--Advertisement--

दलित बुजुर्ग की घर में घुसकर आंखें फोड़ीं, फिर चेहरे पर कुल्हाड़ी से वार कर हत्या

दिन में खेली होली और रात में सुना फाग और चैता, सुबह खून से लथपथ मिली लाश

Dainik Bhaskar

Mar 05, 2018, 07:29 AM IST
रजौली भुनेश्वर मांझी की हत्या रजौली भुनेश्वर मांझी की हत्या

रजौली (नवादा). थाना क्षेत्र की टकुयाटांड़ पंचायत के धर्मपुर गांव में शनिवार देर रात अपराधियों ने घर में घुसकर दलित बुजुर्ग भुनेश्वर मांझी की पहले दोनाें आंखें फोड़ दीं फिर चेहरे पर कुल्हाड़ी से वार कर हत्या कर दी। पुलिस हत्या के कारणों की तफ्तीश में जुटी है। विशेष जांच के लिए पटना से फोरेंसिक टीम बुलाई गई है।

मृतक के पिता के नाम पर ही गांव का नाम रखा गया था

ग्रामीणों का कहना है कि 65 साल के भुनेश्वर घर मे अकेले रहते थे। वे शनिवार को लोगों के साथ होली समारोह में भी शामिल हुए थे। रात 11 बजे तक होली व चैता गायन में रहे। ग्रामीण यह भी बताते हैं कि उनकी किसी से कोई दुश्मनी नहीं थी। भुनेश्वर के पिता धर्म मांझी के नाम पर ही गांव का नाम धर्मपुर रखा गया था। गांव के लोग आज भी उनका सम्मान करते हैं।

पहले बच्चे ने देखा था शव

पहले बच्चे ने देखा था शव रविवार की सुबह गांव के लोग शौच के लिए निकले थे, तभी अचानक एक बच्चे की नजर घर के समीप खून से लथपथ भुनेश्वर मांझी के शव पर पड़ी। देखते ही देखते भुनेश्वर मांझी की हत्या की खबर फैल गई। सूचना पर थानाध्यक्ष सह इंस्पेक्टर अवधेश कुमार दलबल के साथ घटनास्थल पर पहुंचे।

एसडीपीओ ने कहा कि हत्यारों को बख्शा नहीं जाएगा। घटना की जांच वैज्ञानिक तरीके से की जाएगी और हत्यारों को जल्द ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

X
रजौली भुनेश्वर मांझी की हत्या रजौली भुनेश्वर मांझी की हत्या
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..