--Advertisement--

हत्या के बाद पत्थर से कुचला चेहरा, मां बोली- भगवान बेटे को क्यों? मुझे उठा लेते

आशंका जताई जा रही है कि हत्या के पीछे युवक का किसी लड़की के साथ प्रेम-प्रसंग हो सकता है।

Dainik Bhaskar

Jan 23, 2018, 04:26 AM IST
खेत में पड़ी डेडबॉडी और जांच करती पुलिस। खेत में पड़ी डेडबॉडी और जांच करती पुलिस।

झाझा (भागलपुर). थाना एरिया के पास से दो दिन से लापता युवक का पत्थर से चेहरा कुचला हुआ शव मिला। शव देखने के बाद स्थानीय लोगों द्वारा इसकी जानकारी पुलिस को दी गई। सूचना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने जब युवक की तलाशी ली तो उसके पास से एक पर्स मिला, जिससे उसकी पहचान 18 वर्षीय प्रदीप ठाकुर के रूप में हुई। आशंका जताई जा रही है कि हत्या के पीछे युवक का किसी लड़की के साथ प्रेम-प्रसंग हो सकता है। उधर, प्रदीप की डेडबॉडी देखने के बाद उसकी मां ने कहा कि भगवान मेरे बेटे को क्यों? मुझे उठा लेते।


खून से सना पत्थर मिला

- पुलिस ने जब छानबीन की तो पता चला कि युवक की हत्या घटनास्थल से 100 मीटर दूर कच्ची सड़क पर की गई। फिर शव को घसीटते हुए 100 मीटर की दूरी पर स्थित खेत में लाकर फेंक दिया।

- घटनास्थल पर पहुंचे पुलिस अफसर सिद्धेश्वर पासवान, एसआई दिनेश कुमार, ध्रुव कुमार ने घटनास्थल का मुआयना किया, जहां से उन्हें युवक का पर्स मिला, जबकि युवक के मोबाइल का कुछ पता नहीं चल सका है।

- घटनास्थल से कुछ दूरी पर पुलिस को खून सना पत्थर, सिगरेट का पैकेट व जली हुई सिगरेट का टुकड़ा भी मिला है।

20 जनवरी को घर से निकला था, फोन आ रहा था बंद

- पिता ने बताया कि प्रदीप 20 जनवरी से लापता था। रिश्तेदारों के यहां इसकी तलाश की गई, लेकिन कुछ पता नहीं चला। कई बार मोबाइल पर फोन किया पर उसका फोन बंद आ रहा था। फिर थाने में शिकायत की गई।

- पिता ने यह भी बताया कि प्रदीप उनके साथ सैलून में काम करता था। साथ ही अपने सैलून के काम के बाद वो ट्रक में क्लीनर का काम किया करता था। इससे पहले प्रदीप कोलकात्ता में अपने मामा के यहां रहता था। उसने परिवार की जीविका चलाने के लिए पढ़ाई भी छोड़ दी थी।

- उधर, जमुई के एसपी जगन्नाथ रेड्डी ने बताया कि युवक की हत्या में इस्तेमाल पत्थर बरामद हुआ है। प्रेम-प्रसंग की आशंका जताई जा रही है, लेकिन सबूत नहीं मिला है। घटनास्थल से बरामद साक्ष्य व पोस्टमार्टम रिपोर्ट के आने के बाद खुलासे में मदद मिलेगी।

मां बोली- भगवान मेरे बेटे को क्यों? मुझे उठा लेते

- प्रदीप को घर वाले उसे ढूंढ रहे थे। सोमवार की सुबह उन्हें उसकी हत्या की सूचना मिली। मां अनिता देवी और 70 वर्षीय दादी शांति देवी को जब पता चला तो कहा कि भगवान मुझे उठा लेते, लेकिन मेरे आंख के तारे, मेरे लाल को क्यों उठा लिया? घटना के बाद घर में मातमी सन्नाटा पसर गया। प्रदीप का मोबाइल जब स्वीच ऑफ आ रहा था, तभी मां को अनहोनी की आशंका हो गई थी।

हत्या की खबर के बाद रोती बिलखती प्रदीप की दादी और मां। हत्या की खबर के बाद रोती बिलखती प्रदीप की दादी और मां।
घटनास्थल पर पड़ा खून से सना पत्थर। घटनास्थल पर पड़ा खून से सना पत्थर।
मौके पर जांच पड़ताल करती पुलिस। मौके पर जांच पड़ताल करती पुलिस।
X
खेत में पड़ी डेडबॉडी और जांच करती पुलिस।खेत में पड़ी डेडबॉडी और जांच करती पुलिस।
हत्या की खबर के बाद रोती बिलखती प्रदीप की दादी और मां।हत्या की खबर के बाद रोती बिलखती प्रदीप की दादी और मां।
घटनास्थल पर पड़ा खून से सना पत्थर।घटनास्थल पर पड़ा खून से सना पत्थर।
मौके पर जांच पड़ताल करती पुलिस।मौके पर जांच पड़ताल करती पुलिस।
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..