पटना

--Advertisement--

चार साल से बहाली पर लगी रोक हटाने को स्टूडेंट्स ने रोकी ट्रेन, लोको पायलट को पीटा

आक्रोशित छात्रों ने शुक्रवार दोपहर 12 बजे से रात 9:25 बजे तक यानि 9 घंटे 25 मिनट तक भागलपुर जंक्शन पर जमकर बवाल मचाया।

Danik Bhaskar

Dec 16, 2017, 05:51 AM IST
बहाली की मांग को लेकर ट्रेन के आगे खड़े होकर हंगामा करते छात्र और इंजन से उतरता ड्राइवर। बहाली की मांग को लेकर ट्रेन के आगे खड़े होकर हंगामा करते छात्र और इंजन से उतरता ड्राइवर।

भागलपुर. रेलवे में खाली पदों पर बहाली की मांग को लेकर आक्रोशित छात्रों ने शुक्रवार दोपहर 12 बजे से रात 9:25 बजे तक यानि 9 घंटे 25 मिनट तक भागलपुर जंक्शन पर जमकर बवाल मचाया। अप लाइन पर बैठे छात्रों के हुजूम ने आधा दर्जन ट्रेनों की अावाजाही रोक दी। रांची जाने वाली वनांचल एक्सप्रेस में इंजन जोड़ने आए ड्राइवर पंकज कुमार व शंटिंग मैन एके श्रीवास्तव को पीटा और इंजन के कांच तोड़ दिए। पिटे दोनों कर्मचारियों ने जैसे-तैसे यार्ड में छिपकर जान बचाई। उनका उपद्रव यहीं नहीं थमा।

छात्रों ने दो जनरल कोच और शौचालय के कांच तोड़ डाले। आक्रोशित छात्रों ने प्लेटफॉर्म के इंक्वायरी रूम के गेट का शीशा भी तोड़ दिया। इससे डरे कर्मचारी ड्यूटी छोड़कर भाग निकले। आलम यह रहा कि स्टेशन पर बुक स्टाॅल व रजिस्टर्ड वेंडर की दुकानें भी बंद हो गई। खोमचे व पानी बेचने वाले स्टेशन छोड़ भाग निकले।

5000 यात्री स्टेशन पर फंसे रहे और पांच घंटे बाद जिला प्रशासन की नींद खुली। शाम 5 बजे एसडीएम सुहर्ष भगत, डीएसपी मुख्यालय रमेश कुमार बल समेत पहुंचे और मामला संभाला। देर रात स्टेशन अधीक्षक के मेमो पर ट्रेन रोकने, रेल संपत्ति नष्ट करने, तोड़फोड़ करने, सरकारी काम में बाधा, रेल राजस्व को नुकसान पहुंचाने समेत अन्य आरोप में आरपीएफ पोस्ट में 20 छात्रों को नामजद व 200 अज्ञात के खिलाफ रेलवे एक्ट व भादवि की धारा में केस दर्ज किया। स्टेशन निदेशक सीपी शर्मा, एरिया आफिसर आलोक कुमार सिंह, स्टेशन अधीक्षक ओंकार प्रसाद आदि अधिकारियों ने छात्रों के पांच प्रतिनिधिमंडल को बातचीत के लिए बुलाया और रेल जीएम से बात कराने का आश्वासन दिया। स्टेशन सुपरीटेंडेंट के बंद कमरे में रेल अफसरों ने मोबाइल से जीएम से छात्रों की बात करायी। जीएम ने आश्वासन दिया कि एक सप्ताह में वे भागलपुर आएंगे और मुद्दे पर बात करेंगे। छात्रों ने अल्टीमेटम दिया कि 15 दिनों में यदि बहाली नहीं निकली तो फिर हंगामा करेंगे।

आज मुजफ्फरपुर से नहीं आएगी जनसेवा एक्सप्रेस


हंगामे के कारण भागलपुर मुजफ्फरपुर जनसेवा एक्सप्रेस को रात 8 बजे रद्द कर दिया गया। यह दोपहर 1 बजे से प्लेटफार्म-5 पर खड़ी थी। जनसेवा के यात्रियों को मालदा-पटना इंटरसिटी, मालदा-जमालपुर इंटरसिटी और भागलपुर-जमालपुर डेमू में शिफ्ट किया गया। जैसे-तैसे लोग ट्रेन में सवार हुए। जनसेवा के एक रैक होने से अब ट्रेन शनिवार को मुजफ्फरपुर से नहीं खुलेगी।

