Hindi News »Bihar »Patna» Ten Killed In Different Accidents Due To Fog

बिहार : कोहरे के चलते एक दिन में 10 लोगों की मौत, अलग-अलग शहरों में हुए ये हादसे

कम विजिबिलिटी के चलते कई गाड़ियां टकरा गई। जिससे बेगूसराय में 3, सुल्तानगंज में एक और नालंदा में 2 लोगों की मौत हो गई।

Bhaskar News | Last Modified - Feb 03, 2018, 05:28 AM IST

  • बिहार : कोहरे के चलते एक दिन में 10 लोगों की मौत, अलग-अलग शहरों में हुए ये हादसे
    +4और स्लाइड देखें
    बेगूसराय में यात्रियों से भरे टेंपो को ट्रक ने सीधी टक्कर मार दी।

    पटना.बिहार में शुक्रवार को अलग-अलग इलाकों में कई हादसे हुए। इन हादसों में 10 लोगों की मौत हो गई जबकि कई लोग घायल हो गए। घायलों को हॉस्पिटल में एडमिट कराया गया है। पहला हादसा शुक्रवार सुबह सीवान में हुआ जिसमें एक ही परिवार को चार लोगों की मौत हो गई। इसके बाद कम विजिबिलिटी के चलते कई गाड़ियां आपस में टकरा गई। जिससे बेगूसराय में 3, सुल्तानगंज में एक और नालंदा में 2 लोगों की मौत हो गई।

    मजार पर इबादत कर घर लौट रहे एक ही परिवार के 4 लोगों की ट्रेन से कटकर मौत

    सीवान कचहरी स्टेशन के पास दाहा रेल पुल संख्या-1 पर ट्रेन से कटकर चार लोगों की मौत हो गई। सभी एक ही परिवार के थे। इस हादसे में एक मासूम गंभीर रूप से घायल है। मृतकों के साथ करीब सात लोग और थे जो पुल के नीचे कूद गए। लेकिन, उनका अभी तक पता नहीं चल पाया है। सभी मृतक गोपालगंज के थे।


    गुरुवार को 12 लोग यूनानी कॉलेज के सामने कर्बला मजार पर इबादत करने गए थे। रात को सभी वहीं रुके थे और शुक्रवार की सुबह ट्रेन पकड़ने के लिए रेल लाइन व पुल के सहारे कचहरी स्टेशन जा रहे थे। इसी बीच सीवान जंक्शन से ट्रेन आ गई। कुहासे के कारण दूर से ट्रेन दिखाई नहीं दी। नजदीक आ जाने पर पता चला और पांच लोग चपेट में आ गए। मृतकों में कुचायकोट के इन्द्रासन पंडित की 45 वर्षीया पत्नी सरस्वती देवी, एेनुल्लाह अंसारी की 40 वर्षीया पत्नी खुशबू निशा, बथुआ बाजार के मुस्तकीम अंसारी का पुत्र असलम, इन्दरवां बैरम के राजा हुसैन की पत्नी खतमुल निशा शामिल हैं। दो वर्षीय शमशेर को पीएमसीएच में भर्ती कराया गया है।

    हादसे के 15 मिनट बाद ही मौत की पटरी पर फिर चलने लगे लोग

    रेल पुल पर जहां हादसा हुआ, वहां से 15 मिनट बाद ही जान को जोखिम में डालकर लोगों ने आवाजाही शुरू कर दी। उस समय वहां राहत व बचाव कार्य जारी था और डीएम-एसपी समेत तमाम अफसर मौजूद थे। दरअसल ये लोग शौकिया अपनी जान को खतरे में नहीं डालते हैं। हकीकत यह है कि इनके पास विकल्प के तौर पर कोई दूसरा रास्ता ही नहीं है। इस इलाके के लोगों के लिए यह रेल लाइन ही आवागमन का एक मात्र साधन है।

