--Advertisement--

रोड एक्सीडेंट में बेटे की मौत, सदमा बर्दाश्त नहीं कर पाई मां, दे दी अपनी जान

एक्सीडेंट सिटी के मानस नगर में शुक्रवार की सुबह हुआ। सात घंटे के बाद ही मां ने ट्रेन के आगे कूदकर सुसाइड कर ली।

Danik Bhaskar | Dec 23, 2017, 03:13 AM IST

सहरसा. उत्तर प्रदेश के मेरठ में इंजीनियरिंग कॉलेज में पढ़ रहे बेटे आदित्य आर्य की रोड एक्सीडेंट में मौत के बाद मां शकुंतला देवी ने भी मौत को गले लगा लिया। एक्सीडेंट सिटी के मानस नगर में शुक्रवार की सुबह हुआ। सात घंटे के बाद ही मां ने ट्रेन के आगे कूदकर सुसाइड कर ली।

महिला के पति गए थे बाहर

पेशे से एडवोकेट शकुंतला देवी के हसबैंड अनिल कुमार झा एक दिन पहले ही घर से बाहर गए थे। अनिल कुमार झा को शुक्रवार की सुबह जैसे ही मेरठ में बेटे आदित्य की एक्सीडेंट में मौत की खबर मिली वे गांव से सहरसा के लिए निकल गए। लेकिन तब तक उनकी पत्नी ने भी ट्रेन के आगे कूदकर सुसाइड कर लिया।

मां को सुबह मिल गई थी बेटे के मौत की खबर

बेटे की मौत की खबर उसकी मां शकुंतला को सुबह मिल गई थी। किसी को कुछ बताए बिना वह घर बंद कर निकल गयी। इधर पड़ोस में रहने वाले आदित्य के दोस्त पियूष के मोबाइल पर भी दोस्त आदित्य की मौत होने की सूचना आ गयी थी। पड़ोसी खबर देने शकुंतला के घर गए लेकिन वहां ताला लगा हुआ था। कुछ देर बाद कुछ लोगों को पता चला कि गांव के पास ही रेलवे ट्रैक पर एक महिला की लाश पड़ी है। लाश की पहचान आदित्य आर्य की मां शकुंतला के रूप में हुई।

बदहवास स्थिति में ट्रेन से कूदने की जताई गई आशंका

कहा जा रहा है कि शकुंतला पटना जाने वाली ट्रेन के बजाए पूर्णिया तरफ जाने वाली ट्रेन में चढ़ गयी। इसी दौरान बीच रास्ते में वो बदहवास स्थिति में ट्रेन से कूद गयी होगी। हालांकि इस हादसे का कोई प्रत्यक्षदर्शी नहीं मिला लेकिन डेडबॉडी देखने से लग रहा है कि उनकी मौत गिरने से हुई होगी। सिर और हाथ में चोट के निशान देख ऐसा लगा कि चलती ट्रेन से गिरने या टकराने से ही उसकी मौत हुई होगी।

बाइक से सामान लेने निकला था

मेरठ में आदित्य के क्लासमेट सहरसा के रहने वाले आशीष ने फोन पर संपर्क होने पर बताया कि आदित्य गुरूवार की रात अपने कॉलेज के ही तीसरे सेमेस्ट के स्टूडेंट गौरव के साथ बाइक से कुछ समान लेने निकला। हालांकि रूम में रहने वाले क्लासमेंट ने मना किया था। कुछ देर बाद मेरठ हाईवे पर बाइक एक्सीडेंट की खबर मिली। दोनों की मौत घटनास्थल पर हो गयी थी। आशीष ने कहा कि मेरठ पुलिस यह बता रही है कि डिवाईडर से टकराने की वजह से मौत हुई है लेकिन शव को देखने से ऐसा लगा कि किसी बड़े गाड़ी ने रौंद दिया है। शकुंतला के शव का पोस्टमार्टम करा कर परिजनों को सुपुर्द कर दिया गया है।