पटना

--Advertisement--

शाम को पत्नी से फोन पर कहा- रात का खाना साथ खाएंगे, सुबह घर पहुंची डेडबॉडी

पंकज और नीतू का एक डेढ़ साल का बेटा है। उधर, हॉस्पिटल के साथी कर्मचारियों ने कहा कि वह बहुत मेहनती था। व्यवहार भी अच्छा

Danik Bhaskar

Jan 25, 2018, 03:28 AM IST
पंकज की हत्या के बाद रोती-बिलखती उसकी पत्नी को ढाढ़स बंधाते परिजन। पंकज की हत्या के बाद रोती-बिलखती उसकी पत्नी को ढाढ़स बंधाते परिजन।

अररिया/पूर्णिया. यहां दवा दुकान में काम करने वाले एक शख्स की चाकू मारकर हत्या कर दी गई। मृतक की पत्नी ने बताया कि मंगलवार शाम को पंकज ने कहा था कि रात को साथ खाएंगे, खाना बनाकर रखना। रात भर नहीं आए। सुबह उनके मौत की खबर मिली। पुलिस ने बताया कि पंकज की चाकू से गोदकर हत्या की गई है, लेकिन घटनास्थल पर खून का एक बूंद नहीं गिरा है। इससे अाशंका जताई जा रही है कि हत्या कहीं और की गई है और लाश को यहां पर फेंका गया।

पत्नी ने पुलिस को दी ये जानकारी

- पुलिस ने मामले की छानबीन शुरू कर दी है। पुलिस का कहना है कि साक्ष्य मिटाने के लिए लाश यहां फेंकी गई है। हालांकि हत्या के कारणों का अभी पता नहीं चला है।
- 30 साल के मृतक पंकज पासवान की पत्नी नीतू ने पुलिस को बताया कि वो पूर्णिया के मैक्स-7 अस्पताल स्थित दवा दुकान में काम करता था।

- पिता सदानन्द पासवान ने बताया कि पंकज मंगलवार को पूर्णिया से घर के लिए चला था। जगेली चौक से उसने पत्नी नीतू को फोन किया था।

- रात का खाना बनाने के लिए बोला और कहा था साथ में खाना खाएंगे। कुछ देर के बाद पत्नी ने फोन किया तो फोन बंद आने लगा और अगले दिन उसका शव घर पहुंचा।

- पत्नी नीतू ने कहा कि उसके पति की अस्पताल कर्मियों से नहीं बनती थी। कई बार उसका अस्पताल के कर्मियों से झगड़ा हुआ था। पत्नी ने थाने में अपना बयान दर्ज कराया है।

सात हजार रुपए मिलती थी सैलरी

- बताया जाता है कि पंकज दवाई दुकान में सात हजार रुपए पगार पर काम करता था। वह रोज समय से अपनी डयूटी पर पहुंचता था।

- लोगों का कहना है कि पंकज के व्यवहार से ऐसा नहीं लगता है कि किसी से उसकी दुश्मनी रही होगी।

- पुलिस के मुताबिक, पंकज मोटरसाइकिल से घर आ रहा था, लेकिन हत्यारों ने उसकी मोटरसाइकिल भी गायब कर दी है।

- डेडबॉडी के पास केवल उसका हेलमेट मिला है, लेकिन पुलिस ने घटनास्थल से कुछ दूरी पर एक चाकू बरामद किया है।

- पंकज और नीतू का एक डेढ़ साल का बेटा है। उधर, हॉस्पिटल के साथी कर्मचारियों ने कहा कि वह बहुत मेहनती था। व्यवहार भी अच्छा था।

- एसपी धूरत शायली ने बताया कि हत्यारे का जल्द ढूंढ लिया जाएगा। हत्यारों की पहचान करने के लिए छानबीन शुरू कर दी गई है। किसी भी सूरत में आरोपी को नहीं बख्शा जाएगा।

मौके पर तफ्तीश करती पुलिस। मौके पर तफ्तीश करती पुलिस।
Click to listen..