Hindi News »Bihar News »Patna News» Limits Of Transgression Kidnapping Of Kids And Murder

किडनैपर ने पार की सारी हदें, अगवा बच्ची की हत्या कर 2 बच्चों को मरा समझ फेंका

Bhaskar News | Last Modified - Feb 08, 2018, 07:29 PM IST

चोरी के एक मामले में केस उठाने से इनकार के बाद उसने जो किया, उससे शहर के लोग सन्न हैं।
    • अंकित पर ईंट-पत्थर पेचकस वगैरह से प्रहार किया गया था। गंभीर रूप से घायल अंकित को पटना रेफर किया गया है।

      गया. बिहार के गया एक हिस्ट्रीशीटर ने हैवानियत की सारी हदें पार कर दी। चोरी के एक मामले में केस वापस लेने से इनकार के बाद उसने जो किया, उससे शहर के लोग सन्न हैं। केस वापस ने लेने पर उसने संजय कुमार की पत्नी को देख लेने की धमकी दी थी। मंगलवार की दोपहर को उसने परिवार के एक साथ 3 बच्चों को अपनी कार में बिठाकर किडनैप कर लिया। इतना ही नहीं उसने उनमें से एक बच्ची की हत्या कर दी और दो बच्चों को मरा समझ फेंक दिया।50 रुपए के लालच में आ गए थे बच्चे...

      - रामपुर थाना अंतर्गत गेवालबिगहा अखाड़ा के रहने वाले कमलेश उर्फ छोटू कुमार ने योजना को बड़े ही शातिराना तरीके से अंजाम दिया गया। तीनों बच्चे अपने घर के नजदीक मंदिर के पास खेल रहे थे। कमलेश उर्फ छोटू ने इन्हें पचास रुपए का नोट दिया। कहा कि रुपए लेकर जाओ और चाॅकलेट लेज की खरीददारी करो, मैं भी आ रहा हूं। बच्चे गेवालबिगहा मोड़ के पास पहुंचे तो पूर्व की योजना के तहत इस हैवान ने तीनों मासूमों का किडनैप कर लिया।

      - मंगलवार की रात को किसी प्रकार का खुलासा करने में पुलिस असफल रही थी। इसी क्रम में बुधवार की सुबह को किडनैपर्स ने में एक सूरज हांफता हुआ शाहमीर तक्या के पास मिला। लोगों ने पूछा तो इलाके में सनसनी फैल गई। परिजन बच्चे को लेकर थाना पहुंचे। सूरज एक ही रट लगा रहा था, छोटू ने मार दिया। तनु और अंकित को छोटू ने मार दिया।


      अधमरे हालत में अंकित पटना रेफर
      - इसके बाद पुलिस हरकत में आ गई। आपराधिक प्रवृति के छोटू को पहले से ही हिरासत में रखी पुलिस ने सख्ती दिखाई। छोटू और सूरज को लेकर तनु और अंकित की खोज में पुलिस की टीम निकली। छोटू की निशानदेही पर सूर्यपुरा से अंकित को अधमरे हालत में बरामद किया गया। इसके दोनों हाथ बंधे थे और झाड़ियों में फेंक दिया गया था।
      - इसके चेहरे पर ईंट-पत्थर और पेचकस आदि से प्रहार के निशान थे। इसके बाद पुलिस ने प्रणवानंद पथ के नजदीक से तनु की लाश बरामद की। इसकी वीभत्स तरीके से हत्या की गई थी। वहीं दरिंदगी किए जाने की भी बात बताई जा रही है।
      - पुलिस ने बच्ची का शव बरामद होते ही पोस्टमार्टम के लिए मगध मेडिकल कॉलेज हॉस्पिटल भेज दिया। इधर गंभीर अंकित को पटना रेफर कर दिया गया है। जैसे-जैसे लोगों को जानकारी हुई भीड़ ने आरोपी के घर पहुंच आगजनी शुरू कर दी।

