पटना

--Advertisement--

जान बचाने को गांव छोड़ स्कूल में ली शरण, नक्सलियों ने कर दी दो की हत्या

नक्सलियों से जान बचाने के लिए दर-दर की ठोकर खा रहे गुरमाहा गांव के दो लोगों की शुक्रवार की रात हत्या कर दी गई।

Danik Bhaskar

Mar 03, 2018, 11:58 AM IST
नक्सली प्रमोद को अगवा कर ले गए और मार डाला। नक्सली प्रमोद को अगवा कर ले गए और मार डाला।

जमुई. नक्सलियों से जान बचाने के लिए दर-दर की ठोकर खा रहे गुरमाहा गांव के दो लोगों की शुक्रवार की रात हत्या कर दी गई। गांव के लोग नक्सलियों से बचने के लिए बरहट थाना क्षेत्र के पचेश्वरी स्कूल में शरण लिए हुए थे। रात को करीब 40 नक्सलियों ने स्कूल पर हमला कर दिया। नक्सलियों ने मदन कोड़ा की स्कूल में ही हत्या कर दी। वहीं, मदन के भाई प्रमोद को अगवा कर ले गए और थोड़ी दूर ले जाकर उसकी भी हत्या कर दी।

मुखबिर बताते हैं नक्सली
गौरतलब है कि गुरमाहा गांव के लोगों पर नक्सली पुलिस के लिए मुखबिरी करने का आरोप लगाते हैं। इसी आरोप के चलते नक्सलियों ने कुछ माह पहले मां और उसके बेटे की हत्या कर दी थी। इसके बाद से गांव के लोग घर छोड़कर भाग गए थे।

गांव के लोगों ने जमुई के पत्नेश्वर पहाड़ पर शरण लिया था, लेकिन कुछ दिन बाद उन्हें वहां से हटा दिया गया था। इसके बाद सभी स्कूल में छिपे हुए थे। दो लोगों की हत्या के बाद इन लोगों को अब नक्सलियों के हाथों मारे जाने का डर और अधिक सताने लगा है।

नक्सलियों ने स्कूल में मदन कोड़ा की हत्या कर दी। नक्सलियों ने स्कूल में मदन कोड़ा की हत्या कर दी।
नक्सलियों द्वारा दो लोगों की हत्या के बाद मौके पर जुटी भीड़। नक्सलियों द्वारा दो लोगों की हत्या के बाद मौके पर जुटी भीड़।
गांव के लोग नक्सलियों से बचने के लिए बरहट थाना क्षेत्र के पचेश्वरी स्कूल में शरण लिए हुए थे। गांव के लोग नक्सलियों से बचने के लिए बरहट थाना क्षेत्र के पचेश्वरी स्कूल में शरण लिए हुए थे।
Click to listen..