--Advertisement--

बिहार के सभी यूनिवर्सिटी के लिए तैयार होगा नया पाठ्यक्रम, अगले सत्र से होगा लागू

बैठक में यूनिवर्सिटीज के लिए नया च्वॉइस बेस्ड क्रेडिट सिस्टम के आधार पर नया पाठ्यक्रम तैयार करने का निर्णय लिया गया।

Dainik Bhaskar

Dec 19, 2017, 04:57 AM IST
new curriculum will be prepared for all universities of Bihar

पटना. बिहार के सभी यूनिवर्सिटीज के लिए जल्द ही नए पाठ्यक्रम तैयार किए जाएंगे। साथ ही मार्च 2018 तक ‘एकेडमिक कैलेंडर बन जाएगा और यह अगले सत्र से लागू होगा। राज्यपाल सह कुलाधिपति सत्यपाल मलिक के साथ सोमवार को राजभवन में कुलपतियों की बैठक में यह फैसला लिया गया। राज्यपाल की अध्यक्षता में यूनिवर्सिटीज के क्रियाकलापों की समीक्षा के लिए पहली मासिक बैठक हुई।

कुलाधिपति ने कहा कि राज्य में उच्च शिक्षा में सुधार के लिए चरणबद्ध प्रयास शुरू किए गए हैं। सभी कुलपतियों को बैठकों में लिए गए निर्णयों का शत-प्रतिशत अनुपालन सुनिश्चित करने का निर्देश दिया गया। राज्यपाल ने मार्च 2018 तक ‘एकेडमिक कैलेंडर राजभवन को उपलब्ध करवाने का निर्देश दिया। वहीं विलंबित परीक्षाओं को शीघ्र संचालित कर हर हालत में सत्र को अगले वर्ष से नियमित करने का निर्णय लिया गया।

यूनिवर्सिटीज के शिक्षकों, छात्रों और गैर शैक्षणिक कर्मियों के लिए बायोमेट्रिक हाजिरी अनिवार्य होगी। प्रथम चरण में मार्च तक विवि के शिक्षकों, शिक्षकेत्तर कर्मियों और शोधार्थियों की बायोमैट्रिक हाजिरी अनिवार्य होगी। बैठक में विश्वविद्यालयों में राशि दान से सीनेट का आजीवन सदस्य बनने के लिए निर्धारित राशि 25 हजार को बढ़ाकर 25 लाख करने का निर्णय लिया गया।

संबद्ध कॉलेजों के टीचर को अब आरटीजीएस से खाते में वेतन
संबद्ध कॉलेजों के टीचर अब वेतन के लिए गुहार नहीं लगाएंगे। उन्हें वेतन देने में कॉलेज प्रशासन अब मनमानी नहीं कर पाएगा। कुलाधिपति ने कुलपतियों को इस बावत सख्त निर्देश दिया। कुलाधिपति ने कॉलेजों में शिक्षकों/कर्मियों के वेतन-भुगतान आरटीजीएस के माध्यम से सीधे उनके बैंक-खातों में करने का निर्देश दिया।

हर हाल में विवि और कॉलेज परिसर में वाई-फाई सुविधा देने का निर्देश
राज्यपाल ने कहा कि राज्य सरकार के ‘सात निश्चय’ के अन्तर्गत यूनिवर्सिटीज एवं कॉलेजों में ‘वाई फाई’ चालू करने की योजना है। अभी तक 290 परिसर में ही वाई-फाई सुविधा दी गई है। कुलाधिपति ने कहा कि हर हाल में यह सुविधा छात्रों और कर्मचारियों को उपलब्ध करवाई जाए।

नया पाठ्यक्रम तैयार करने के लिए पीयू के कुलपति बनाएंगे टीम

बैठक में यूनिवर्सिटीज के लिए नया च्वॉइस बेस्ड क्रेडिट सिस्टम के आधार पर नया पाठ्यक्रम तैयार करने का निर्णय लिया गया। राज्यपाल ने इसके लिए पटना यूनिवर्सिटीज के कुलपति को सक्षम एवं अनुभवी अध्यापकों की एक टीम बनाने का निर्देश दिया। जो यूनिवर्सिटीज अनुदान आयोग (यूजीसी) तथा अन्य केन्द्रीय यूनिवर्सिटीज के पाठ्यक्रमों को ध्यान में रखते हुए नया पाठ्यक्रम तैयार करने में सहयोग करेगी। नया पाठ्यक्रम शीघ्र बनाकर चरणबद्ध तरीके से अन्य सभी यूनिवर्सिटीज में भी लागू किया जायेगा। पाठ्यक्रम- निर्धारण में यह प्रयास होगा कि शिक्षा को रोजगारोन्मुखी बनाया जा सके।

X
new curriculum will be prepared for all universities of Bihar
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..