      चीत्कार मार रही थी मां, मेरी लाडली को क्यों मारा
      - तनुजा उर्फ तनु लाॅर्ड बुद्धा स्कूल की छात्रा थी। तनु की हत्या कर दिए जाने की बात पता लगते ही मां सुलेखा देवी समेत परिवारवालों में चीत्कार मच गया।
      - सुलेखा कहे जा रही थी, मेरी लाडली बेटी को क्यों मारा। कहा कि मेरी बेटी टीवी देख रही थी, इसे योजना के तहत बुलाया गया। इसके बाद तीन बच्चों को अगवा किया, मेरी बेटी की हत्या कर दी। कहे जा रही थी, डिस्क नहीं कटती तो मेरी बेटी को बाहर जाने का कोई मन नहीं होता।

      अफीमची छोटू के अलावा इसके साथी भी थे शामि‍ल
      - कम उम्र से ही अपराध करने वाला कमलेश उर्फ छोटू अफीमची था। दिन रात अफीम के नशे में डूबा रहता था। बच्ची समेत तीन का किडनैप करने की उसकी इस योजना में यह अकेला नहीं था। कुछ और अफीमची साथी भी शामिल थे।
      - किडनैपिंग के बाद सबसे पहले छोटू अपने अफीमची साथी के ठिकाने पर गया था। यही वजह रही कि तनु की लाश जहां प्रणवानंद पथ के नजदीक से बरामद हुई।
      - वहीं अंकित को केन्दुई-सूरजपुरा के बीच से अधमरे हालत में खोज निकाला गया। वहीं सूरज के खिरियावां के समीप छोड़ा गया था। सूरज और अंकित की बेहोशी को मरा समझा गया था, यह गलतफहमी उसके बेहोश हो जाने के बाद हुई थी।
      - सूरज का गला दबाया गया था। वहीं अंकित पर ईंट-पत्थर पेचकस वगैरह से प्रहार किया गया था। इस क्रम में दोनों बच्चे बेहोश हो गए थे। यही वजह रही कि दोनों को मरा समझकर छोड़ दिया गया और इस तरह इनकी जिंदगी सलामत बच गई।

      भीड़ पर लाठीचार्ज होते ही भगदड़, ... और शुरू हो गई रोड़ेबाजी

      - बुधवार को जैसे-जैसे खुलासे होते गए, उसी तरह यह खबर भी तेजी से फैली। इसके बाद गेवालबिगहा अखाड़ा पर के लोगों के बीच गुस्सा फूट पड़ा। गुस्साई भीड़ ने आरोपी के घर पर धावा बोल दिया। घर में आग लगा दी। इस क्रम में बाइक को लेकर सड़क पर पहुंच गए। बाइक को फूंक दिया गया।

      - गेवालबिगहा मोड़ के समीप टायर जलाकर पुलिस-प्रशासन के खिलाफ प्रदर्शन करने लगे। गया-डोभी-चेरकी रोड को गेवालबिगहा के नजदीक जाम कर दिया।

      - सूचना के बाद कई थानों की पुलिस मौके पर पहुंची। जाम हटाने का इनका प्रयास नाकाम रहा। सिटी डीएसपी आलोक कुमार सिंह भी सड़क जाम हटाने में सफल नहीं हुए।

      - इस बीच डीआईजी मगध प्रक्षेत्र विनय कुमार मौके पर पहुंचे। गुस्साई भीड़ और पीड़ित परिवार के लोगों को समझाने के बाद भी लोग नहीं माने।

      डीएम व एसएसपी ने जाम हटाने का किया प्रयास, लोग नहीं माने तो किया लाठीचार्ज
      - मौके पर जिलाधिकारी अभिषेक कुमार सिंह और एसएसपी गरिमा मल्लिक मौके पर पहुंचे। करीब आधे घंटे तक इन्होंने जाम हटाने का प्रयास किया।
      - सफल नहीं हुए तो सड़क जाम कर रहे उग्र लोगों पर लाठीचार्ज कर दी गई। लाठीचार्ज के बाद लोग मौके से हटे। हालांकि गुस्साई भीड़ ने भागने के बाद भी पुलिस पर जमकर रोड़े चलाए।
      गेवालबिगहा और जाम वाले स्थान पर पुलिस पदाधिकारियों की तैनाती कर दी गई है।

      एफएसएल की टीम जांच को पहुंची
      इस घटना की उच्चस्तरीय जांच शुरू कर दी गई है। इस क्रम में पटना से एफएसएल की टीम ने पहुंचकर जांच की और कई सबूत उठाए। वहीं बोर्ड का गठन कर बच्ची के शव का पोस्टमार्टम कराया गया।

