--Advertisement--

रात में पूजा पंडाल से लौट रही बच्ची की ऐसे की हत्या, कई जगह थे जख्म के निशान

बताया जाता है कि सरस्वती पूजा के अवसर पर सांस्कृतिक कार्यक्रम अायोजित किया गया था।

Danik Bhaskar | Jan 25, 2018, 05:03 AM IST
डेडबॉडी के पास जांच पड़ताल करती पुलिस। डेडबॉडी के पास जांच पड़ताल करती पुलिस।

नवादा. यहां एक बच्ची की अपराधियों ने हत्या कर दी। घटना मंगलवार रात की है। वह सरस्वती पूजा पर आयोजित कार्यक्रम देखकर घर लौट रही थी, काफी देर तक नहीं पहुंची तो लोगों ने तलाश शुरू हुई। सुबह एक गली में उसका शव पाया जिसपर ईंट-पत्थर से हमले के निशान थे।

भाई ने कहा था घर जाने के लिए

बताया जाता है कि सरस्वती पूजा के अवसर पर सांस्कृतिक कार्यक्रम अायोजित किया गया था। दिनेश प्रसाद की 12 वर्षीय बच्ची सलोनी कुमारी अपने भाई के साथ कार्यक्रम देखने गई थी। उसके भाई ने बताया कि देर रात को उसने सरस्वती पूजा का सांस्कृतिक कार्यक्रम देख रही अपनी बहन को घर जाने को कहा, जिसके बाद वह कार्यक्रम स्थल से घर की ओर वापस लौट गई, मगर वह सुबह तक घर नहीं पहुंची।

घर के पास मिला था शव, कई जगह थे जख्म के निशान

सुबह होते ही ग्रामीणों की नजर गांव की गली में पड़े बच्ची के शव पर पड़ी। बच्ची का शव मिलते ही गांव में कोहराम मच गया। घर के पास मिले शव के आसपास खून के छींटे भी मिले। बच्ची के शव पर ईंट-पत्थर से वार किए जाने के निशान थे। गौरतलब है कि मृत बच्ची के पिता दिल्ली में निजी कंपनी में कार्यरत हैं। भाई ने बताया कि गांव में उनकी किसी के साथ कोई दुश्मनी जैसी बात भी नहीं थी। घटना की सूचना पाकर स्थानीय थाने की पुलिस घटनास्थल पर पहुंची। मामले की गंभीरता को देखते हुए सदर एसडीपीओ विजय कुमार झा ने भी घटनास्थल पर पहुंच मामले की तहकीकात की। बच्ची की निर्मम हत्या की घटना पर परिजनों समेत गांव के लोगों में आक्रोश देखा जा रहा है। घटना की छानबीन के लिए बाहर से फॉरेंसिक टीम और स्निफर डॉग भी बुलाया गया।

वैज्ञानिक तरीके से जांच

घटना की वैज्ञानिक तरीके से जांच की जा रही ताकि घटना में संलिप्त लोगों की जल्द से जल्द गिरफ्तार किया जा सके। हत्या के कारणाें का पता नहीं चल पाया है। बहरहाल, जिले में बेलगाम अपराधियों द्वारा आए दिन अपराध की घटनाओं को अंजाम दिया जा रहा है। आपराधिक घटनाओं के उद्भेदन में कोई सफलता नहीं मिलने से आमलोगों में भय व्याप्त है।

बच्ची के डेडबॉडी के पास डॉग स्क्वॉड। बच्ची के डेडबॉडी के पास डॉग स्क्वॉड।
घर के सामने पड़ी बच्ची की डेडबॉडी। घर के सामने पड़ी बच्ची की डेडबॉडी।
रोते बिलखते बच्ची के परिजन। रोते बिलखते बच्ची के परिजन।