Hindi News »Bihar »Patna» Man Arrest After 37 Years Of Life Imprisonment

उम्रकैद की सजा के बाद 37 वर्षों से फरार था ये शख्स, अयोध्या के मठ से अरेस्ट

हत्या करने के बाद वह फरार हो गया था। बाद में हाईकोर्ट ने उसे उम्रकैद की सजा सुनाई थी।

Bhaskar News | Last Modified - Mar 15, 2018, 03:52 AM IST

  • उम्रकैद की सजा के बाद 37 वर्षों से फरार था ये शख्स, अयोध्या के मठ से अरेस्ट

    पटना/बिहटा. बिहटा के नेउरी गांव में सुगन सिंह की हत्या में आजीवन कारावास की सजा मिलने के बाद फरार सुरेश सिंह को पुलिस ने अयोध्या के नया घाट स्थित साकेत भवन मठ से गिरफ्तार कर लिया। वर्ष 1981 में उसने इलाके के सुगन को बोटी-बोटी कर काट डाला था। बिहटा थाने में सुरेश पर हत्या का केस कांड सं. 206/81 दर्ज हुआ था। हत्या करने के बाद वह फरार हो गया था। बाद में हाईकोर्ट ने उसे उम्रकैद की सजा सुनाई थी।


    सजा होने के बाद उसने अयोध्या में ठिकाना बना लिया। 37 साल के बाद पटना पुलिस की टीम ने अयोध्या स्थित मठ से गिरफ्तार कर लिया। जिस वक्त सुरेश ने हत्या की थी उस वक्त वह जवान था। गिरफ्तारी के वक्त वह साधु की तरह दिख रहा था। इधर, उसकी गिरफ्तारी की सूचना मिलने के बाद उसके गांव में चर्चा का बाजार गर्म हो गया।

    हाईकोर्ट ने फटकारा था, एक थानेदार नप चुके हैं

    उम्र कैद की सजा होने बाद वह फरार हो गया। पुलिस उसे गिरफ्तार नहीं कर पा रही थी। इसको लेकर पटना हाईकोर्ट ने कई बार पुलिस को कड़ी फटकार लगाई थी। कई बार पुलिस के वरीय अधिकारियों को कोर्ट ने तलब भी किया था। पुलिस के वरीय अधिकारियों की कोर्ट में हो रही बार-बार किरकिरी होती देख, एसएसपी ने करीब एक-डेढ़ साल पहले सुरेश की गिरफ्तार नहीं करने पर तत्कालीन थानेदार को निलंबित कर दिया था।

    जमीन विवाद में की थी हत्या


    दरअसल, जमीन विवाद में सुरेश ने अपने गुर्गों की मदद से पड़ोसी पड़ोसी सुगन को घर से जबरन खींच लिया था। फिर उसके बाद उसे अपने घर में लाकर गड़ासा और तलवार से काट डाला था। इस मामले में लंबी सुनवाई के बाद माननीय न्यायालय एडीजे -13 में सुरेश सिंह को दोषी करार दिया गया एवं आजीवन कारावास की सजा सुनाई गई। इसके खिलाफ सुरेश ने हाईकोर्ट का दरवाजा खटखटाया वहां उसे भी राहत नहीं मिली। जिसके बाद वो घर बार छोड़कर फरार हो गया।

    साकेत भवन के महंत को गायब किया था

    जिस मठ से उसे पकड़ा गया है वहां के एक महंत को गायब कराकर वो खुद महंत बन बैठा था। इस मामले में उस पर अयोध्या में भी उसपर 106/18 केस दर्ज है। पूरे मठ के लोग सुरेश के आचरण से परेशान थे। वह साधु के वेश में ये ढोंगी लग रहा था। इसी को लेकर वहां के कुछ संत समाज उसकी हिस्ट्री भी पता लगा रहे थे। इसी बीच पुलिस ने उसे धर दबोचा

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Patna

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×