--Advertisement--

​ओवरटेक कर बाइक रोकी फिर पीठ पर टंगा बैग लूटा, सीसीटीवी में कैद हुई वारदात

जख्मी पंकज मदद के लिए पुकारता रहा, लेकिन कोई आगे नहीं आया।

Dainik Bhaskar

Jan 24, 2018, 05:09 AM IST
बाइक सवार अकाउंटेंट के साथ चल रहे बुलेट सवार अपराधी (लाल घेरे में)। बाइक सवार अकाउंटेंट के साथ चल रहे बुलेट सवार अपराधी (लाल घेरे में)।

भागलपुर. यहां के एसएसपी आवास से महज 200 मीटर की दूरी पर महिंद्रा शोरूम के अकाउंटेंट पंकज शर्मा से बदमाशों करीब 11 लाख रुपए लूट लिए। बताया जा रहा है कि पंकज जैसे ही शोरुम से निकला, बाइक सवार बदमाश उसे पीछे चलने लगे। कम भीड़ वाला इलाका देख बदमाशों ने ओवरटेक कर पंकज की बाइक रुकवाई और पीठ पर टंगा रुपए से भरा बैग लूट लिया। इस दौरान एक बदमाश ने पंकज पर गोली भी चला दी। पूरा मामला पास में लगे सीसीटीवी में कैद हो गया।

पुलिस कर्मियों को सुनाई दी थी फायरिंग की आवाज

- बताया जा रहा है कि लूट में चली गोली की आवाज एसएसपी आवास में तैनात पुलिसकर्मियों को भी सुनाई दी। हटिया रोड में बीच सड़क पर घटी घटना को कई लोगों ने देखा।

- क्लीनिक के एक स्टाफ के सामने पहले बदमाशों ने पंकज को पीटा और फिर गोली मार दी। स्टाफ ने हिम्मत दिखाकर रोकने की कोशिश की, लेकिन बदमाशों ने तमंचा उसी पर तान दिया।

- स्टाफ डर से भागा और क्लिनिक में घुस गया। इसके बाद अपराधियों ने एकाउंटेंट को गोली मारी और रुपए से भरा बैग लूट भागे। जख्मी पंकज मदद के लिए पुकारता रहा, लेकिन कोई आगे नहीं आया।
- गोली लगने से अचेत पंकज बाइक समेत सड़क पर गिर पड़ा। पास में ही डॉ. सोमेन चटर्जी की बाइक भी खड़ी थी।

- फिर किसी तरह उठा और दौड़ते हुए क्लीनिक के भीतर घुस गया और मदद के लिए चिल्लाता रहा। लेकिन कोई मदद न मिलते देख पंकज जेब से मोबाइल निकाल कर फोन लगाने की कोशिश करने लगा। फोन भी नहीं लगा।

- इतने में पंकज क्लीनिक के बाहर सड़क पर बेहोश होकर गिर गया। उसके कंधे से खून बह रह था। हालांकि बाद में क्लीनिक के एक स्टाफ ने ई-रिक्शा से जख्मी को अस्पताल पहुंचाया।

अकाउंटेंट की बाइक के साथ-साथ चल रही थी बदमाशों की मोटरसाइकिल

- लूटपाट से पहले अपराधियों ने पंकज की बारीकी से रेकी की थी। पंकज का पूरा रूटीन बदमाशों को पता था। किस रास्ते से पंकज बैंक आता-जाता है, उसकी भी पूरी जानकारी जुटाई गई थी।

- पंकज अकेले बाइक से चल रहे थे तो अपराधी भी उनके साथ-साथ तीन अलग-अलग बाइक से चल रहे थे। लेकिन पंकज को भनक नहीं लगी।

- बैंक में पैसे जमा करने के समय पंकज के साथ हर दिन एक और स्टाफ रहता था, लेकिन संयोग से मंगलवार को पंकज अकेले बाइक से बैंक जा रहे थे।

