--Advertisement--

एक साल तक दो मौलवी नाबालिग का करते रहे यौन शोषण, फिर कर दिया मर्डर

साजिश रचकर चार जनवरी 2018 को रात में बुलाकर मकई के खेत में चाकू से गला रेतकर हत्या कर दी।

Danik Bhaskar | Jan 15, 2018, 05:38 AM IST

पूर्णिया. यहां के जलालगढ़ थाना एरिया के रहने वाली एक 14 साल की नाबालिग की गला रेतकर हत्या कर दी गई थी। मामले में मदरसा के चार मौलवी मो. मोजाहिद, सहबुदीन, मो. जफर और मो. सादिक को गिरफ्तार किया गया है। पुलिस अफसर राजकुमार साह ने बताया कि मृतका घर के आगे मदरसा में पढ़ती थी। मदरसे में ही मृतका को जफर नामक मौलवी से प्रेम हो गया। लगभग एक वर्ष तक मौलवी नाबालिग का यौन शोषण करता रहा।

फिर दूसरे मौलवी को लड़की से हुआ प्यार

कुछ अनबन होने के कारण कुछ दिनों बाद मदरसा का ही मौलवी सादिक भी मृतका से प्यार करने लगा। इसने भी मौलवी का यौन शोषण किया। शादी करने का झांसा देकर दोनों मौलवी लड़की के साथ शारीरिक संबंध बनाता रहा। कुछ दिनों के बाद लड़की दोनों मौलवी पर शादी करने का दबाव बनाने लगी। लड़की का कहना था कि दोनों में से कोई एक हमसे शादी कर ले नहीं तो हम घरवालों को ये बता देंगे। इसके बाद दोनों मौलवी ने मिलकर लड़की की हत्या कर दी।

हत्या में प्रयुक्त चाकू भी किया बरामद

राजकुमार साह के नेतृत्व में एक टीम गठित किया। टीम में उनके अलावा कई अन्य अफसर भी शामिल थे। हत्या में उपयोग हुए चाकू को भी बरामद कर लिया गया है और आरोपियों पर कार्रवाई की जा रही है। पूछताछ में मौलवियों ने बताया कि शादी का दबाव बनाने पर दोनों ने हत्या की साजिश रची। फिर इसमें दो और मौलवी को शामिल किया गया। मदरसे की बदनामी के डर से चारों मौलवी ने मिलकर लड़की को रास्ते से हटाने का निर्णय लिया। साजिश रचकर चार जनवरी 2018 को रात में बुलाकर मकई के खेत में चाकू से गला रेतकर हत्या कर दी। अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी ने बताया कि जिस रात उसकी हत्या हुई, मृतका के घर के बगल में नाच गाने का प्रोग्राम चल रहा था।