--Advertisement--

बेटे-बेटियों को पढ़ाएं सरकार करेगी पूरा सहयोग, सुपौल की सभा में सीएम ने कहा

नीतीश कुमार ने कहा कि युवाओं के लिए स्टूडेंट क्रेडिट कार्ड योजना के तहत कर्ज देने का फैसला किया है।

Danik Bhaskar | Jan 06, 2018, 04:47 AM IST

सुपौल. सीएम नीतीश कुमार ने राज्यवासियों से अपने बच्चे-बच्चियों को खूब पढ़ाने का आह्वान किया है। शुक्रवार को तीसरे चरण की विकास समीक्षा यात्रा के दूसरे दिन सुपौल के सिमराही में आयोजित सभा में मुख्यमंत्री ने कहा कि बेटे-बेटी को जितना ज्यादा पढ़ाना चाहते हैं, आप पढ़ाइए, चिंता मत करिए, सरकार पूरी मदद देगी। छात्रवृत्ति योजना यथावत जारी रहेगी। हमारे युवा इतने शिक्षित और प्रशिक्षित होंगे कि उन्हें रोजगार के लिए कठिनाई न हो। उन्होंने 304 करोड़ रुपए की योजनाओं का उद्‌घाटन और शिलान्यास किया।


12वीं के बाद पढ़ाई के लिए स्टूडेंट्स को 4 लाख तक का कर्ज

उन्होंने कहा कि युवाओं के लिए स्टूडेंट क्रेडिट कार्ड योजना के तहत कर्ज देने का फैसला किया है। बैंक अपेक्षा के अनुरूप काम नहीं कर रहे हैं। हमने वित्त निगम बनाकर 12वीं के बाद पढ़ने वाले छात्र-छात्राओं को 4 लाख कर्ज देने का फैसला किया है। सीएम ने कहा कि एससी/एसटी और पिछड़े समाज के लोगों के सभी छोटे-बड़े गांवों को पक्की सड़क से जोड़ा जाएगा। सीएम ने कहा कि कोसी विकास का पहला फेज पूरा हो गया है। दूसरे फेज पर काम हो रहा है। कोसी को बेहतर बनाने के लिए 3400 करोड़ रुपए से ज्यादा की योजना पर हम काम कर रहे हैं।

फर्जीवाड़ा करने वालों को शीघ्र करें गिरफ्तार


मुख्यमंत्री ने बैंकों के ग्राहक सेवा केंद्रों पर फर्जीवाड़े की शिकायतों पर तत्काल केस करने का आदेश दिया है। शुक्रवार को मधेपुरा, सहरसा और सुपौल की विकास योजनाओं की समीक्षा करते हुए सीएम ने कहा कि अनपढ़ या कम पढ़े-लिखे लाभुकों का अंगूठा लगा कर पेंशन की रकम निकालने या कम पैसे देने की शिकायतें मिल रही हैं। सभी डीएम जालसाजी करने वालों को तत्काल गिरफ्तारी कराएं।