--Advertisement--

चौंकिए नहीं, ये कोई झोपड़ी नहीं ये बिहार में छह बेड का सरकारी अस्पताल है

गांववालों ने बताया कि काफी कोशिशों के बाद भी उक्त जमीन पर हॉस्पिटल की बिल्डिंग नहीं बन सकी है।

Dainik Bhaskar

Jan 25, 2018, 04:03 AM IST
मुंगेर में बना प्राइमरी हेल्थ सेंटर। मुंगेर में बना प्राइमरी हेल्थ सेंटर।

भागलपुर. ये कोई झोपड़ी नहीं है। ये बिहार के मुंगेर में छह बेड का अतिरिक्त प्राइमरी हेल्थ सेंटर है। पिछले 25 साल से ये हॉस्पिटल में इसी खपड़ैल के मकान में चल रहा है। ऐसा भी नहीं है कि हॉस्पिटल बिल्डिंग बनाने के लिए जमीन नहीं है। इसके लिए एक रैयत ने 5 कट्‌ठा जमीन वर्ष 1988 में महामहिम राज्यपाल के नाम दान दी थी। उक्त जमीन का मोटेशन भी कर दिया है। लेकिन आज तक उस जमीन पर अस्पताल भवन नहीं बन पाया।

- गांववालों ने बताया कि काफी कोशिशों के बाद भी उक्त जमीन पर हॉस्पिटल की बिल्डिंग नहीं बन सकी है।

- उन्होंने बताया कि अब तो दान में मिली जमीन के आसपास लोग कब्जा भी करने लगे हैं।

- लोगों ने बताया कि छोटी-छोटी बीमारियों के लिए उन्हें बाहर के और प्राइवेट नर्सिंग होम ने जाना पड़ता है।

ऐसी है प्राइमरी हेल्थ सेंटर की स्थिति

- लोगों ने बताया कि कई सालों से ये प्राइमरी सेंटर ऐसे ही पड़ा हुआ है। उन्होंने लास्ट टाइम किसी डॉक्टर को यहां कब देखा था, ये तक याद नहीं हैं।

- बता दें कि हेल्थ सेंटर के चारों ओर झाड़ियां उग गई है। बरसात के मौसम में ये किसी खंडहर से कम नहीं लगता।

- गांव के लोग भी कभी-कभी यहां अपने जानवर लाकर बांध देते हैं। इसके अलावा गांव की महिलाएं हेल्थ सेंटर के बाउंड्री का कैसे यूज करती हैं, ये आप फोटो में देख सकते हैं।

X
मुंगेर में बना प्राइमरी हेल्थ सेंटर।मुंगेर में बना प्राइमरी हेल्थ सेंटर।
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..