--Advertisement--

राज्यसभा की 6 सीटों पर अप्रैल-मई में चुनाव, JDU-BJP को हो सकता है 1-1 सीट का नुकसान

विधान परिषद की 11 सीटें तो क्लियर हैं, लेकिन राज्यसभा की छठी सीट पर पेच फंस सकता है।

Dainik Bhaskar

Jan 18, 2018, 05:54 AM IST
Rajya Sabha election on six seat in bihar

पटना. बिहार में राज्यसभा व विधान परिषद चुनाव को लेकर राजनीतिक दलों में सरगर्मी तेज हो गई है। अप्रैल-मई में राज्यसभा की छह सीटों पर, जबकि विधान परिषद की 11 सीटों पर चुनाव होने हैं। वहीं राज्यसभा की पांच सीटें खाली हो रही हैं, जबकि विधान परिषद की 10 सीटें खाली होंगी। हालांकि, बिहार कोटे की राज्यसभा की एक सीट पहले ही खाली है। इसके अलावा विधान परिषद की भी एक सीट पहले से खाली है।


राज्यसभा की छठी सीट पर फंस सकता है पेंच

विधान परिषद की 11 सीटें तो क्लियर हैं, लेकिन राज्यसभा की छठी सीट पर पेच फंस सकता है। बिहार में कांग्रेस की मौजूदा स्थिति के कारण राज्यसभा की छठी सीट पर चुनाव दिलचस्प होगा। अपने सदस्यों के कारण कांग्रेस नेतृत्व की परेशानी बढ़ी हुई है। खासकर अशोक चौधरी ने पार्टी आलाकमान को उहापोह में डाल दिया है। कांग्रेस के लिए अपने सदस्यों को इस चुनाव में एकजुट रखना बड़ी चुनौती होगी। यदि कांग्रेस के सदस्य एकजुट रहे तो राज्यसभा और विधान परिषद दोनों में ही उसे एक-एक सीट का लाभ हो सकता है।

नीतीश, मोदी, राबड़ी और मंगल पांडेय की सीट भी होगी खाली

राज्यसभा की जो सीटें खाली हो रही हैं, उनमें जदयू की तीन और भाजपा की दो सीटें हैं। इसी तरह विधान परिषद में रिक्त होने वाली सीटों में जदयू की पांच, जबकि भाजपा की चार और राजद की एक सीट शामिल है। इस समय विधान परिषद की जो सीटें खाली होने वाली हैं, उनमें मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी और स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय के साथ-साथ पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी की सीट भी शामिल है।

सदस्यों की संख्या के आधार पर राजद को मिलेंगी दो सीटें

प्रदेश की मौजूदा गणित के अनुसार सीटों के हिसाब से इस चुनाव में राजद और कांग्रेस को तो लाभ होगा, लेकिन जदयू और भाजपा को घाटा उठाना होगा। राज्यसभा की एक सीट के लिए 35 वोटों की जरूरत है, जबकि विधान परिषद के लिए 21 वोटों की दरकार होगी। अपनी सदस्य संख्या के अनुसार राजद को दो सीट मिलना तय है, जबकि जदयू को दो और भाजपा को एक सीट मिलेगी। इस तरह जदयू और भाजपा दोनों को एक-एक सीट का नुकसान हो रहा है। उधर, राजद को दोनों ही सीट अतिरिक्त मिलने जा रही है।

कांग्रेस का साथ मिला तो छठी सीट एनडीए की

मामला राज्यसभा की छठी सीट को लेकर दिलचस्प हो गया है। राजद के दो सीट के बाद उसके पास 9 सरप्लस वोट होंगे, जो कांग्रेस के 27 सदस्यों के साथ मिलकर 36 हो जाते हैं। ऐसे में छठी सीट उसे आसानी से मिल सकती है। उधर, जदयू की दो सीटों के बाद उसके पास एक वोट सरप्लस होगा, जबकि भाजपा की एक सीट के बाद उसके पास 17 वोट रह जाते हैं। एनडीए के अन्य सहयोगियों लोजपा, रालोसपा और हम सेक्युलर के सदस्यों की संख्या के बाद उसके पास 22 सरप्लस वोट हो जाते हैं। यदि एनडीए छठी सीट के लिए उम्मीदवार उतारता है तो चुनाव दिलचस्प हो जाएगा। यदि एनडीए को बागी कांग्रेस सदस्यों का साथ मिला तो छठी सीट पाना उसके लिए आसान हो सकता है। हाल में शरद यादव व अली अनवर की सीट के रिक्त होने के बाद इन पर भी चुनाव दिलचस्प होगा। शरद की सीट पर उपचुनाव होगा, जबकि अली अनवर की सीट का टर्म पूरा हो रहा है।

विधान परिषद में राजद को तीन व कांग्रेस को एक सीट का होगा लाभ

विधान परिषद का गणित सेट है। हालांकि यहां राजद-कांग्रेस को तो लाभ है, लेकिन जदयू-भाजपा को नुकसान उठाना पड़ेगा। राजद की एक सीट खाली होगी, लेकिन उसे चार सीटें मिलेंगी। जदयू की पांच सीट खाली होगी, लेकिन उसे तीन सीट मिलेंगी। भाजपा की चार सीट खाली होने के बावजूद उसे केवल दो सुनिश्चित सीट ही मिलेगी। सबकुछ ठीक रहा तो एक सीट कांग्रेस को मिलना तय है।

चयन में भी मुश्किलें

विधानपरिषद चुनाव में जदयू और भाजपा में कुछ सदस्यों का पत्ता गुल होना तय है। नीतीश कुमार के बाद शेष, दो सीटों पर जदयू में संजय सिंह, चंदेश्वर चंद्रवंशी, उपेंद्र प्रसाद, राजकिशोर कुशवाहा में किसी दो को ही अवसर मिलेगा। इसी तरह भाजपा में दो सीटों पर सुशील मोदी और मंगल पांडेय का जाना तय है। उधर, जदयू और भाजपा दोनों में ही मौजूदा राज्यसभा सदस्यों में एक-एक की विदाई तो निश्चित रुप से होगी।

विधानसभा में दलीय स्थिति

दल सीट
राजद 79 (एक रिक्त)
जदयू 71
भाजपा 52 (एक रिक्त)
कांग्रेस 27
माले 03
रालोसपा 02
लोजपा 02
हम 01
निर्दलीय 04
रिक्त 02 (भभुआ, जहानाबाद)
रिक्त होने वाली सीटें
राज्यसभा
- जदयू- महेन्द्र प्रसाद उर्फ किंग महेन्द्र, अनिल सहनी, वशिष्ठ नारायण सिंह
- बीजेपी- धर्मेंद्र प्रधान, रविशंकर प्रसाद
- रिक्त- अली अनवर और शरद यादव
विधान परिषद
- जदयू- नीतीश कुमार, संजय सिंह, उपेंद्र प्रसाद, चंदेश्वर चंद्रवंशी, राजकिशोर कुशवाहा
- बीजेपी- सुशील मोदी, मंगल पांडेय, लालबाबू प्रसाद, सत्येन्द्र नारायण सिंह
- राजद- राबड़ी देवी
राज्यसभा में यह होगी तस्वीर
राज्यसभा सीटें मिलेंगी लाभ/हानि
जदयू 03 02 -01
बीजेपी 02 01 -01
राजद 00 02 02
विधानपरिषद में ये होगी तस्वीर
दल सीटें मिलेंगी लाभ/हानि
जदयू 05 03 -02
बीजेपी 04 02 -02
राजद 01 04 03
कांग्रेस 00 01 01
X
Rajya Sabha election on six seat in bihar
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..