Hindi News »Bihar »Patna» Students Of Ludhiana In CAT 2017

कैट 2017 रिजल्ट : इन बच्चों को मिली सफलता, शेयर किए सक्सेस मंत्रा

पहले अटैंप्ट में 92 पर्सेंटाइल से संतुष्ट न होने पर दोबारा से एग्जाम की तैयारी कर टेस्ट दिया।

Bhaskar News | Last Modified - Jan 09, 2018, 08:07 AM IST

  • कैट 2017 रिजल्ट : इन बच्चों को मिली सफलता, शेयर किए सक्सेस मंत्रा
    +5और स्लाइड देखें

    लुधियाना. कॉमन एडमिशन टेस्ट(कैट) 2017 के रिजल्ट में प्रेरणा सिंगला 99.73 पर्सेंटाइल हासिल कर शहर में ही नहीं बल्कि नॉर्थ इंडिया में 99.73 पर्सेंटाइल हासिल करने वाली पहली कॉमर्स स्टूडेंट बनी हैं। अर्पित अरोड़ा ने 99.43 पर्सेंटाइल हासिल किए। दानिश कपूर ने फर्स्ट अटैंप्ट में 99.34 पर्सेंटाइल हासिल किए जोकि देश के टॉप 20 आईआईएम इंस्टीट्यूट में एडमिशन ले सकेंगे।

    92 पर्सेंटाइल से थी असंतुष्ट, दोबारा दिया टेस्ट

    नाम-प्रेरणा सिंगला(श्री ओरबिन्दो कॉलेज ऑफ कॉमर्स एंड मैनेजमेंट से बीकॉम(70पर्सेंट), सेक्रेड हार्ट कॉन्वेंट स्कूल सराभा नगर के 12वीं (96पर्सेंट)

    पिता-राजिंदर सिंगला (चार्टर्ड अकाउंटेंट)

    माता-पूनम सिंगला (हाउसवाइफ)

    99.73 पर्सेंटाइल के साथ शहर में ही नहीं बल्कि उत्तर भारत में कॉमर्स में डिस्टिंक्शन हासिल करने वाली प्रेरणा ने बताया कि 2016 में भी कॉमन एडमिशन टेस्ट दिया था। पहले अटैंप्ट में 92 पर्सेंटाइल से संतुष्ट न होने पर दोबारा से एग्जाम की तैयारी कर टेस्ट दिया। इस बार उसने टेस्ट सीरिज पर ही पूरा ध्यान दिया था।

    आगे की स्लाइड्स में पढ़ें और स्टूडेंट्स के रिजल्ट के बारे में...

  • कैट 2017 रिजल्ट : इन बच्चों को मिली सफलता, शेयर किए सक्सेस मंत्रा
    +5और स्लाइड देखें

    टेस्ट सीरिज पर दिया ज्यादा ध्यान

    नाम-अर्पित अरोड़

    पिता-डॉ. हरभजन

    माता-कमलेश

    अर्पित ने बताया कि कैट के एग्जाम की तैयारी के लिए उसने हफ्ते में 15 घंटे का समय दिया है। एग्जाम के बेसिक पहले ही क्लियर होने के कारण उसने तैयारी में ज्यादा ध्यान टेस्ट सीरिज पर दिया।

  • कैट 2017 रिजल्ट : इन बच्चों को मिली सफलता, शेयर किए सक्सेस मंत्रा
    +5और स्लाइड देखें

    सोने का समय 8 से किया 4 घंटे

    नाम-दानिश कपूर

    पिता- संदीप कपूर

    माता- अनु कपूर

    दानिश ने बताया कि 8 महीने पहले ही उसने कैट के एग्जाम की तैयारी करनी शुरू की थी। कैट की तैयारी में शुरू से ही पूरा ध्यान पड़ता है। इसलिए अपने सोने का समय आठ घंटे से कम कर चार घंटे कर दिया।

  • कैट 2017 रिजल्ट : इन बच्चों को मिली सफलता, शेयर किए सक्सेस मंत्रा
    +5और स्लाइड देखें

