Hindi News »Bihar »Patna» True Of Viral Video In Madhepura

पहले पीटा, फिर दोनों हाथ बांध थमाया कट्‌टा, कहा- ऐसा फोटो खींचो कि जमानत भी न हो

मधेपुरा के एसपी विकास कुमार ने कहा कि मैंने आज घटनास्थल पर जाकर मामले का जायजा लिया था। वहां अब स्थिति समान्य है।

Bhaskar News | Last Modified - Feb 10, 2018, 05:59 AM IST

    • मधेपुरा (बिहार).ग्वालपाड़ा थाना एरिया में गुरुवार को हुई मारपीट की घटना में गांववालों का अमानवीय चेहरा भी सामने आया। जब लोग हमलावरों को पकड़कर पीट रहे थे, तो किसी भी बाहरी व्यक्ति को रूकने नहीं दिया जा रहा था और न ही फोटो या रिकार्डिंग करने दिया जा रहा था, बावजूद किसी ने चोरी-छिपे उस घटना का वीडियो रिकार्डिंग कर लिया। यह साफ हो रहा है कि या तो पीड़ित राजेश कामत के कमर में कट्टा देकर उसे फंसाया गया या फिर साक्ष्याें के साथ छेड़छाड़ की गई।

      क्या दिख रहा वायरल वीडियो में

      - वीडियो में साफ दिख रहा है चौक पर मजमा लगा हुआ है। पिटाई से राजेश कामत का शरीर सूज गया है। राजेश कामत के चारों ओर लोगों की भीड़ लगी हुई।

      - उसके दोनों हाथ नायलॉन की रस्सी से बंधे हुए हैं और हाथ में कट्टा है। भीड़ से कोई कहता है कि उसके कमर में कट्टा डाल।

      - एक युवक राजेश के हाथ से कट्टा लेकर उसके कमर में डाल देता है। फिर कुछ लोग आपस में कहते हैं कि फोटो खींच कर रख।

      - ऐसा मामला बनाना है कि इसका जमानत ही न हो। इसके बाद भीड़ के आदेश पर कुछ लड़के बाइक पर डंडा मारने लगते हैं।

      स्थिति नियंत्रण में होने के बावजूद गांव में बनी है तनाव की स्थिति


      - घटना में अरविंद यादव, मो. राहत अनवर अली और राजेश कामत ने अलग-अलग तीन केस दर्ज कराया है। स्थिति नियंत्रण में होने के बावजूद गांव में तनाव जारी है।

      - इसे देखते हुए किसी भी स्थिति से निबटने के लिए गांव में एक सेक्शन फोर्स तैनात कर दिया गया है। थानाध्यक्ष अनंत कुमार ने कहा कि मामले में अनुसंधान शुरू कर दिया है। जो भी सच है वह सबके सामने आएगा।

      - तीन पक्षों ने आवेदन दिया है, जिसके आधार पर प्राथमिकी दर्ज की गई है। इस मामले में राजेश कामत अौर खोखशी चौक पर पंचर बनाने वाले रामविलास को शुक्रवार को जेल भेज दिया गया।

      चौक पर वर्चस्व को लेकर तनाव की चर्चा, थानाध्यक्ष ने किया इनकार

      - गांव में राजनीति भी शुरू है। इस मामले में यह चर्चा भी अंदर ही अंदर चल रही है कि घटना का मूल कारण कुछ और भी हो सकता है।

      - चर्चा तो यह भी है कि चौक पर वर्चस्व को लेकर भी दो गुटों में तनाव है। हालांकि, थानाध्यक्ष ने इससे इनकार किया।

      - उन्होंने कहा कि फिलहाल ऐसी कोई सूचना नहीं है। पुलिस इस मामले की सही तरीके से जांच कर रही है।

      पुलिस आई तो राजेश के कमर में फंसा मिला कट्टा

      - पुलिस अफसर सुरेश प्रसाद सिंह का कहना है कि वे लोग जब गुरुवार को घटनास्थल पर पहुंचे, तो राजेश सड़क पर बेहोश पड़ा था। उसके कमर में कट्टा था।

      - राजेश के खिलाफ जो केस दर्ज दर्ज कराया गया है, उसमें भी लिखा गया है कि राजेश के साथ कुछ अज्ञात गांववालों ने मारपीट भी की और उसकी कमर में कट्टा था।

      - इस घटना में आठ बाइक को भी क्षतिग्रस्त कर दिया गया। दूसरी ओर, राजेश का कहना है कि वह टेंपो से आ रहा था। चौक पर मारपीट हो रही थी, तो वह भी उतरकर भागने लगा। इतने में लोग उसे भी हमलावर समझ कर पीटने लगे। होश आया तो वो ग्वालपाड़ा अस्पताल में था।

      दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी, निर्दोष नहीं फंसेगा

      - एसडीपीओ अरुण कुमार दुबे का कहना है कि मामला शांत हो गया है। मामले में तीन केस दर्ज किया गया है। घटना की जांच चल रही है। सच्चाई सामने आएगी। दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी, निर्दोष नहीं फंसेगा।
      - वहीं मधेपुरा के एसपी विकास कुमार ने कहा कि मैंने आज घटनास्थल पर जाकर मामले का जायजा लिया था। वहां अब स्थिति समान्य है। मामले में तीन केस दर्ज किया गया है, जबकि दो आरोपित को गिरफ्तार किया गया है। सभी पहलुओं की जांच की जा रही है।

    • पहले पीटा, फिर दोनों हाथ बांध थमाया कट्‌टा, कहा- ऐसा फोटो खींचो कि जमानत भी न हो
      +3और स्लाइड देखें
    • पहले पीटा, फिर दोनों हाथ बांध थमाया कट्‌टा, कहा- ऐसा फोटो खींचो कि जमानत भी न हो
      +3और स्लाइड देखें
    • पहले पीटा, फिर दोनों हाथ बांध थमाया कट्‌टा, कहा- ऐसा फोटो खींचो कि जमानत भी न हो
      +3और स्लाइड देखें
    आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
    दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

    More From Patna

      Trending

      Live Hindi News

      0

      कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
      Allow पर क्लिक करें।

      ×