    बेगूसराय में 3, सुल्तानगंज में एक और नालंदा में 2 लोगों की गई जान

    लौटते कोहरे का कहर शुक्रवार को पूरे सूबे में देखने को मिला। सड़क हादसे में अलग-अलग जगहों पर 6 लोगों की मौत हो गई। दो दर्जन से ज्यादा लोग घायल हो गए। बेगूसराय, मुंगेर और नालंदा में दुर्घटनाएं हुईं। बेगूसराय के तेघड़ा-बरौनी रोड पर सुबह 7:45 बजे भाग्य नारायण कन्या महाविद्यालय के समीप यात्रियों से भरे टेंपो को ट्रक ने सीधी टक्कर मार दी। इससे टेंपो पर सवार दो यात्रियों की मौत घटनास्थल पर हो गई। वहीं सात यात्री गंभीर रूप से घायल हो गए। घायलों में एक की मौत इलाज के दौरान हो गई। वहीं सुल्तानगंज में शुक्रवार की सुबह घने कोहरे के चलते यात्री बस व बांस लदे ट्रक की आमने-सामने टक्कर हो गई। इसमें बसचालक की मौत हो गई, जबकि 40 लोग जख्मी हो गए। इधर, नालंदा में हिलसा पभेड़ी मुख्य मार्ग पर यात्रियों से भरी एक मिनी बस गहरी खाई में पलट गई। हादसे में एक सेवानिवृत्त शिक्षक समेत दो लोगों की मौत हो गई।

    नालंदा के हिलसा में यात्रियों से भरी मिनी बस गहरी खाई में पलटी, 2 की मौत, 30 से अधिक जख्मी

    नालंदा के हिलसा थाना एरिया में शुक्रवार को दोपहर एक बजे के करीब यात्रियों से भरी मिनी बस 25 फीट गहरी नहर की खाई में जा गिरी। सूखी नहर में दो यात्रियों की मौत हो गई। 30 से अधिक लोग जख्मी हो गए। वाहन में फंसे यात्री चीख रहे थे। कुछ यात्री बस से दबे थे। ग्रामीण बिना समय गंवाए बचाव कार्य में जुट गए।


    सूचना के बाद पुलिस भी पहुंचकर बचाव कार्य में जुट गई। बस चिकसौरा से पभेड़ी जा रही थी उसी दौरान हादसा हुआ। मृतकों में चिकसौरा के दल्लू विगहा निवासी रिटायर्ड शिक्षक प्रसादी महतो और जमुआरा निवासी महेंद्र प्रसाद शामिल हैं। बाद में क्रेन बुलाकर बस को उठाया गया। तब जख्मी यात्रियों का निकाला जा सका। 30 जख्मी को इलाज के लिए हिलसा अस्पताल लाया गया, जहां से छह को पटना रेफर कर दिया गया।

    हादसे की खबर पाकर पहुंचे परिजन ढूंढ रहे थे अपनों को

    हादसे की खबर पाकर दर्जनों परिजन भी मौके पर पहुंच गए। चीख-पुकार के बीच परिजन अपनों को ढूंढ रहे थे। पुलिस व ग्रामीणों के सहयोग से जख्मी को वाहन से निकालकर खेत में रखा जा रहा था। मृतक के परिजन की चीत्कार भी मौके पर गूंज रही थी। कुछ जख्मी पटना निवासी है, कई की पहचान नहीं हो सकी है।

    कई बार पलटने के बाद बस सूखी नहर में जा गिरी

    यात्रियों से भरी देवराज मिनी बस चिकसौरा से पभेड़ी जा रही थी। उसी दौरान अनियंत्रित हो गई और कई बार पलटी खाने के बाद खाई में जा गिरी। कुछ यात्री बस से दबे थे। ग्रामीणों के सहयोग से मौके पर पहुंची पुलिस बचाव कार्य में जुट गई। क्रेन से बस को उठाया गया। इसके बाद वाहन से दबे जख्मियों को निकाला जा सका।

  • बिहार : कोहरे के चलते एक दिन में 10 लोगों की मौत, अलग-अलग शहरों में हुए ये हादसे
    +4और स्लाइड देखें
    सीवान में रेल पुल पर जहां हादसा हुआ, वहां से 15 मिनट बाद ही जान को जोखिम में डालकर लोगों ने आवाजाही शुरू कर दी।
  • बिहार : कोहरे के चलते एक दिन में 10 लोगों की मौत, अलग-अलग शहरों में हुए ये हादसे
    +4और स्लाइड देखें
    सीवान में हादसे के बाद पहुंची पुलिस और वहां जुटी भीड़।
  • बिहार : कोहरे के चलते एक दिन में 10 लोगों की मौत, अलग-अलग शहरों में हुए ये हादसे
    +4और स्लाइड देखें
    सीवान में रेल पुल पर जहां हादसा हुआ, वहां से 15 मिनट बाद ही जान को जोखिम में डालकर लोगों ने आवाजाही शुरू कर दी।
  • बिहार : कोहरे के चलते एक दिन में 10 लोगों की मौत, अलग-अलग शहरों में हुए ये हादसे
    +4और स्लाइड देखें
    नालंदा में यात्रियों से भरी मिनी बस गहरी खाई में पलट गई जिसमें दो लोगों की मौत हो गई।
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Patna

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×