--Advertisement--

एग्जाम से ऐसे हुई सख्त चेकिंग, क्लास में जाने से पहले पुलिस ने पैंट तक उतरवाए

छात्रों की जांच होनी चाहिए, मगर जांच के नाम पर छात्रों के कपड़े उतारें जाएं यह गलत है।

Dainik Bhaskar

Feb 11, 2018, 07:33 AM IST
एग्जाम सेंटर के बाहर लड़कों के पैंट उतरवाते पुलिस कर्मी। एग्जाम सेंटर के बाहर लड़कों के पैंट उतरवाते पुलिस कर्मी।

लखीसराय/मधेपुरा. इंटरमीडिए एग्जाम के दौरान शनिवार को एग्जाम देने पहुंचे छात्रों को बेहद शर्मिंदगी का सामना करना पड़ा। क्लास रूम में जाने से पहले खुले स्थान पर पुलिसकर्मियों ने लड़कों की तलाशी लेने के नाम पर उनके पैंट तक उतरवा दिए। हालांकि किसी भी स्टूडेंट्स के पास काेई नकल का पुर्जा नहीं मिला। पुलिसकर्मी संतुष्ट हुए तभी उन्हें अंदर जाने दिया गया। उधर, मधेपुरा में कुछ स्टूडेंट्स इक्ट्ठा होकर पुर्जा बनाते देखे गए।


लड़कों ने पैंट उतरवाने को बताया गलत

- एग्जाम देने आए स्टूडेंट्स भी देर न हो इसलिए पुलिस वालों का निर्देश मानते रहे। हालांकि शर्मिंदगी के साथ ही उनके अंदर इसे लेकर आक्रोश भी था।

- परीक्षा देने के बाद बाहर निकले छात्रों ने कहा कि यह गलत था। उन्हें शर्मिंदगी महसूस हुई और कुछ देर के लिए वह निराश भी हुए।

- छात्रों ने कहा कि जब सभी कमरों में सीसीटीवी कैमरे लगे हैं तब क्यों नहीं परीक्षा देते समय उस पर नजर रखी जा रही है। सीसीटीवी में तो पता ही चल जाएगा।

- उधर, विशेषज्ञों का भी मानना है कि परीक्षा में नकल नहीं होनी चाहिए। छात्रों की जांच होनी चाहिए, मगर जांच के नाम पर छात्रों के कपड़े उतारें जाएं यह गलत है।

परीक्षा से पहले ही कॉमर्स कॉलेज केंद्र के बाहर केमेस्ट्री का प्रश्न-पत्र लीक

- उधर, मधेपुरा में प्रशासन द्वारा कदाचारमुक्त परीक्षा लेने का दावा इंटर परीक्षा के पांचवें दिन टूट गया।

- शनिवार को पहली पाली की परीक्षा शुरू होने से कुछ देर पहले ही शहर के कई परीक्षा केंद्रों के बाहर केमेस्ट्री का प्रश्न-पत्र छात्र व अभिभावक एक-दूसरे से सोशल मीडिया के जरिए शेयर कर रहे थे।

- एेसे ही एक अभिभावक ने सुबह के 10.09 मिनट पर भास्कर टीम को भी शेयर इट एप्प से केमेस्ट्री के ग्रुप ए का प्रश्न-पत्र भेजा।

- परीक्षा समाप्त होने के बाद भास्कर टीम ने जब कुछ छात्रों के प्रश्न-पत्र से परीक्षा के पूर्व से वायरल हुए प्रश्न-पत्र का मिलान किया, तो दोनों हूबहू मिल गए। हालांकि प्रशासन प्रश्न-पत्र के वायरल होने से इनकार कर रहा है।

प्रश्न-पत्र मिलते ही चिट-पुर्जा बनाने में जुटे छात्र

- परीक्षा शुरू होने से कुछ देर पहले ही केमेस्ट्री का प्रश्न-पत्र मिलने से नकल करने के शौकीन छात्राें और अभिभावकों के चेहरे खिल उठे। लोगों ने आनन-फानन में इंटरनेट और गैस पेपर से चिट बनाना शुरू कर दिया।

- कॉमर्स कॉलेज परीक्षा केंद्र के बाहर बड़े मैदान में अन्य दिनों की भांति ही शनिवार को भी अच्छी-खासी भीड़ थी। किसी छात्रा ने बने हुए चिट को जूते के अंदर रखा, तो किसी ने अंडरवियर के अंदर छुपा लिया।

- ऐसे ही एक छात्र से जब दूसरे पूछा कि क्या पकड़े नहीं जाओगे, तो उस छात्र का जवाब था-वीक्षक डाल-डाल, तो हम पात-पात। यही नजारा कॉलेज चौक के समीप भी दिखा।

- कॉलेज चौक से लेकर पेट्रोल पंप तक कई स्थानों पर अभिभावक चिट-पुर्जा बनाते नजर आए। कुछ केंद्राधीक्षक ने चिट-पुर्जा के अंदर अाने से साफ इंकार किया।

- भास्कर टीम ने पड़ताल में पाया कि प्रश्न-पत्र लीक पहली पाली के एक घंटा पहले ही हो गया। जिसके बाद कुछ परीक्षार्थी पहले चिट बनाकर साथ ले गए, वहीं कुछ परीक्षार्थी अपने हाथ पर कुछ प्वाईंट लिखकर अंदर गए।

पुलिस कर्मियों ने कहा कि पुर्जे की जानकारी थी इसलिए सख्ती बरती गई। पुलिस कर्मियों ने कहा कि पुर्जे की जानकारी थी इसलिए सख्ती बरती गई।
पैंट में पुर्जा छिपाता एक परीक्षार्थी। पैंट में पुर्जा छिपाता एक परीक्षार्थी।
नकल का पुर्जा बनाते परीक्षार्थी। नकल का पुर्जा बनाते परीक्षार्थी।
students clothes put off at exam center while checking
X
एग्जाम सेंटर के बाहर लड़कों के पैंट उतरवाते पुलिस कर्मी।एग्जाम सेंटर के बाहर लड़कों के पैंट उतरवाते पुलिस कर्मी।
पुलिस कर्मियों ने कहा कि पुर्जे की जानकारी थी इसलिए सख्ती बरती गई।पुलिस कर्मियों ने कहा कि पुर्जे की जानकारी थी इसलिए सख्ती बरती गई।
पैंट में पुर्जा छिपाता एक परीक्षार्थी।पैंट में पुर्जा छिपाता एक परीक्षार्थी।
नकल का पुर्जा बनाते परीक्षार्थी।नकल का पुर्जा बनाते परीक्षार्थी।
students clothes put off at exam center while checking
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..