--Advertisement--

शादी में डांस के दौरान विवाद का बदला, बोलेरो से भाइयों को रौंदा,एक की मौत

गुस्साए लोग जानबुझकर दोनों भाइयों पर बोलेरो चढ़ाए जाने का आरोप लगा रहे थे।

Danik Bhaskar | Dec 10, 2017, 05:19 AM IST
मृतक रोहित का फाइल फोटो और घायल विशाल सिंह। मृतक रोहित का फाइल फोटो और घायल विशाल सिंह।

आरा. शाहपुर थाना एरिया में आरा-बक्सर एनएच -84 पर ईंटवा गांव के पास शुक्रवार की देर रात एक अनियंत्रित बोलेरो ने बाइक सवार दो ममेरे-फुफेरे भाइयों को रौंद डाला। जिसमें एक बाइक सवार एक युवक की मौत हो गयी। जबकि, उसका फूफेरा भाई गंभीर रूप से घायल हो गया। हादसे में मौत के बाद मृतक परिजनों ने यहां काफी हो-हंगामा मचाया। गुस्साए लोग जानबुझकर दोनों भाइयों पर बोलेरो चढ़ाए जाने का आरोप लगा रहे थे। बाद में शाहपुर थाना पुलिस ने वहां पहुंच स्थिति को संभाला। पुलिस ने बोलेरो को जब्त कर लिया है। चालक समेत उसमें सवार लोग भाग निकलने में सफल हो गए। घटना रात करीब एक बजे की है।

मृतक 18 साल का रोहित सिंह शाहपुर थाना के ईंटवा गांव का रहने वाला था। जबकि, गंभीर रूप से घायल बक्सर जिले के कृष्णाब्रह्म थाना के छतनवार गांव के रहने वाले 17 साल के विशाल का इलाज सदर अस्पताल में कराया जा रहा है।

पड़ोसी के घर आई थी बारात

बताया जा रहा कि शाहपुर थाना के ईंटवा गांव निवासी जनार्दन सिंह की बेटी की बारात शुक्रवार की रात बड़हरा प्रखंड के कृष्णगढ़ थाना के गुंडी गांव से आई हुई थी। ईंटवा गांव निवासी सुनील सिंह का पुत्र रोहित अपने फुफेरे भाई विशाल सिंह के साथ शिवमंदिर के पास बारातियों के जनवासा में नाच देखने गया हुआ था। जहां पर मनपसंद गीत बजवाने को लेकर गांव के ही दूसरे गुट के युवकों से वाद-विवाद हुआ था। इस दौरान दोनों ममेरे-फुफेरे भाई बाइक से अपने घर लौट रहे थे। इस बीच आरा-बक्सर नेशनल हाईवे ईंटवा गांव के मोड़ के समीप ही बेलगाम बोलेरो ने बाइक सवार दोनों भाइयों को रौंद डाला। जिसमें रोहित की मौत हो गयी। जबकि, विशाल घायल हो गया। गाड़ी की रफ्तार इतनी तेज थी कि बिजली का पोल भी क्षतिग्रस्त हो गया। बाइक के परखच्चे उड़ गए। परिजनों का आरोप है कि जनवासा में विवाद के बाद दूसरे गुट के युवकों ने घर से बोलेरो मंगायी थी। इसके बाद जानबूझकर घर लौट रहे बाइक सवार भाइयों का पीछा कर उनपर बोलेरो चढ़ा दी। जिसमें रोहित की मौत हो गयी। इसके बाद कोहराम मच गया। गुस्साए लोग सड़क पर उतर गए। बाद में पुलिस भी पहुंच गयी।

जानबूझकर गाड़ी चढ़ाने का लगाया आरोप

जिस बोलेरो से यह घटना घटित हुई हैं। वह ईंटवा गांव के ही एस.एन यादव की बतायी जा रही है। परिजनों के अनुसार एक साल पहले क्रिकेट मैच में जीत-हार को लेकर युवकों के दोनों गुटों के बीच विवाद हुआ था। ईंटवा गांव निवासी सुनील सिंह को दो पुत्र थे। जिसमें रोहित बड़ा था। वह आईएसी में पढ़ता था। बड़े बेटे की मौत के बाद मां पिंकी देवी का रो-रोकर बुरा हाल हो गया है। बताया जा रहा कि रोहित सिंह की चचेरी बुआ की बारात दस दिसंबर को आ रही है। अचानक मौत के बाद शादी-विवाह वाले घर में मातम पसर गया है।

घायल विशाल सिंह। घायल विशाल सिंह।
मृतक रोहित का फाइल फोटो।  मृतक रोहित का फाइल फोटो।