प्रशासन की चूक, कीमत यात्रियों ने चुकाई

पूर्व सूचना: रेल प्रबंधन को चार दिन पहले ही आंदोलन की सूचना थी। छात्रों ने पहले ही बता दिया था कि टीएमबीयू से सुबह 10 बजे जुलूस के रूप में स्टेशन पहुचेंगे। मगर रेल अफसरों ने प्रशासन से तालमेल नहीं बनाया।

शुरू में नजरअंदाज किया : दोपहर 12 बजे महज 100 छात्र ट्रैक तक पहुंचे। जिन्हें रेल अफसरों ने नजरअंदाज किया। वे प्रदर्शन खत्म करने का इंतजार करने लगे। शाम तक छात्रों की संख्या बढ़कर 500 हो गई।

अड़े रहे अफसर: रेल अफसर डीआरएम से छात्रों की बात करवाने पर अड़े रहे। छात्र रेल मंत्री से नीचे बात करने को तैयार नहीं थे। शाम पांच बजे तक उनका आक्रोश बढ़ता गया। रेलवे ने जिला प्रशासन को भी शाम तक जानकारी नहीं दी। शाम 5 बजे एसडीएम व स्थानीय पुलिस पहुंची।

समझौते के बाद वनांचल दो घंटे की देरी से खुली


छात्रों से समझौते के बाद मामला नियंत्रत हुआ और रात 9:30 बजे साहेबगंज रूट पर वनांचल एक्सप्रेस काे करीब सवा दो घंटे की देरी से रवाना किया। जमालपुर रूट पर एक डेमू को रवाना किया गया और एक को रद्द किया गया। डेमू के 10 मिनट बाद मालदा-पटना इंटरसिटी को रवाना किया गया। जमालपुर-हावड़ा सुपर एक्सप्रेस करीब 3 घंटे की देरी से रात सवा 11 बजे भागलपुर से खुली।

चार साल से रेलवे में वैकेंसी नहीं निकलने से नाराज छात्रों ने भागलपुर रेल स्टेशन पर नौ घंटे से ज्यादा ट्रेन सेवाएं रोक दी। चार साल से रेलवे में वैकेंसी नहीं निकलने से नाराज छात्रों ने भागलपुर रेल स्टेशन पर नौ घंटे से ज्यादा ट्रेन सेवाएं रोक दी।
यात्री काफी परेशान रहे। कई यात्रियों को अपनी यात्रा रद्द करनी पड़ी। लोगों ने भूजा खाकर अपनी भूख मिटाई। यात्री काफी परेशान रहे। कई यात्रियों को अपनी यात्रा रद्द करनी पड़ी। लोगों ने भूजा खाकर अपनी भूख मिटाई।
रेलवे में बहाली नहीं निकलने के विरोध में प्लेटफॉर्म नंबर एक पर उग्र प्रदर्शन करते छात्र। रेलवे में बहाली नहीं निकलने के विरोध में प्लेटफॉर्म नंबर एक पर उग्र प्रदर्शन करते छात्र।
रेलवे में बहाली की मांग को लेकर देर शाम प्लेटफार्म संख्या एक पर प्रदर्शन करते छात्र और मूक बन देखती पुलिस। रेलवे में बहाली की मांग को लेकर देर शाम प्लेटफार्म संख्या एक पर प्रदर्शन करते छात्र और मूक बन देखती पुलिस।
प्लेटफॉर्म एक पर प्रदर्शन करती उग्र छात्रों की भीड़। प्लेटफॉर्म एक पर प्रदर्शन करती उग्र छात्रों की भीड़।
हंगामे की सूचना पर स्टेशन पर दलबल के साथ पहुंचे एसडीओ सुहर्ष भगत। हंगामे की सूचना पर स्टेशन पर दलबल के साथ पहुंचे एसडीओ सुहर्ष भगत।
Click to listen..