Hindi News »Bihar »Patna» Kunal Pratap Son Of Obra MLA Virender Sinha

MLA का बेटा गैंग बना कर रहा था ये काम, विवादों से रहा है गहरा नाता

ओबरा विधायक वीरेंद्र सिन्हा के बेटे कुणाल प्रताप का विवादों से गहरा नाता रहा है।

Bhaskar News | Last Modified - Dec 30, 2017, 04:45 AM IST

  • MLA का बेटा गैंग बना कर रहा था ये काम, विवादों से रहा है गहरा नाता
    +1और स्लाइड देखें

    दाउदनगर (औरंगाबाद). ओबरा विधायक का बेटा कुणाल प्रताप गिरोह बनाकर बालू का अवैध उठाव कर रहा था। सूचना पर पुलिस दल ने वहां छापेमारी किया। जहां विधायक पुत्र द्वारा जमादार के साथ धक्का-मुक्की कर बालू लदे ट्रैक्टर को छुड़ा लिया गया। पुलिस ने विधायक पुत्र कुणाल प्रताप समेत 10 लोगों को नामजद आरोपी बनाया है। जबकि 80 से 100 लोगों को इसमें अज्ञात आरोपी बनाया गया है। मामला दाउदनगर के शीतल बिगहा गांव की है। पुलिस ने तीन लोगों को गिरफ्तार कर लिया।

    दो बालू लदे ट्रैक्टर को जब्त कर भी किया है।डीएसपी संजय कुमार ने बताया किया कोई आरोपी बख्शा नहीं जाएगा। वहीं विधायक पुत्र ने कहा कि लगाया जा रहा आरोप बेबुनियाद है। कुछ लोग साजिश के तहत मुझे फंसाकर बदनाम करने पर तुले हुए हैं।

    दो अलग-अलग प्राथमिकी दर्ज

    सोन नदी से बालू के अवैध उठाव व जमादार से धक्का-मुक्की मामले में पुलिस ने दो अलग-अलग प्राथमिकी दर्ज किया है। पहली प्राथमिकी दाउदनगर थाना के जमादार पंकज कुमार के बयान पर प्राथमिकी दर्ज किया गया है। जिसमें विधायक पुत्र सह अकोड़हा पंचायत के मुखिया कुणाल प्रताप, भगवान बिगहा गांव निवासी मुकेश कुमार, सागर यादव उर्फ भंगु , गुड्डू कुमार सिंह , लाल बाबू यादव, अजीत कुमार व गोरे लाल यादव को नामजद आरोपी बनाया गया है। जबकि 80 से 100 लोगों को इसमें अज्ञात आरोपी बनाया गया है। दूसरा प्राथमिकी थानाध्यक्ष अभय कुमार सिंह के बयान पर दर्ज कराया गया है। जिसमें भगवान बिगहा निवासी अमरेन्द्र कुमार उर्फ धरम सिंह, वसंत कुमार व अरबिंद कुमार को आरोपी बनाया गया है।

    हर ट्रैक्टर पर होती था 3000 से 5000 हजार की कमाई

    पुलिस सूत्रों की माने तो बालू के अवैध उठाव कर मुंहमांगी कीमत पर बेचने का खेल महीनों से जारी था। जिसमें ट्रैक्टर के हर खेप पर 3000 से 5000 हजार की कमाई होती थी। बालू पर रोक लगने के बाद विधायक पुत्र कुणाल प्रताप ने बालू चोरी करने वाला एक गिरोह तैयार किया। जिसमें करीब 50 लोग शामिल थे। यह गिरोह देर शाम सात बजे के बाद भगवानपुर समीप सोन नदी से बालू का अवैध उठाव करता था। इसके बाद उक्त बालू को जगह-जगह आर्डर के हिसाब से बेचा जाता था।

    विवादों से रहा है गहरानाता

    ओबरा विधायक वीरेंद्र सिन्हा के बेटे कुणाल प्रताप का विवादों से गहरा नाता रहा है। पिछले साल जनवरी माह में कुणाल ने अपने ही गांव के एक युवक को ओवरटेक कर आगे निकलने पर चाकू गोदकर घायल कर दिया था। जिसमें उसे 27 दिनों तक जेल में रहना पड़ा था। इसके अलावे दाउदनगर के प्रमुख व्यवसायी प्रकाश चंद्रा पर हमला कर दिया था। जिसमें उसे नामजद आरोपी बनाया गया था।

  • MLA का बेटा गैंग बना कर रहा था ये काम, विवादों से रहा है गहरा नाता
    +1और स्लाइड देखें
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Patna

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×