- अपराधियों को कैसे पता चला कि मंगलवार को पंकज मोटी रकम लेकर बैंक जाने वाला है। पुलिस का कहना है कि शोरूम के किसी स्टाफ ने ही अपराधियों को जानकारी दी है।

- इसके बाद अपराधी शोरूम के बाहर से ही पंकज के पीछे लग गए। तिलकामांझी मुख्य रास्ते में ट्रैफिक सिग्नल के कारण जाम लग जाता है। इस कारण पंकज हटिया रोड होते हुए बैंक जाते हैं।

- लौटने में भी पंकज इसी रास्ते का उपयोग करते हैं। पुलिस शोरूम में काम करने वाले स्टाफ की कुंडली भी खंगाल रही है। सिटी डीएसपी शहरयार अख्तर ने घटनास्थल और शोरूम पहुंच मामले की जांच की।

एसएसपी ऑफिस के स्टाफ ने किया अपराधियों का पीछा, नहीं पकड़ पाया

ड्यूटी पर जा रहे एसएसपी ऑफिस के एक सिपाही ने इशाकचक थाने की ओर भागे तीनों अपराधियों का कुछ दूर तक पीछा भी किया। एससी-एसटी थाने की गली से होकर अपराधी बरहपुरा वाले रास्ते में घुस गए। इसके बाद उनका सुराग नहीं मिला। निहत्थे सिपाही ने अकेले अपराधियों का इशाकचक थाना तक पीछा किया। भागने वाले तीनों अपराधी एवेंजर बाइक पर सवार थे।

