--Advertisement--

पाकिस्तान से आए थे इस लड़के के बैंक अकाउंट में रुपए, NIA कर रही है जांच

जांच टीम ने शुक्रवार को शहर में कई जगहों पर पहुंच कर जांच किया। जांच के दौरान कुछ लोगों से पुलिस ने पूछताछ भी की है।

Danik Bhaskar | Dec 09, 2017, 08:18 AM IST

गोपालगंज. एनआईए की टीम ने शहर से जिस संदिग्ध एजेंट धन्नु राजा को अरेस्ट किया है। धन्नु राजा के खाते में पाकिस्तान से रुपए आए थे। इसके साथ ही उसे हवाला के जरिए भी रुपए मिले थे। इसको लेकर एक जांच टीम ने शुक्रवार को शहर में कई जगहों पर पहुंच कर जांच किया। जांच के दौरान कुछ लोगों से पुलिस ने पूछताछ भी की है।

एक साल से आईबी की टीम रख रही थी नजर

वहीं सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार टीम के आदेश पर सोहेल का एक खाता जो शहर के एक बैंक में था उसे सील कर दिया गया है। सूत्रों ने धन्नु राजा के बारे में बताया कि उसके ऊपर आईबी की टीम पिछले एक साल से नजर रख रही थी। इस दौरान उसके खाते में कई बार ब्लॉक में रुपये आए। रुपयों के आने के बाद आईबी की टीम के आंख खुले और उसने इसकी निगरानी करनी शुरू कर दी। इसके बाद आईबी की टीम ने इसकी सूचना खुफिया एजेंसी एनआईए को दी। तब एनआईए ने इसे अपने अंडर कर पूरी जांच की और जांच के दौरान पूर्व में कई बार यहां एनआईए की टीम पहुंची।

गोपालगंज पहुंच कर टीम ने उस पर नजर रखा। सूत्रों ने यह भी बताया कि जब उसके खाते में चार माह पूर्व पाकिस्तान से रुपये आए तो उसके बारे में आरबीआई द्वारा पुष्टि की गई। क्योंकि पाकिस्तान से रुपये आने के बाद आरबीआई द्वारा यह सत्यापित किया जाता है कि यह रुपये कहीं किसी व्यवसायिक कारणों से तो नहीं आए हैं। लेकिन पाकिस्तान से रुपये खातें में उन्हीं के आते हैं जिनका कारोबार पाकिस्तान में होता है।

एक साल पहले सीवान में रहा था सोहेल

सूत्रों ने बताया कि सोहेल एक वर्ष पूर्व सीवान में भी रहा था। यहां उसने शहर के साथ साथ ग्रामीण क्षेत्रों में अपनी पनाह ली। उसने यहां के कई लोगों से मित्रता की। जिसकी रिपोर्ट आईबी ने केंद्र सरकार को नियमित समय पर दी। इसके बाद सोहेल को इस बात की भनक लग गई। भनक लगते ही वह जिले से गायब हो गया। फिर उसके बाद उसने अपना नाम और पता बदल लिया और धन्नु राजा ने उसकी मदद जिले में मकान दिलाने में की। जिसके बाद छह माह पूर्व वह गोपालगंज से भी फरार हो गया। लेकिन जांच एजेंसी उसका पीछा करती रही। इसी क्रम में उसे वाराणसी से गिरफ्तार कर लिया गया।

खाते की जांच कर रही एनआईए


धन्नु राजा उर्फ बेदार बख्त के खाते को सील किए जाने के बाद अब उसके खाते की जांच एनआईए कर रही है। सूत्रों ने बताया कि एनआईए उसके खाते में पिछले एक साल से ट्रांजेक्शन के बारे में पूरी डिटेल्स निकाल रहा है।

फिर हो सकती है छापेमारी
एनआईए की टीम उससे दिल्ली में पूछताछ कर रही है। पूछताछ के बाद जो सबूत एनआईए के पास है उस सबूत की अगर पुष्टि हो गई तो जल्द ही फिर जिले में छापेमारी होगी।