--Advertisement--

ट्रक में फंसा स्टूडेंट जान बचाने के लिए चिल्लाता रहा, भीड़ वीडियो बनाती रही

स्टूडेंट रौनक राज ने खुद ही अपने आधे कटे हुए पैर बाहर निकाले और घसीटता हुआ सड़क पर आया।

Danik Bhaskar | Dec 09, 2017, 06:46 AM IST

हाजीपुर. रामाशीष चौक पर गुरुवार को हुए एक रोड एक्सीडेंट का वीडियो सोशल साइट्स पर वायरल हुआ है जिसे देखकर रोंगटे खड़े हो जाते हैं। घटना में ट्रक में फंसे स्टूडेंट रौनक राज ने खुद ही अपने आधे कटे हुए पैर बाहर निकाले और घसीटता हुआ सड़क पर आया। उसने हाथ से इशारा कर वहां मौजूद लोगों और पुलिस को हेल्प के लिए बुलाया। लेकिन न तो पुलिस उसके पास पहुंची और न ही वहां मौजूद लोग। इंसानियत तो तब हार गई जब वहां मौजूद लोग उसे उठाकर अस्पताल भेजने की बजाए उसका वीडियो बनाने में लगे रहे।

दाहिना पैर काटना पड़ा
एक्सीडेंट में घायल स्टूडेंट की हालत अब भी चिंताजनक बनी हुई है। सदर अस्पताल से रेफर करने के बाद उसे पटना के निजी नर्सिंग होम में भर्ती कराया गया है। जहां डॉक्टरों ने उसके दाहिने पैर को ज्यादा डैमेज होने के कारण काट कर अलग कर दिया है। अभी भी उसे आईसीयू में रखा गया है। उसकी हालत चिंताजनक बनी हुई है। दुर्घटना में घायल होने के बाद अस्पताल पहुंचने में हुई देरी की वजह से उसके शरीर से बहुत खून बह गया था।

50 मीटर तक घिसटता रहा
रौनक राज कोचिंग से लौट रहा था। जब वह रामाशीष चौक के पास बन रहे ओवरब्रिज के निकट वह टर्निंग पर सीधी हो रही गिट्टी लदे ट्रक के नीचे आ गया। उसका साइकिल वहीं गिर पड़ा और मासूम ट्रक के चक्के में फंसा लगभग 50 मीटर तक घसीटता रहा। ट्रक रुका तो रौनक ने बड़ी बहादुरी से खुद को ट्रक के नीचे से बाहर निकाला। उसने पहले अपना शरीर फिर बुरी तरह कुचले हुए पैर को निकाला और हेल्प-हेल्प चिल्लाता रहा।

भीड़ के साथ पुलिस भी बनी रही तमाशबीन
रामाशीष चौक पर गुरुवार को दुर्घटना के समय भी सैकड़ों लोग मौजूद थे। वहां मौजूद पुलिस वाले भी गायब हो गए। गांव के ही किसी जान पहचान वाले कि नजर उसपर पड़ी। उसने ही रौनक के पिता पंकज राय को फोन किया और रौनक को उठा कर सदर अस्पताल ले गया। उसे पटना रेफर कर दिया गया।

दिन भर वायरल हाेता रहा दुर्घटना का वीडियो
भले भी रौनक की किसी ने भी तब मदद नहीं की। लेकिन उसके दुर्घटना का लाइव वीडियो जिसमे वह ट्रक के चक्के से खुद को बाहर निकाल रहा है और मदद मांग रहा है। यह वीडियो सोशल साइट्स पर वायरल हो रहा है। कई सोशल साइड पर भी वीडियो को काफी लोगो ने देखा और मोबाइल पर ही अफसोस भी जाहिर किया। इसे को करीब 15 हजार बार देखा गया।

आगजनी और तोड़फोड़ 6 से ज्यादा की पहचान

वैशाली के एसपी राकेश कुमार ने बताया कि दुर्घटना के बाद ट्रक में आग लगा दी थी। 50 से ज्यादा वाहनों को क्षतिग्रस्त कर दिया था। मामले में 50 अज्ञात लोगों पर प्राथमिकी की गई है। सदर प्रभारी चितरंजन ठाकुर ने बताया कि इनमें 6 से ज्यादा की पहचान हो गई है। वीडियो देखने के बाद कार्रवाई करेंगे। अगर तैनाती के बावजूद वहां से सिपाही गायब रहते हैं तो यह गंभीर मामला है।