--Advertisement--

एनकाउंटर में मारा गया शख्स, पिता ने कहा- मेरा बेटा नहीं था ऐसा कोई काम

पुलिस ने स्थिति को नियंत्रित करने के लिए करीब 17 राउंड गोली चलानी पड़ी।

Dainik Bhaskar

Feb 15, 2018, 06:37 AM IST
Liquor smuggler killed in encounter in Katihar

कटिहार (बिहार). पश्चिम बंगाल से शराब ला रहे तस्कर को पुलिस ने एनकाउंटर में मार गिराया। घटना बुधवार सुबह 4.45 की है। उसकी मौत के बाद पुलिस ने बिना परिजनों को बताए शव को पोस्टमार्टम के लिए कटिहार भेज दिया। इस पर परिजन और स्थानीय लोग आक्रोशित हो गए। उन्होंने सुबह सात से दोपहर एक बजे तक छह घंटे तक बारसोई थाने में जमकर तोड़फाेड़ की और सड़क जाम कर आगजनी की। स्थिति को नियंत्रित करने के लिए पुलिस को 17 राउंड फायरिंग करनी पड़ी।

- परिजन व स्थानीय लाेग मृतक मुन्ना नुनियां (28 वर्ष) के परिजनों को 10 लाख रुपए मुआवजा देने की मांग कर रहे थे।

- साथ ही, कचना ओपी प्रभारी दिलीप ओझा के निलंबन और एनकाउंटर में शामिल पुलिसकर्मियों को निलंबित करने की मांग की।

- इसके बाद एसपी डॉ. सिद्धार्थ मोहन जैन भी मौके पर पहुंचे और लोगों के साथ बैठक की, तब जाकर मामला शांत हुआ।

- घटना की सूचना पर विधायक महबूब आलम, पूर्व मंत्री दुलाल गोस्वामी भी पहुंचे अौर उन्होंने दोषी पुलिस कर्मियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की।

पिता ने कहा- बेटा नहीं करता था शराब की तस्करी

- पश्चिम बंगाल से शराब लेकर आ रहे एक तस्कर को पुलिस ने बुधवार को एनकाउंटर में मार गिराया। बिना परिजनों को सूचना दिए ही आनन-फानन में शव को पोस्टमार्टम हेतु कटिहार भेज दिया।

- इसके विरोध में स्थानीय ग्रामीणों ने एनकाउंटर को फर्जी बताते हुए बारसोई थाने में छह घंटे तक करीब सुबह सात से दोपहर एक बजे तक आगजनी व प्रदर्शन करते हुए सड़क को जाम कर दिया।
- इसके साथ ही बाजार को भी बंद करवा दिया। लोग कचना थानाध्यक्ष दिलीप ओझा व अन्य पुलिसकर्मियों के निलंबन के साथ ही घटना के न्यायिक जांच की मांग पर अड़े थे।

- मृतक की पत्नी लक्खी देवी और उसके पिता ब्रह्मदेव नुनियां का कहना है कि उसका बेटा मुन्ना शराब का कारोबार नहीं करता था। वह किसी काम से पश्चिम बंगाल गया था।

- पुलिस ने बिना छानबीन किए हुए उसका एनकाउंटर कर दिया। जबकि एसपी डॉक्टर सिद्धार्थ मोहन जैन का कहना है कि शराब तस्कर को पुलिस ने एनकांउटर में मार गिराया है।

बोले विधायक- मुन्ना का हुअा है फर्जी एनकाउंटर

वहीं विधायक महबूब आलम ने पूरी तरह मुन्ना नुनियां मामले को फर्जी एनकांउटर बताया है। उन्होंने मृतक की पत्नी को 10 लाख का मुआवजा देने की मांग की है। मुन्ना नुनियां की पत्नी का रो-रोकर बुरा हाल था। वह गर्भवती है और एक दो साल का बच्चा भी है। उसके सामने समस्या भविष्य की है कि अब बच्चों की परवरिश कौन करेगा। मृतक के शव का पोस्टमार्टम करने के लिए मेडिकल बोर्ड का गठन किया गया है।

ऐसे हुआ एनकाउंटर

- पुलिस के मुताबिक, बुधवार की अहले सुबह लगभग 4:45 बजे पर दो बाइक पर सवार कुछ लोगों को जांच के लिए रुकने का इशारा किया गया।

- ये लोग पश्चिम बंगाल के रायगंज क्षेत्र से आ रहे थे। पुलिस का कहना है कि पुलिस को देखते ही बाइक सवार भागने लगे और एक पुलिस कर्मी पर बाइक भी चढ़ा दी।

- जवाबी कार्रवाई करते हुए पुलिस ने गोली चलाई जिसमें 28 वर्षीय मुन्ना नुनियां की मौत हो गई, शेष भागने में सफल रहे।

- पुलिस ने मुन्ना नुनियां को लेकर स्थानीय अस्पताल पहुंची जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित किया।

पुलिस को चलानी पड़ी 17 राउंड गोली

- पुलिस ने स्थिति को नियंत्रित करने के लिए करीब 17 राउंड गोली चलानी पड़ी। कई बार उत्तेजित भीड़ ने पुलिस को खदेड़ा तो कई बार पुलिस ने भीड़ को खदेड़ा।

- यही कारण रहा कि कई बार अपनी सुरक्षा और भीड़ को तितर-बितर करने के लिए पुलिस ने एक बार नौ चक्र, दूसरी बार पांच चक्र और तीसरी बार राउंड फायरिंग की।

- लगभग एक बजे के बाद एसपी मौके पर पहुंचे।

Liquor smuggler killed in encounter in Katihar
Liquor smuggler killed in encounter in Katihar
Liquor smuggler killed in encounter in Katihar
Liquor smuggler killed in encounter in Katihar
Liquor smuggler killed in encounter in Katihar
X
Liquor smuggler killed in encounter in Katihar
Liquor smuggler killed in encounter in Katihar
Liquor smuggler killed in encounter in Katihar
Liquor smuggler killed in encounter in Katihar
Liquor smuggler killed in encounter in Katihar
Liquor smuggler killed in encounter in Katihar
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..