      विक्टिम परिवारों को मिलेगा मुआवजा
      - गया के डीएम अभिषेक सिंह ने बताया कि एक बच्ची की सुबह में लाश मिली है। वहीं अभियुक्त की निशानदेही पर दो बच्चों को बरामद कर लिया गया है। घायल बच्चे खतरे से बाहर हैं। पीड़ित परिवार को मुआवजा और कई योजनाओं का लाभ देने की बात कही गई है।
      - एसएसपी गया गरिमा मल्लिक ने कहा कि कांड की उच्चस्तरीय जांच शुरू कर दी गई है। इस केस का साईंटिफिक इन्वेस्टिगेशन किया जाएगा। स्पीडी ट्रायल करा सजा दिलाई जाएगी।

    • किडनैपर ने पार की सारी हदें, अगवा बच्ची की हत्या कर 2 बच्चों को मरा समझ फेंका
      +10और स्लाइड देखें
      सुलेखा कहे जा रही थी, मेरी लाडली बेटी को क्यों मारा।
    • किडनैपर ने पार की सारी हदें, अगवा बच्ची की हत्या कर 2 बच्चों को मरा समझ फेंका
      +10और स्लाइड देखें
      जैसे-जैसे खुलासे होते गए, उसी तरह यह खबर भी तेजी से फैली। इसके बाद गेवालबिगहा अखाड़ा पर के लोगों के बीच गुस्सा फूट पड़ा।
    • किडनैपर ने पार की सारी हदें, अगवा बच्ची की हत्या कर 2 बच्चों को मरा समझ फेंका
      +10और स्लाइड देखें
      गुस्साई भीड़ ने आरोपी के घर पर धावा बोल दिया। घर में आग लगा दी। इस क्रम में बाइक को लेकर सड़क पर पहुंच गए। बाइक को फूंक दिया गया।
    • किडनैपर ने पार की सारी हदें, अगवा बच्ची की हत्या कर 2 बच्चों को मरा समझ फेंका
      +10और स्लाइड देखें
      सूरज का गला दबाया गया था।
    • किडनैपर ने पार की सारी हदें, अगवा बच्ची की हत्या कर 2 बच्चों को मरा समझ फेंका
      +10और स्लाइड देखें
      तनुजा उर्फ तनु लाॅर्ड बुद्धा स्कूल की छात्रा थी।
    • किडनैपर ने पार की सारी हदें, अगवा बच्ची की हत्या कर 2 बच्चों को मरा समझ फेंका
      +10और स्लाइड देखें
      आपराधिक प्रवृति के छोटू को पहले से ही हिरासत में रखी पुलिस ने सख्ती दिखाई।
    • किडनैपर ने पार की सारी हदें, अगवा बच्ची की हत्या कर 2 बच्चों को मरा समझ फेंका
      +10और स्लाइड देखें
      पुलिसवाले सफल नहीं हुए तो सड़क जाम कर रहे उग्र लोगों पर लाठीचार्ज कर दी गई।
    • किडनैपर ने पार की सारी हदें, अगवा बच्ची की हत्या कर 2 बच्चों को मरा समझ फेंका
      +10और स्लाइड देखें
      परिजन बच्चे को लेकर थाना पहुंचे। सूरज एक ही रट लगा रहा था, छोटू ने मार दिया।
    • किडनैपर ने पार की सारी हदें, अगवा बच्ची की हत्या कर 2 बच्चों को मरा समझ फेंका
      +10और स्लाइड देखें
      लाठीचार्ज के बाद लोग मौके से हटे।
    • किडनैपर ने पार की सारी हदें, अगवा बच्ची की हत्या कर 2 बच्चों को मरा समझ फेंका
      +10और स्लाइड देखें
      हालांकि गुस्साई भीड़ ने भागने के बाद भी पुलिस पर जमकर रोड़े चलाए। गेवालबिगहा और जाम वाले स्थान पर पुलिस पदाधिकारियों की तैनाती कर दी गई है।
    आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
    दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Patna News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
    Web Title: Limits Of Transgression Kidnapping Of Kids And Murder
    (News in Hindi from Dainik Bhaskar)

    Stories You May be Interested in

        More From Patna

          Trending

          Live Hindi News

          0
          ×