक दर्जन से ज्यादा मामले दर्ज हैं।

Danik Bhaskar | Dec 09, 2017, 07:57 AM IST
मृतक जेडीयू लीडर की फाइल फोटो। मृतक जेडीयू लीडर की फाइल फोटो।

गोपालगंज. गुरुवार की देर रात जमीन विवाद में दर्जनों हथियार बंद अपराधियों ने जदयू नेता तेज प्रकाश सिंह की हत्या उनके घर में घुसकर कर दी। इस दौरान हथियार बंद अपराधियों ने दहशत फैलाने के लिए 50 राउंड फायरिंग की जिसमें मृतक के पड़ोसी के घर में गोलियों के निशान पड़ गए। वहीं मौके पर मौजूद लोगों ने बताया कि मृतक ने अपनी जान बचाने के लिए अपराधियों पर पड़ोसी के छत से ईंट पत्थर चलाया लेकिन बेखौफ अपराधियों ने इस घटना को अंजाम दे दिया।

आपराधिक छवि का था मृतक

करीब एक घंटे तक मृतक के घर अपराधियों का कब्जा रहा और पुलिस को सूचना मिलने के बाद भी वह घटना स्थल पर समय से नहीं पहुंच सकी। घटना के करीब एक घंटे बाद आए एसडीपीओ मनोज कुमार सहित नगर थाना की टीम घटना स्थल पर पहुंची और शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया। वहीं वारदात के बाद लोगों को दहशत में देखकर पूरी रात पुलिस ने कैंप जारी रखा। बताया जा रहा है कि मृतक भी आपराधिक छवि का था। उस पर पूर्व में जिले के कई थानों में एक दर्जन से ज्यादा मामले दर्ज हैं। वहीं कई मामलों में वह पूर्व में जेल भी जा चुका था। इस मामले में पुलिस ने देर शाम तक किसी भी अपराधी को गिरफ्तार नहीं किया था।

चार दर्जन से ज्यादा कारतूस का खोखा

मौके पर पहुंची पुलिस ने घटना 50 से अधिक कारतूस का खोखा बरामद किया। जिस मकान से तेज प्रकाश का शव बरामद हुआ है। उस मकान को अपराधियों ने गोलियों से छलनी कर दिया है। जिससे मकान पर गोलियों के कई निशान पाए गए हैं। बता दें कि तेज प्रकाश पर कई दर्जन आपराधिक मामले दर्ज हैं। 2005 में कटेया विधान सभा सीट से बासपा के टिकट पर चुनाव लड़ चुका था। इसके बाद जब उसे सफलता हासिल नहीं हुई तो वह फिर से जदयू में शामिल हो गया। इसके बाद उसने पूर्व में मुखिया पद के लिए भी चुनाव लड़ा था।

13 नामजद और 35 अज्ञात पर मामला दर्ज

जदयू नेता तेज प्रकाश की हत्या के मामले में नगर थाना पुलिस ने 13 अपराधियों को नामजद तथा 25 अज्ञात पर प्राथमिकी दर्ज कर ली है। वहीं पुलिस प्राथमिकी दर्ज करने के बाद अपराधियों की गिरफ्तारी के लिए जगह-जगह छापेमारी कर रही है। पुलिस के मुताबिक, जदयू नेता की हत्या विवादित जमीन पर कब्जा को लेकर हुई है। वार्ड में जिस जगह तेज प्रकाश सिंह का जमीन था। उसी के बगल में प्राइमरी स्कूल के पास स्थित विवादित जमीन पर तेज प्रकाश अपना कब्जा बताता था और कब्जे को लेकर उक्त जमीन पर झोपड़ी रख चुका था। उसी झोपड़ी को उजाड़ने के लिए तीन ट्रैक्टर पर सवार लगभग चार दर्जन से ऊपर अपराधी देर रात वहां पहुंच गए और झोपड़ी को उजाड़ने लगे। जिसको लेकर तेज प्रकाश ने इसका विरोध किया। विरोध काफी आगे बढ़ गया। जिसके बाद तेज प्रकाश ने पड़ोसी के घर की छत पर चढ़ कर वहां से अपराधियों पर ईंट पत्थर फेंकना शुरू कर दिया। जिसके बाद हथियार से लैस अपराधियों ने अंधाधुंध फायरिंग शुरू कर दी। इसी क्रम में एक गोली तेज प्रकाश के गले में लग गई। जिससे उसकी मौत मौके पर ही हो गई।

आगे की स्लाइड्स में देखें रिलेटेड फोटोज...

मौके से कारतूस का खोखा उठाती पुलिस। मौके से कारतूस का खोखा उठाती पुलिस।
मौके से बरामद कारतूस का खोखा। मौके से बरामद कारतूस का खोखा।
मृतक जेडीयू लीडर का घर। मृतक जेडीयू लीडर का घर।
मौके पर कारतूस का खोखा। मौके पर कारतूस का खोखा।
रोते बिलखते मृतक के परिजन। रोते बिलखते मृतक के परिजन।
मृतक के घर के बाहर मौजूद पुलिस। मृतक के घर के बाहर मौजूद पुलिस।