    पढ़ाई के साथ कैट के लिए रोजाना 3-4 घंटे की तैयारी

    नाम- ईशान (गुरु नानक देव इंजीनियरिंग कॉलेज में मेकेनिकल इंजीनियरिंग फाइनल इयर के स्टूडेंट, सेक्रेड हार्ट कॉन्वेंट स्कूल से बारहवीं(83 फीसदी अंक)

    पिता-हरविंदर थापर (बिजनेसमैन)

    माता- शमा थापर (हाउसवाइफ)

    98.87 पर्सेंटाइल हासिल करने वाले ईशान ने अपनी बीटेक की पढा़ई के साथ कैट की तैयारी करनी शुरु की। ईशान ने बताया कि वो अपनी फिल्ड बदलना चाहती है इसलिए उसने एमबीए करने का निर्णय लिया। कॉलेज में क्लासेस लगाने के बाद 3-4 घंटे कैट की तैयारी के लिए दिए। आईआईएम लखनऊ में एडमिशन लेने के इच्छुक ईशान ने बताया कि उसे फुटबॉल खेलने का शौक है। ईशान ने बताया कि एमबीए के बाद वो कुछ साल जॉब करने के बाद अपना बिजनेस करने के बारे में विचार करेगा।

  • कैट 2017 रिजल्ट : इन बच्चों को मिली सफलता, शेयर किए सक्सेस मंत्रा
    +5और स्लाइड देखें

    एंटरप्रिन्योर बनना चाहता है हर्षित, हासिल किए 97.71 पर्सेंटाइल

    नाम- हर्षित सिंगला(एससीडी गवर्नमेंट कॉलेज में बीकॉम का स्टूडेंट, केवीएम से बारहवीं(94 फीसदी अंक) एग्जाम के नजदीक आते ही बहुत सख्त मेहनत करते हैं।

    पिता-राज कुमार (होजरी कारोबारी)

    माता- सोनिका सिंगला (हाउसवाइफ)

    97.71 पर्सेंटाइल हासिल करने वाले हर्षित ने बताया कि कॉलेज में क्लासेस लगाने के बाद उसने 2-3 घंटे कैट की तैयारी के लिए दिए। एग्जाम के नजदीक आने पर तैयारी और पढ़ने का समय 10-12 घंटे तक कर दिया। हर्षित ने बताया कि कोचिंग और सेल्फ स्टडी से ही एग्जाम क्लियर करने में मदद मिली है। हर्षित ने बताया कि एमबीए के बाद 3 तीन साल तक जॉब करने के बाद वो अपना खुद का बिजनेस शुरू कर एंटरप्रिन्योर बनना चाहता है। हर्षित ने बताया कि उसे आईआईएम इंदौर और शिलांग में एडमिशन मिल सकती है।

  • कैट 2017 रिजल्ट : इन बच्चों को मिली सफलता, शेयर किए सक्सेस मंत्रा
    +5और स्लाइड देखें

    पढ़ाई रेगुलर करने के साथ ही पूरा समय भी देना जरूरी

    नाम-गुरनीत सिंह(एससीडी गवर्नमेंट कॉलेज में बीकॉम फाइनल इयर का स्टूडेंट, डीएवी स्कूल पखोवाल रोड से बारहवीं(95 फीसदी अंक)

    पिता-राजिंदर सिंह (बिजनेसमैन)

    माता-हरप्रीत कौर (हाउसवाइफ)

    गुरनीत सिंह ने बताया कि उसने एक साल पहले कैट के एग्जाम की तैयारी करना शुरु किया था। रोजाना 10-12 घंटे की पढ़ाई कर तैयारी की। दोपहर में कम समय मिलने के कारण रात के समय में पढाई कर तैयारी की। कैट के रिजल्ट में गुरनीत ने 98.46 पर्सेंटाइल हासिल किए। गुरनीत ने कहा कि रोजाना पढ़ाई करने के साथ ही पूरा समय देना भी बेहद जरूरी है। गुरनीत ने बताया कि वो आईआईएम इंदौर में पढ़ाई करना चाहता है। पांच साल जॉब का एक्सपीरियंस लेने के बाद अपने फैमिली बिजनेस को आगे बढ़ाने में मदद करेगा।

आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Patna News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: Students Of Ludhiana In CAT 2017
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Patna

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×