Hindi News »Bihar »Patna» Middle School Made In Bihar On Lines Of Train

चौंकिए मत! ये कोई एक्सप्रेस ट्रेन नहीं, बिहार का आदर्श मध्य विद्यालय है...

इसे आदर्श विद्यालय का दर्जा प्राप्त है। स्कूल की दीवार पर ट्रेन की पेंटिंग की गई है

Bhaskar News | Last Modified - Feb 11, 2018, 06:11 AM IST

  • चौंकिए मत! ये कोई एक्सप्रेस ट्रेन नहीं, बिहार का आदर्श मध्य विद्यालय है...
    +5और स्लाइड देखें
    ऊपर की फोटो किसी एक्सप्रेस या सुपरफास्ट ट्रेन की नहीं है बल्कि ये बिहार के समस्तीपुर में स्थित एक मिडिल स्कूल है।

    समस्तीपुर (बिहार).ऊपर की फोटो किसी एक्सप्रेस या सुपरफास्ट ट्रेन की नहीं है बल्कि ये बिहार के समस्तीपुर में स्थित एक मिडिल स्कूल है। इसे आदर्श विद्यालय का दर्जा प्राप्त है। स्कूल की दीवार पर ट्रेन की पेंटिंग की गई है। नाम शिक्षा एक्सप्रेस दिया गया है। इसका श्रेय स्कूल के हेडमास्टर रामप्रवेश ठाकुर को जाता है।

    हेडमास्टर ने बताया ऐसे आया आइडिया

    - हेडमास्टर राम प्रवेश ठाकुर ने बताया कि दैनिक भास्कर की मैगजीन “अहा जिंदगी’ के 21 जनवरी के अंक में छपे आर्टिकल “बिहार की दीवारों पर अब रंग बोलते हैं...’ से पेंटिंग की प्रेरणा मिली।
    - स्थानीय कलाकार बसंत माझी का सहारा लिया और पेंटिंग को मूर्तरूप दे दिया। उन्होंने बताया कि पेंटिंग में शुरू से ही रुचि है। पेंटिंग के बाद विद्यार्थियों का आकर्षण बढ़ा है।
    - बता दें कि स्कूल की व्यवस्था भी बेहतर है। इस शिक्षा एक्सप्रेस को लेकर यहां के बच्चों का मानना है कि शिक्षा एक्सप्रेस नाम है और यहां की शिक्षा व्यवस्था भी एक एक्सप्रेस ट्रेन की तरह है।
    - स्कूल में कुल 750 बच्चे हैं और 14 टीचर हैं। स्कूल में कुल 27 कमरे हैं जबकि इस स्कूल की स्थापना 1925 में की गई थी।

  • चौंकिए मत! ये कोई एक्सप्रेस ट्रेन नहीं, बिहार का आदर्श मध्य विद्यालय है...
    +5और स्लाइड देखें
    स्कूल की दीवार पर ट्रेन की पेंटिंग की गई है। नाम शिक्षा एक्सप्रेस दिया गया है।
  • चौंकिए मत! ये कोई एक्सप्रेस ट्रेन नहीं, बिहार का आदर्श मध्य विद्यालय है...
    +5और स्लाइड देखें
    इसका श्रेय स्कूल के हेडमास्टर रामप्रवेश ठाकुर को जाता है।
  • चौंकिए मत! ये कोई एक्सप्रेस ट्रेन नहीं, बिहार का आदर्श मध्य विद्यालय है...
    +5और स्लाइड देखें
    हेडमास्टर राम प्रवेश ठाकुर ने बताया कि दैनिक भास्कर की मैगजीन “अहा जिंदगी’ के 21 जनवरी के अंक में छपे आर्टिकल “बिहार की दीवारों पर अब रंग बोलते हैं...’ से पेंटिंग की प्रेरणा मिली।
  • चौंकिए मत! ये कोई एक्सप्रेस ट्रेन नहीं, बिहार का आदर्श मध्य विद्यालय है...
    +5और स्लाइड देखें
    स्थानीय कलाकार बसंत माझी का सहारा लिया और पेंटिंग को मूर्तरूप दे दिया।
  • चौंकिए मत! ये कोई एक्सप्रेस ट्रेन नहीं, बिहार का आदर्श मध्य विद्यालय है...
    +5और स्लाइड देखें
    बता दें कि स्कूल की व्यवस्था भी बेहतर है। इस शिक्षा एक्सप्रेस को लेकर यहां के बच्चों का मानना है कि शिक्षा एक्सप्रेस नाम है और यहां की शिक्षा व्यवस्था भी एक एक्सप्रेस ट्रेन की तरह है।
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Patna

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×