--Advertisement--

कांप रहा बिहार : पूर्णिया में 46 साल का रिकाॅर्ड टूटा, पारा 1.2 डिग्री, पटना में भी ठंड बढ़ी

सोमवार को भागलपुर का न्यूनतम पारा तीन डिग्री रिकॉर्ड किया गया। गया के न्यूनतम तापमान में कुछ वृद्धि हुई।

Dainik Bhaskar

Jan 09, 2018, 04:29 AM IST
Record broken of cold in Purnea of Bihar

पटना. लगातार चल रही सर्द हवा से पटना समेत पूरे सूबे में कंपकपी जारी है। पूर्णिया में पिछले 46 सालों का रिकॉर्ड टूट गया और न्यूनतम तापमान 1.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। 31 जनवरी 1971 को यहां न्यूनतम तापमान 1.3 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया था। रविवार को यहां का न्यूनतम तापमान 5.7 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया था। पूर्णिया के बाद सुपौल सूबे का सबसे ठंडा शहर रहा। यहां का न्यूनतम तापमान 2.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

मौसम विज्ञान केंद्र के निदेशक एस सेनगुप्ता ने बताया कि अगले तीन-चार दिनों तक ठंड से राहत मिलने की उम्मीद नहीं है। सूबे के अधिकांश शहरों में अभी डे कोल्ड की स्थिति रहने वाली है।

सूबे के अधिकतर शहरों में गिरा पारा

सोमवार को भागलपुर का न्यूनतम पारा तीन डिग्री रिकॉर्ड किया गया। गया के न्यूनतम तापमान में कुछ वृद्धि हुई। रविवार के मुकाबले न्यूनतम तापमान 1.3 डिग्री बढ़कर 4.1 डिग्री दर्ज किया गया। मुजफ्फरपुर के न्यूनतम तापमान में भी कमी आई। रविवार को यहां का न्यूनतम तापमान जहां 7.7 डिग्री था, वहीं सोमवार को 4.7 डिग्री दर्ज किया गया।

कोल्ड डे के हालात

सोमवार को भी पटना में डे कोल्ड की स्थिति रही। अधिकतम तापमान कुछ बढ़ा लेकिन न्यूनतम तापमान गिरने से लोगों को राहत महसूस नहीं हुई। न्यूनतम पारा रविवार के मुकाबले 0.5 डिग्री लुढ़क गया और 5.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। यह सामान्य से 3.5 डिग्री कम है। सोमवार को राजधानी के अधिकतम पारा में बढ़ोतरी हुई और यह 17.8 डिग्री दर्ज किया गया, जो सामान्य से 4 डिग्री सेल्सियस कम है।

क्यों हो रहा ऐसा

हिमाचलऔर उत्तराखंड से रही सर्द हवा के कारण पूरे प्रदेश में कंपकंपी जारी है। पूर्णिया में पिछले 46 सालों का रिकॉर्ड टूट गया और न्यूनतम तापमान 1.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। 31 जनवरी 1971 को यहां न्यूनतम तापमान 1.3 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया था। पूर्णिया के बाद सुपौल सूबे का सबसे ठंडा शहर रहा। यहां का न्यूनतम तापमान 2.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

राजधानी एक्सप्रेस रात 11 बजे के बाद खुली

राजधानी एक्सप्रेस सोमवार को भी लेट हो गई। अप में राजेंद्रनगर से नई दिल्ली के लिए 5 घंटे की देरी से रात 11 बजे के बाद खुली। डाउन में नई दिल्ली से राजधानी एक्सप्रेस 10 घंटे विलंब से आई। कोहरे के कारण इन दिनों दिल्ली-हावड़ा रूट की अधिकतर ट्रेनें लेट चल रही हैं। साेमवार को संपूर्ण क्रांति एक्सप्रेस डाउन में 10 घंटे, मगध एक्सप्रेस अप में 6 घंटे व डाउन में 7.30 घंटे, बिक्रमशिला एक्सप्रेस डाउन में 12.15 घंटे व अप में 3.45 घंटे, श्रमजीवी एक्सप्रेस डाउन में 4.15 घंटे, ब्रह्मपुत्र मेल डाउन में 5.30 घंटे व अप में 25.30 घंटे, जयनगर गरीब रथ अप में 8.30 घंटे अौर पूर्वा एक्सप्रेस डाउन में 11.30 घंटे लेट रही। इस बीच तूफान एक्सप्रेस, अपर इंडिया अप, न्यू फरक्का डाउन और फरक्का एक्सप्रेस डाउन कैंसिल रही।

सभी विमान उतरे, पर 8 एक घंटा से अधिक लेट

पटना एयरपोर्ट पर सोमवार को आठ विमान एक घंटे से अधिक लेट आए। सबसे अधिक लेट दिल्ली से आने वाला स्पाइस जेट का एसजी 741 तीन घंटा 11 मिनट के विलंब से दोपहर 1.26 बजे पहुंचा। पहला विमान दोपहर एक बजे कोलकाता से इंडिगो का 6 ई 811 दोपहर एक बजे पहुंचा। इसके बाद एक-एक कर सभी 26 विमान उतरे। कोलकाता से आने वाला स्पाइस जेट का विमान एसजी 876 दो घंटा 45 मिनट, हैदराबाद से स्पाइस जेट का एसजी 831 दो घंटा 53 मिनट, बेंगलुरु से गो एयर का जी8-272 एक घंटा 25 मिनट, दिल्ली से एयर इंडिया का एआई 409 दो घंटा 36 मिनट, दिल्ली से जेट एयरवेज का 9 डब्ल्यू 333 और 727 एक घंटा 48 मिनट और एक घंटा 55 मिनट, बेंगलुरु से स्पाइस जेट का एसजी 868 दो घंटा 10 मिनट विलंब से आया।

X
Record broken of cold in Purnea of Bihar
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..