--Advertisement--

सजी-धजी बैलगाड़ियों पर निकाली बारात, हैरत भरी नजर से देखते रहे लोग

पूर्वी चंपारण जिले के रक्सौल में प्रदूषण से जनजीवन पर पड़ रहे कुप्रभाव को लेकर लोग सतर्क होने लगे हैं।

Dainik Bhaskar

Mar 08, 2018, 04:04 PM IST
The procession procured on the bullock carts

रक्सौल. पूर्वी चंपारण जिले के रक्सौल में प्रदूषण से जनजीवन पर पड़ रहे कुप्रभाव को लेकर लोग सतर्क होने लगे हैं। इसकी एक बानगी कौड़िहार भगवानपुर के रामनाथ साह ने पेश की। उन्होंने अपने बेटे की शादी में पूरी बारात बैलगाड़ियों पर निकली। बारात ऐसी सजी-धजी निकली कि लोग देखते ही रह गये। बारात में करीब ढाई सौ लोग शामिल हुए। अनिल सजना की शादी खेखरिया निवासी गणोश साह की पुत्री दीपमाला कुमारी के साथ हुए।

बारात देखने को लग गई भीड़
बुधवार शाम को सजी-धजी बैलगाड़ियों पर जब बारात निकली तो देखने वालों की भीड़ जुट गई। सड़क किनारे दोनों ओर बड़ी संख्या में लोग इस अनोखी बारात को देखने के लिए जुटे थे। लोग इसे हैरत भरी नजर से देख रहे थे। बैल गाड़ियों को दुल्हन की तरह सजाया गया था।

इस अनोखे बारात का प्रबंध मंजू साह ने किया था। उनके भांजे अनिल साजन की शादी थी। मंजू ने बताया कि लुप्त हो चुकि परंपरा को जगाने की जरूरत है। हमने सोचा कि फरारी, सफारी, स्कॉरपियो में सबकी बारात जाती है, लेकिन इसमें कुछ अलग नहीं है। मैंने भांजे की शादी के लिए 100 बैलगाड़ी की व्यवस्था की।

फोटो- रविरंजन वर्मा

X
The procession procured on the bullock carts
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..