--Advertisement--

मैट्रिक और इंटर के टॉपरों को अब हर महीने स्कॉलरशिप, मिलेंगे इतने रुपए

मैट्रिक में टॉप-10 विद्यार्थियों को हर महीने 1200 रुपए जबकि इंटर के टॉप-5 छात्रों को हर महीने 1500 रु दिए जाएंगे।

Danik Bhaskar | Dec 16, 2017, 06:39 AM IST

पटना. बिहार बोर्ड ने मैट्रिक-इंटर के टॉपरों को मिलनेवाली छात्रवृत्ति की राशि तय कर दी है। देशरत्न डॉ. राजेंद्र प्रसाद मेधा छात्रवृत्ति छात्रों को दी जाएगी। मैट्रिक में टॉप-10 विद्यार्थियों को हर महीने 1200 रुपए दिए जाएंगे। इंटर की पढ़ाई के लिए दो वर्षों तक यह पैसा स्टूडेंट के एकाउंट में दिया जाएगा। वहीं इंटर में हर संकाय के टॉप-5 छात्रों को हर महीने 1500 रुपए की छात्रवृत्ति दी जाएगी।


इंटर के टॉपर्स तीन, चार या पांच साल, जो भी डिग्री कोर्स चुनते हैं, उसके अनुसार छात्रवृत्ति दी जाएगी। शुक्रवार को बिहार बोर्ड में आयोजित बैठक में यह फैसला लिया गया। बोर्ड ने सर्वसम्मति से छात्रवृत्ति की राशि को मंजूरी दी। बोर्ड अध्यक्ष आनंद किशोर ने बताया कि छात्रवृत्ति की नियमावली भी तैयार की गई है। बोर्ड ने इसकी राशि तय कर दी है। इस छात्रवृत्ति की घोषणा तीन दिसंबर को डॉ. राजेंद्र प्रसाद की जयंती पर आयोजित मेधा सम्मान समारोह के दौरान मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने की थी। इसी साल से छात्रवृत्ति की व्यवस्था शुरू की जा रही है।

हर साल 60 फीसदी अंक लाना जरूरी


जिन टॉपर्स को बिहार बोर्ड की ओर से छात्रवृत्ति दी जाएगी, उन्हें आगे की पढ़ाई में भी अच्छे अंक लाने होंगे। तभी उनकी छात्रवृत्ति जारी रह पाएगी। अध्यक्ष ने बताया कि मैट्रिक के छात्र को 11वीं में 60 फीसदी अंक लाना होगा, तभी उन्हें आगे छात्रवृत्ति दी जाएगी। ऐसा ही नियम इंटर के टॉपर्स के लिए भी लागू होगा।

इस बार 44 छात्र होंगे लाभान्वित

छात्रवृत्ति की राशि इस साल टॉप किए छात्रों को मिलनी शुरू हो जाएगी। मैट्रिक और इंटर परीक्षा-2017 में कुल 44 टॉपर्स हैं। इन्हें यह छात्रवृत्ति दी जाएगी। 2017 में मैट्रिक के 22 और इंटर के तीनों संकाय में 22 टॉपर्स हैं। बोर्ड अध्यक्ष ने बताया कि टॉपरों को छात्रवृत्ति संबंधी सारी जानकारी बिहार बोर्ड द्वारा पत्र, मोबाइल और उनके मेल पर दी जाएगी। छात्रवृत्ति लेने के लिए टॉपर्स को आगे की क्लास में नामांकन का सबूत देना होगा। अध्यक्ष ने कहा कि टॉपर्स जब बिहार बोर्ड के आगे नामांकन का सबूत देंगे, तभी उन्हें छात्रवृत्ति की राशि दी जाएगी।

माह की पहली तारीख को क्रेडिट होगी राशि


अध्यक्ष ने बताया कि छात्रवृत्ति की राशि टॉपर्स को हर महीने की पहली तारीख को उनके एकाउंट में आरटीजीएस के जरिए भेज दी जाएगी। सभी टॉपर्स से उनका एकाउंट नंबर भी बिहार बोर्ड लेगा। दिसंबर में प्रक्रिया पूरी कर ली जाएगी। इसके बाद जनवरी से छात्रवृत्ति की राशि एकाउंट में जाएगी।

पूरे सत्र का दिया जाएगा पैसा

बोर्ड अध्यक्ष आनंद किशोर ने बताया कि मैट्रिक या इंटरमीडिएट के टॉपरों को पूरे सत्र के दौरान छात्रवृत्ति की राशि दी जाएगी। वर्ष 2017 के टॉपरों को भी नामांकन के महीने से पैसा दिया जाएगा। उन्हें पूरे सत्र का पैसा दिया जाएगा। छात्रों को सिर्फ साल में एक बार इसका सबूत देना होगा उनकी पढ़ाई जारी है और आगे वे किस क्लास में गए हैं।