--Advertisement--

दहेज में मांगी कार, नहीं मिली तो विवाहिता की अंगुली काटी, चेहरे पर डाला तेजाब

गंभीर हालत में पीड़िता शिल्पी कुमारी को इलाज के लिए एसकेएमसीएच के इमरजेंसी वार्ड में भर्ती कराया गया है।

Danik Bhaskar | Jan 28, 2018, 06:50 AM IST

मुजफ्फरपुर. दहेज प्रताड़ना को लेकर ससुराल के लोगों ने एक महिला के साथ मारपीट करके हाथ का अंगूठा काट दिया। विरोध जताने पर महिला को बांधकर तेजाब डाल दिया। डॉक्टर ने महिला की आंख में तेजाब गिरने से अधिक नुकसान की बात बताई है। गंभीर हालत में पीड़िता शिल्पी कुमारी को इलाज के लिए एसकेएमसीएच के इमरजेंसी वार्ड में भर्ती कराया गया है। घटना 25 जनवरी को शिवहर जिले के पुरनहिया थाने के बसंतपट्टी गांव में हुई।

विवाहिता की मां ने बताई ये बात

शिल्पी की मां मंजू देवी ने बताया कि बेटी की शादी 3 वर्ष पहले नेपाल के मलंगवा जिले के सरलाही गांव में रवि झा से हुई थी। शादी के कुछ माह बाद ही शिल्पी के पति और ससुराल के लोग दहेज में चारपहिया वाहन की मांग को लेकर प्रताड़ित करने लगे। इस कारण वह पुरनहिया थाना के बसंतपट्टी स्थित मायके आ गई। 25 जनवरी को शिल्पी के पति रवि झा अपने परिवार के 6 लोग के साथ आए। शिल्पी घर में अकेली थी। इसका फायदा उठाते हुए सभी लोगों ने शिल्पी के साथ मारपीट की। शोर सुनकर जब शिल्पी की मां मंजू पड़ोस से पहुंची तो उसका हाथ-पांव भी बांध दिया। शिल्पी का मुंह बांधकर उसका अंगूठा काट दिया। चिल्लाने पर सिर पर तेजाब डाल दिया, जो आंख और चेहरे पर पड़ा। शिल्पी के बेहोश होते ही सभी फरार हो गए।

गांव के लोगों की मदद से शिल्पी को सीतामढ़ी सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया। हालत गंभीर होने के कारण उसे एसकेएमसीएच रेफर कर दिया गया है। सीतामढ़ी सदर अस्पताल में ही पुलिस ने शिल्पी का बयान दर्ज किया, लेकिन अब तक कोई कार्रवाई नहीं हुई है।

शोहदे ने छात्रा को चेहरे पर तेजाब डाल देने की दी धमकी

शोहदे द्वारा चेहरे पर तेजाब डाल देने व गोली मार देने की धमकी से नगर थाने के एक मोहल्ले की छात्रा परेशान है। वह डर के कारण घर से मोहल्ले में भी नहीं निकल रही है। किसी तरह शनिवार को मां व भाई के साथ थाने पहुंच कर पुलिस से लिखित शिकायत की। बताया कि आरोपित युवक उसके मोहल्ले का ही है। अक्सर कॉल करके धमकी देता है। उसने छात्रा की प्राइवेट तस्वीर एक सोशल साइट पर डाल दी है। इससे नाते-रिश्तेदारों के बीच व मोहल्ले में उसकी बदनामी हो रही है। उसने पुलिस से गुहार लगाई है कि किसी तरह सोशल साइट से फोटो हटवा दे। शोहदे के मोबाइल में अन्य कोई तस्वीर है तो उसे भी डिलीट करवा दे। आखिर कब तक वह घर में कैद रहे। पढ़ाई रोके रहे।

छात्रा ने पुलिस को बताया कि मोहल्ले का होने के कारण आरोपित से उसकी दोस्ती हो गई। लेकिन, जब पता चला कि वह नशेड़ी है और उसके संबंध असामाजिक तत्वों से है तो उससे अलग हो गई। अब फोन को इग्नोर करने पर वह घर पहुंच जाता है। धमकी दी है कि चेहरे पर तेजाब फेंक देगा या कहीं भी गोली मार देगा। नगर थानेदार केपी सिंह ने बताया कि छात्रा व उसकी मां ने केस करने के बजाय आरोपित को समझाकर उसकी समस्या का हल निकालने का आग्रह किया है। इसलिए आरोपित को थाने पर बुलवाया गया है। वह अपनी हरकतों से बाज आ जाता है तो ठीक, नहीं तो उसे गिरफ्तार कर जेल भेजा जाएगा।