दो बाइक पर सवार 4 अपराधी, घटनास्थल की ओर आते हुए। (लाल घेरे में)। दो बाइक पर सवार 4 अपराधी, घटनास्थल की ओर आते हुए। (लाल घेरे में)।
रुपए से भरा बैग नहीं देने पर अकाउंटेट को गोली मारते अपराधी। (लाल घेरे में) रुपए से भरा बैग नहीं देने पर अकाउंटेट को गोली मारते अपराधी। (लाल घेरे में)
गोली मारने के बाद अपराधी दूसरे साथी को रुपए से भरा बैगे देता हुआ। (लाल घेरे में) गोली मारने के बाद अपराधी दूसरे साथी को रुपए से भरा बैगे देता हुआ। (लाल घेरे में)
गोली लगने के बाद घायल पंकज शर्मा। गोली लगने के बाद घायल पंकज शर्मा।
अकाउंटेंट पंकज को रोकते अपराधी (लाल घेरे में) और क्लिनिक के बाहर खड़ा स्टाफ ब्लू जैकेट में। अकाउंटेंट पंकज को रोकते अपराधी (लाल घेरे में) और क्लिनिक के बाहर खड़ा स्टाफ ब्लू जैकेट में।
बाइक सवार अकाउंटेंट से मारपीट करता शॉल ओढ़े अपराधी व मौजूद दो अन्य अपराधी (लाल घेरे में)। बाइक सवार अकाउंटेंट से मारपीट करता शॉल ओढ़े अपराधी व मौजूद दो अन्य अपराधी (लाल घेरे में)।
मारपीट देख क्लिनिक का स्टाफ बचाने दौड़ा तो एक अपराधी ने पिस्तौल निकाल ली। (लाल घेरे में) मारपीट देख क्लिनिक का स्टाफ बचाने दौड़ा तो एक अपराधी ने पिस्तौल निकाल ली। (लाल घेरे में)
गोली लगने के बाद गिरा जख्मी अकाउंटेंट और सड़क पर गिरी उसकी बाइक (लाल घेरे में) गोली लगने के बाद गिरा जख्मी अकाउंटेंट और सड़क पर गिरी उसकी बाइक (लाल घेरे में)
अकाउंटेंट को मायागंज अस्पताल में भर्ती कराने के बाद वहां पहुंचे शोरूम के सभी स्टाफ व परिजन। अकाउंटेंट को मायागंज अस्पताल में भर्ती कराने के बाद वहां पहुंचे शोरूम के सभी स्टाफ व परिजन।
तिलकामांझी हटिया रोड में महिंद्रा शोरूम के अकाउंटेंट से लूटपाट के बाद जांच को पहुंचे डीएसपी शहरयार अख्तर व तिलकामांझी के थाना प्रभारी। तिलकामांझी हटिया रोड में महिंद्रा शोरूम के अकाउंटेंट से लूटपाट के बाद जांच को पहुंचे डीएसपी शहरयार अख्तर व तिलकामांझी के थाना प्रभारी।
मनोज कुमार, एसएसपी। मनोज कुमार, एसएसपी।
X
बाइक सवार अकाउंटेंट के साथ चल रहे बुलेट सवार अपराधी (लाल घेरे में)।बाइक सवार अकाउंटेंट के साथ चल रहे बुलेट सवार अपराधी (लाल घेरे में)।
दो बाइक पर सवार 4 अपराधी, घटनास्थल की ओर आते हुए। (लाल घेरे में)।दो बाइक पर सवार 4 अपराधी, घटनास्थल की ओर आते हुए। (लाल घेरे में)।
रुपए से भरा बैग नहीं देने पर अकाउंटेट को गोली मारते अपराधी। (लाल घेरे में)रुपए से भरा बैग नहीं देने पर अकाउंटेट को गोली मारते अपराधी। (लाल घेरे में)
गोली मारने के बाद अपराधी दूसरे साथी को रुपए से भरा बैगे देता हुआ। (लाल घेरे में)गोली मारने के बाद अपराधी दूसरे साथी को रुपए से भरा बैगे देता हुआ। (लाल घेरे में)
गोली लगने के बाद घायल पंकज शर्मा।गोली लगने के बाद घायल पंकज शर्मा।
अकाउंटेंट पंकज को रोकते अपराधी (लाल घेरे में) और क्लिनिक के बाहर खड़ा स्टाफ ब्लू जैकेट में।अकाउंटेंट पंकज को रोकते अपराधी (लाल घेरे में) और क्लिनिक के बाहर खड़ा स्टाफ ब्लू जैकेट में।
बाइक सवार अकाउंटेंट से मारपीट करता शॉल ओढ़े अपराधी व मौजूद दो अन्य अपराधी (लाल घेरे में)।बाइक सवार अकाउंटेंट से मारपीट करता शॉल ओढ़े अपराधी व मौजूद दो अन्य अपराधी (लाल घेरे में)।
मारपीट देख क्लिनिक का स्टाफ बचाने दौड़ा तो एक अपराधी ने पिस्तौल निकाल ली। (लाल घेरे में)मारपीट देख क्लिनिक का स्टाफ बचाने दौड़ा तो एक अपराधी ने पिस्तौल निकाल ली। (लाल घेरे में)
गोली लगने के बाद गिरा जख्मी अकाउंटेंट और सड़क पर गिरी उसकी बाइक (लाल घेरे में)गोली लगने के बाद गिरा जख्मी अकाउंटेंट और सड़क पर गिरी उसकी बाइक (लाल घेरे में)
अकाउंटेंट को मायागंज अस्पताल में भर्ती कराने के बाद वहां पहुंचे शोरूम के सभी स्टाफ व परिजन।अकाउंटेंट को मायागंज अस्पताल में भर्ती कराने के बाद वहां पहुंचे शोरूम के सभी स्टाफ व परिजन।
तिलकामांझी हटिया रोड में महिंद्रा शोरूम के अकाउंटेंट से लूटपाट के बाद जांच को पहुंचे डीएसपी शहरयार अख्तर व तिलकामांझी के थाना प्रभारी।तिलकामांझी हटिया रोड में महिंद्रा शोरूम के अकाउंटेंट से लूटपाट के बाद जांच को पहुंचे डीएसपी शहरयार अख्तर व तिलकामांझी के थाना प्रभारी।
मनोज कुमार, एसएसपी।मनोज कुमार, एसएसपी।
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..